ताज़ा खबर
 

Lok Sabha Election 2019: राजग का कुनबा बढ़ाने की कोशिश में भाजपा

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): राजग के अभिन्न सहयोगी शिव सेना ने हाल में नाराजगी जताई थी। शिव सेना के नेताओं के साथ भाजपा के आला नेताओं की कई दौर की बातचीत विभिन्न मुद्दों पर हुई है। कैबिनेट के स्वरूप को लेकर भी बातचीत हो रही है।

Author Published on: May 22, 2019 1:39 AM
भाजपा अध्यक्ष अमित शाह (फाइल फोटो)

पंकज रोहिला

Lok Sabha Election 2019: नतीजा पूर्व सर्वे में बढ़त के संकेतों से उत्साहित भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में कुनबा बढ़ाने की कोशिश तेज कर दी है। राजग के कई सदस्यों को जोड़े रखने के लिए भाजपा के नेता बातचीत कर रहे हैं। साथ ही, नए दोस्तों की भी तलाश चल रही है। भाजपा के वरिष्ठ नेताओं का कहना है कि राष्टÑीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) को जितना हो सके, मजबूत किया जाएगा। इस काम के लिए भाजपा के विभिन्न स्तर के नेता देश भर में भेजे गए हैं।

पहले राजग का हिस्सा रहे जो दल रूठ गए, उन्हें मनाने के लिए संपर्क साधा गया है। ऐसे दलों के नेताओं में ओड़ीशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक (बीजद) और आंध्र प्रदेश में जगनमोहन रेड््डी के नाम शामिल हैं। इसी प्रकार तेलंगाना में चंद्रशेखर राव व तमिलनाडु में एडीएमके के नेताओं से बातचीत चल रही है।  राजग के अभिन्न सहयोगी शिव सेना ने हाल में नाराजगी जताई थी। शिव सेना के नेताओं के साथ भाजपा के आला नेताओं की कई दौर की बातचीत विभिन्न मुद्दों पर हुई है। कैबिनेट के स्वरूप को लेकर भी बातचीत हो रही है।

नेताओं का दावा है कि कई ऐसी पार्टियों से भी बात की गई है, जो अभी अपने दल का नाम सार्वजनिक नहीं करना चाह रहे हैं। लोकसभा चुनाव परिणाम के बाद ये दल एनडीए के समर्थन में खुलकर सामने आएंगे। इनमें विभिन्न राज्यों के कई छोटे-छोटे दल हैं। ऐसे में एनडीए के सदस्यों की संख्या चुनाव नतीजों के बाद बढ़ सकती है।

भाजपा की अगुआई में राजग सरकार बनने की स्थिति में कैबिनेट के चेहरों को लेकर उठापटक तेज हो गई है। भाजपा के वरिष्ठ नेताओं के मुताबिक, इस बार के कैबिनेट में देश वासियों को नए व युवा चेहरे अधिक नजर आएंगे। अनुमान लगाया जा रहा है कि मौजूदा कैबिनेट के 30 से 40 फीसद चेहरे बदले जा सकते हैं। मौजूदा मंत्रियों की तरफ से भी कैबिनेट से संबंधित संकेत आने शुरू हो गए हैं। हाल ही में केंद्रीय रेल मंत्री पियूष गोयल ने सोशल मीडिया के जरिए रेल मंत्रालय की भविष्य की परियोजनाओं को साझा किया है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को कैबिनेट में महत्त्वपूर्ण जिम्मेदारी दिए जाने की चर्चा है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Lok Sabha Election 2019: आयोग ने नेताओं से ही जांच कराई, पाई हरी झंडी
2 नतीजों से पहले बीजेपी दफ्तर में जुटा ‘मोदी मंत्रिमंडल’, एनडीए नेताओं को अमित शाह का ‘रात्रि भोज’
3 केवल यूपी में चुनावी ड्यूटी पर थे बीजेपी के 40 लाख लोग, दिल्‍ली के बूथ पर आप, कांग्रेस के पोलिंग एजेंट तक नदारद