ताज़ा खबर
 

Bihar Elections से रखा मीसा को दूर, पर बर्थडे सेलिब्रेशन में बहन के हाथों खाया केक, तेजस्वी ने फैमिली संग यूं मनाया जन्मदिन

इस दौरान मां राबड़ी, भाई तेज प्रताप और बहन मीसा मौजूद थे। घर के कई बच्चे भी इस बीच वहां थे, जिन्होंने मीसा के साथ राजद नेता को केक खिला खुशी जाहिर की।

Bihar Elections 2020, Bihar Elections, Bihar, Patna, Tejashwi Yadav Birthdayबहन के हाथों केक खाते और भाई तेज प्रताप को केक खिलाते हुए तेजस्वी यादव। (फोटोः ANI)

Bihar Elections 2020 के नतीजों से एक दिन पहले सोमवार (9 नवंबर) को Rashtriya Janata Dal (RJD) के नेता तेजस्वी यादव का जन्मदिन मनाया गया। फैमिली के साथ बेहद सादे और सधे अंदाज में तेजस्वी ने घर पर बर्थडे का जश्न मनाया। इस दौरान मां राबड़ी, भाई तेज प्रताप और बहन मीसा मौजूद थे। घर के कई बच्चे भी इस बीच वहां थे, जिन्होंने मीसा के साथ राजद नेता को केक खिला खुशी जाहिर की।

दरअसल, चारा घोटाले से जुड़े मामले को लेकर पिता और राजद संरक्षक लालू यादव फिलहाल जेल में हैं। ऐसे में RJD ने आठ नवंबर को ट्वीट कर सूचित किया था कि सभी शुभचिंतकों और समर्थकों से विनम्र अनुरोध है कि तेजस्वी के जन्मदिन को सादगी से मनाने के निजी निर्णय का सम्मान करते हुए आप घर पर ही रहे और आवास आकर व्यक्तिगत रूप से बधाई देने से बचें। 10 को मतगणना के लिए अपनी सजग उपस्थिति क्षेत्र में बनाए रखें।

वैसे, तेजस्वी की पार्टी का कहना है कि वह उनके जन्मदिन को युवा दिवस के तौर पर मनाती आई है। युवा RJD प्रवक्ता अरुण कुमार यादव ने पत्रकारों को इस बाबत बताया, “इस साल भी पहले जैसा उत्साह है। तेजस्वी नहीं चाहते कि जन्मदिन के बहाने मतगणना से पहले गैर-जरूरी तौर पर लोग सड़कों पर निकल कर उत्साह मनाएं। ऐसे में पार्टी नेतृत्व ने कार्यकर्ताओं से आग्रह किया कि वे उनके जन्मदिन को बेहद सादगी से मनाएं।”

अरुण ने दावा किया तेजस्वी स्वयं जन्मदिन पर किसी प्रकार का बड़ा तामझाम नहीं करेंगे। ऐसे में राबड़ी देवी के आवास पर आकर किसी को बधाई देने की जरूरत नहीं है। वोटिंग के दिन लोग अपने इलाकों में रहें।

बता दें कि लालू की सबसे बड़ी संतान मीसा भारती को इस चुनाव में राजद की ओर से स्टार कैंपेनर की भूमिका दी गई थी, पर असल मैदान छोटे बेटे तेजस्वी मार ले गए। ऐसा इसलिए भी क्योंकि तेजस्वी ने चुनाव प्रचार में खुद को पूरी ताकत झोंकी पर, बहन और बड़े भाई को इलेक्शन से दूर रखा।

हमारे सहयोगी अखबार ‘द इंडियन एक्सप्रेस’ में छपी वरिष्ठ पत्रकार और स्तंभकार कूमी कपूर की ‘टिप्पणी’ के मुताबिक, मीसा को चुनाव के दौरान दिल्ली में या पटना में परिवार के साथ रहने की सलाह दी गई थी, जबकि तेज अपने चुनावी इलाके तक सीमित रहे। ऊपर से राजद के पोस्टर बैनरों में भी लालू और राबड़ी गायब रहे। नजर आए, तो सिर्फ और सिर्फ तेजस्वी।

हालांकि, तेजस्वी के जन्मदिन पर उनके कुनबे को जुटता देखकर कई चुनावी जानकारे इसे राजद नेता की बिहार चुनाव परिणाम से पहले की ताजपोशी की तैयारी के तौर पर देखते नजर आए। गौरतलब है कि चुनावी एग्जिट पोल्स में तेजस्वी के नेतृत्व वाले गठबंधन को बहुमत मिलता दिख रहा है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Bihar Elections 2020: RJD से लड़ने वाले अनंत सिंह जेल में, पर परिणाम से पहले घर पर लगा बड़ा शामियाना, 10 हजार लोगों के महाभोज का बंदोबस्त
2 Birthday Special: तीसरे भाई की जब उड़ी थी अफवाह, तब तेजस्वी यादव ने उठाया था राज से पर्दा, जानें किस्सा
3 By-Election Results 2020: यूपी, मध्य प्रदेश से गुजरात तक उपचुनावों में बीजेपी की जोरदार जीत, जानें- कहां क्या हाल
यह पढ़ा क्या?
X