ताज़ा खबर
 

बीजेपी को नहीं बहुमत का यकीन! राम माधव ने कहा- पार्टी को हो सकती है सहयोगियों की जरूरत

ब्लूमबर्ग को दिए इंटरव्यू में राम माधव ने कहा है कि इस लोकसभा चुनाव में बीजेपी बहुमत से पीछे रह सकती है। उन्होंने कहा है, "अगर हम अपने दम पर 271 सीटें हासिल कर लेते हैं तो यह हमारे लिए खुशी की बात होगी।"

Ram Madhav, BJPबीजेपी महासचिव राम माधव। फोटो सोर्स : इंडियन एक्सप्रेस

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए पांच चरणों का मतदान संपन्न हो चुका है। अब सिर्फ दो ही चरणों के मतदान बाकी हैं। लेकिन, इस बीच बीजेपी के कद्दावर नेता और जनरल सेक्रेटरी राम माधव ने एक ऐसा बयान दिया है, जिससे पार्टी के प्रमुख चेहरे नरेंद्र मोदी और अमित शाह के पूर्ण बहुमत के दावे पर सवालिया निशान लग रहे हैं। ब्लूमबर्ग को दिए इंटरव्यू में राम माधव ने कहा है कि इस लोकसभा चुनाव में बीजेपी बहुमत से पीछे रह सकती है। उन्होंने कहा है, “अगर हम अपने दम पर 271 सीटें हासिल कर लेते हैं तो यह हमारे लिए खुशी की बात होगी।” इंटरव्यू में राम माधव ने एनडीए को पूर्ण बहुमत मिलने का भरोसा जरूर दिलाया।

राम माधव ने कहा कि उत्तर भारत में 2014 लोकसभा चुनाव के दौरान भारी समर्थन हासिल करने वाली बीजेपी को इस बार नुकसान तय है। लेकिन, इसकी भरपाई पश्चिम बंगाल, ओडिशा और उत्तर-पूर्व के राज्यों से होगी। माधव ने कहा कि अगर बीजेपी की सरकार दोबारा सत्ता में आती है, तो वह आर्थिक सुधार की दिशा में चल रहे कार्यों को और गति देगी।

विदेश नीति के मसले पर राम माधव ने कहा कि पीएम मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच अच्छे संबंध ने हमारी विदेश नीति को काफी बल दिए हैं। वहीं, चीन के सीपेक (बेल्ड एंड रोड परियोजना) परियोजना पर बीजेपी नेता ने कहा कि जब तक संप्रभुता का मुद्दा हल नहीं होता, तब तक किसी भी तरह का समझौता मुमकिन नहीं है। उन्होंने कहा कि चीन ने इस परियोजना एकतरफा तौर पर शुरू किया है। गौरतलब है कि चीन एक व्यापारिक कॉरिडोर का निर्माण कर रहा है और पाकिस्तान में बेल्ट रूट का काम भी चल रहा है। भारत की परेशानी यह है कि इसमें पाकिस्तान के अलावा पाक अधिकृत कश्मीर का भी हिस्सा इसमें शामिल किया गया है। इस परियोजना पर 60 बिलियन डॉलर का निवेश किया जा रहा है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Loksabha Election 2019: सोनिया के खिलाफ उतरे बीजेपी प्रत्याशी बोले- इटली में संपत्ति और घर तो वहीं से चुनाव लड़ें
2 Loksabha Election 2019: मायावती का प्रधानमंत्री बनने का इशारा, कहा- सब कुछ सही रहा तो अंबेडकर नगर से लड़ूंगी चुनाव
3 Loksabha Election 2019: कपिल सिब्बल ने माना काग्रेस को बहुमत नहीं, राहुल को PM कैंडिडेट घोषित नहीं करने की बताई वजह
ये पढ़ा क्या?
X