ताज़ा खबर
 

गूगल पर ऐड देने में भी बीजेपी नंबर 1, करीब एक महीने में ही खर्च दिए सवा करोड़, कांग्रेस क्षेत्रीय दलों से भी पीछे

Election 2019: गूगल ऐड पर बीजेपी ने सबसे ज्यादा पैसे खर्च किए हैं। बीजेपी ने अकेले 32 फीसदी हिस्सा खर्च किया है। जबकि, कांग्रेस का हिस्सा मात्र 0.14 फीसदी है। गूगल पर विज्ञापन देने वालों में क्षेत्रीय दल कांग्रेस से काफी आगे हैं।

गूगल पर विज्ञापनों के खर्च के मामले में बीजेपी सबसे टॉप पर है। फोटो सोर्स: एक्सप्रेस आर्काइव)

गूगल पर विज्ञापन देने वाले राजनीतिक दलों में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सबसे टॉप पर है। गूगल पर दिखने वाले कुल राजनीतिक विज्ञापनों में 32 फीसदी हिस्सा अकेले बीजेपी का है। इसके मुकाबले कांग्रेस 0.14 फीसदी के साथ छठे पायदान पर है। इंडियन ट्रांसपैरेंसी रिपोर्ट के मुताबिक 19 फरवरी, 2019 तक तमाम राजनीतिक दल और उनसे जुड़े संगठनों ने कुल 3.76 करोड़ रुपये विज्ञापनों पर खर्च किए हैं। इनमें बीजेपी ने अकेले गूगल पर दिखने वाले विज्ञापनों के लिए 1.21 करोड़ रुपये खर्च कर दिए हैं।

गूगल पर विज्ञानों के लिए खर्च के मामले में कांग्रेस का पलड़ा बीजेपी से काफी कमजोर है। कांग्रेस ने सिर्फ 54,100 रुपये खर्च किए हैं। गौर करने वाली बात यह है कि बीजेपी के बाद सबसे ज्यादा गूगल पर खर्च में जगन रेड्डी (आंध्र प्रदेश) की वाईएसआर कांग्रेस पार्टी है। जगन की पार्टी ने 1.04 करोड़ रुपये गूगल के विज्ञापनों पर खर्च किए हैं। इसके अलावा पम्मी साई चरण रेड्डी नाम से एक विज्ञापनदाता ने गूगल पर वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार के लिए 26,400 रुपये खर्च कर डाले हैं।

प्रमाण्य स्ट्रैटेजी कंसल्टिंग प्राइवेट लिमिट नाम से भी गूगल के जरिए विज्ञापनों पर 85.25 लाख रुपये खर्च किए हैं। यह विज्ञापनदाता ने आंध्र के ही चंद्र बाबू नायडू की पार्टी टीडीपी के लिए विज्ञापन पर पैसा लगाया है। टीडीपी पर खर्च होने वाला पैसा कुल तीसरे स्थान पर है। यहीं नहीं डिजिटल कंसल्टिंग प्राइवेट लिमिटेड के नाम से भी टीडीपी और चंद्र बाबू नायडू के लिए गूगल पर विज्ञापन चलाए गए हैं। इस फर्म ने भी 63.43 लाख रुपये खर्च किए हैं। इस दौरान गूगल ने अपनी विज्ञापन नीति के उल्लंघन के मामले में 11 राजनीतिक दलों से जुड़े विज्ञापनदाताओं को ब्लॉक भी कर दिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App