ताज़ा खबर
 

समधी लालू की सीट से चंद्रिका राय ने किया नामांकन, फिर दामाद पर बोला हमला- तेज प्रताप ने मूर्ख बनाया

चंद्रिका राय ने कहा कि 'तेज प्रताप ने 1 अप्रैल यानि कि मूर्ख दिवस के दिन सारण से चुनाव लड़ने का ऐलान किया था और अब नामांकन का वक्त खत्म होने को है, लिहाजा आप लोग समझ जाइए कि तेज प्रताप ने आप लोगों को मूर्ख बनाया है।'

Author Published on: April 17, 2019 11:11 AM
तेज प्रताप यादव और उनके ससुर चंद्रिका राय। (image source-pti/facebook)

लालू प्रसाद यादव के समधी चंद्रिका राय ने मंगलवार को बिहार की सारण लोकसभा सीट से अपना नामांकन दाखिल किया। बता दें कि लालू प्रसाद यादव के बेटे और चंद्रिका प्रसाद के दामाद तेज प्रताप यादव सारण से चंद्रिका राय को टिकट दिए जाने से नाराज थे और उन्होंने भी सारण सीट से चुनाव लड़ने का ऐलान किया था। हालांकि नामांकन की आखिरी तारीख 16 अप्रैल थी और तेज प्रताप यादव ने आखिरी तारीख तक भी इस सीट से नामांकन नहीं किया। चंद्रिका राय के नामांकन के बाद जब पत्रकारों ने उनसे तेज प्रताप यादव के बागी तेवरों के बारे में सवाल किया तो उन्होंने इस पर चुटकी लेते हुए कहा कि तेज प्रताप यादव ने आप लोगों को मूर्ख बनाया।

चंद्रिका राय ने कहा कि ‘तेज प्रताप ने 1 अप्रैल यानि कि मूर्ख दिवस के दिन सारण से चुनाव लड़ने का ऐलान किया था और अब नामांकन का वक्त खत्म होने को है, लिहाजा आप लोग समझ जाइए कि तेज प्रताप ने आप लोगों को मूर्ख बनाया है।’ उल्लेखनीय है कि तेज प्रताप यादव की शादी बीते साल चंद्रिका राय की बेटी ऐश्वर्या से हुई थी। हालांकि शादी के कुछ समय बाद ही तेज प्रताप ने तलाक की अर्जी कोर्ट में डाल दी थी। इसके चलते तेज प्रताप का परिवार भी उनसे नाराज बताया जा रहा है।

सारण को राजद के दबदबे वाली सीट माना जाता है। खुद लालू प्रसाद यादव और राबड़ी देवी भी इस सीट से चुनाव लड़ चुके हैं। चंद्रिका राय सारण से ही आते हैं और इस इलाके में उनका अच्छा खासा प्रभुत्व भी है। बिहार में गठबंधन के बीच हुए सीट बंटवारे के तहत सारण सीट राजद के खाते में गई है और पार्टी ने चंद्रिका राय को यहां से टिकट दिया है। बीते लोकसभा चुनाव में भाजपा के केन्द्रीय मंत्री राजीव प्रताप रूडी यहां से चुनाव जीते थे। इस बार भी भाजपा ने राजीव प्रताप रूडी को सारण सीट से अपना उम्मीदवार बनाया है। ऐसे में इस सीट पर मुकाबला रोचक होने की उम्मीद है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Lok Sabha Election 2019: आयकर विभाग के छापे पर कनिमोझी ने जताई नाराजगी, कहा- हमें चुनाव जीतने से कोई नहीं रोक सकता
2 Lok Sabha Election 2019: यह चुनाव राम और रावण, गोडसे और गांधी के बीच है : सिद्धू
3 Lok Sabha Election 2019: सपा-बसपा गठबंधन ने अब तक सिर्फ 10 मुसलमानों को दिया टिकट, अकेले लड़ने पर उतारे थे तीन गुने मुस्लिम प्रत्याशी
जस्‍ट नाउ
X