ताज़ा खबर
 

Bihar Elections 2020: इधर तेजस्वी यादव ने PM से दागे 11 सवाल, उधर नरेंद्र मोदी बोले- सामने हैं डबल युवराज, एक जंगलराज के

पीएम मोदी के मुताबिक, "3-4 साल पहले यूपी के चुनाव में भी डबल-डबल युवराज बस के ऊपर चढ़कर लोगों के सामने हाथ हिला रहे थे। यूपी की जनता ने वहां उन्हें घर लौटा दिया था।"

Author Edited By अभिषेक गुप्ता पटना/छपरा | Updated: November 1, 2020 11:27 AM
Bihar Elections 2020, Bihar Elections, Narendra Modi, BJP, NDA राजद नेता तेजस्वी यादव ने पत्रकारों से यह भी कहा, “नीतीश ने एक फ़रमान जारी किया है, जिसमें सरकारी कर्मचारियों को 50 साल की उम्र में रिटायरमेंट देने की बात कही गई है। खुद 70 से ज़्यादा के हो गए हैं, लेकिन इस बार जनता उन्हें रिटायर करने जा रही है। हमारी सरकार बनेगी तो रिटायरमेंट की उम्र को बढ़ाएंगे।”

Bihar Elections 2020: पूर्व डिप्टी सीएम और RJD नेता तेजस्वी यादव ने रविवार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से 11 सवाल पूछे हैं। एक फेसबुक पोस्ट के जरिए उन्होंने ये सवाल दागे। तेजस्वी ने कहा, “विश्वास है कि पीएम सकारात्मकता के साथ केवल और केवल बिहार और बिहारवासियों के जीवन और बेहतरी से संबंधित ज्वलंत मुद्दों, समस्याओं और उनके कार्यकाल में हुए निवारण पर ही अपनी राय रखेंगे। मैं उनसे बिहार की बेहतरी और विकास से जुड़े निम्नलिखित सवाल पूछना चाहता हूं, क्योंकि उनके अधीन नीति आयोग की रिपोर्ट के अनुसार बिहार शिक्षा, स्वास्थ्य के सभी मानकों और सत्तत विकास सूचकांक में सबसे फिसड्डी है।”

ये हैं तेजस्वी के 11 सवालः

1. प्रधानमंत्री जी बताएँ कि नल जल योजना पर लगातार शोर मचाने वाली बिहार की डबल इंजन सरकार कुल बजट का केवल 4% ही जल आपूर्ति व सैनिटेशन पर क्यों खर्च करती है? और उस 4% का भी 70 फ़ीसदी हिस्सा भ्रष्टाचार की भेंट क्यों चढ़ जाता है?

2. प्रधानमंत्री जी बताएँ कि देश के सबसे गरीब राज्यों में से एक बिहार में कुपोषण व भुखमरी पर कुल बजट का 2% से भी कम क्यों खर्च होता है? 15 वर्ष से एनडीए सरकार रहने के बावजूद भी बिहार में कुपोषण व भुखमरी क्यों है?

3. प्रधानमंत्री जी बताएँ कि बिहार के युवाओं को P.hD Engineering, MBA, MCA करने के बाद भी चपरासी और माली बनने के लिए फॉर्म क्यों भरना पड़ता है?

4. प्रधानमंत्री जी बताए कि बिहार बेरोजगारी का केंद्र क्यों है और बिहार में ड़बल इंजन सरकार में रिकॉर्डतोड़ बेरोजगारी दर 46.6% क्यों है?

5. प्रधानमंत्री जी बताएँ कि जून में उनके द्वारा घोषित गरीब कल्याण रोजगार अभियान का लाभ लॉकडाउन में बिहार लौटे श्रमवीरों को क्यों नहीं मिला? क्यों बिहार के श्रमवीर वापस दूसरे राज्य पलायन करने को मजबूर हुए?

6. प्रधानमंत्री जी बताएँ मनरेगा योजना के अंतर्गत करवाए गए कार्यों का भुगतान श्रमवीरों को पिछले 4 महीने से क्यों नहीं किया गया है? कौन दोषी है- केंद्र या राज्य?

7. प्रधानमंत्री जी बताएँ कि गरीब कल्याण रोजगार अभियान के अंतर्गत बिहार के सर्वाधिक जिलों (84% अथवा 32 जिलों) को डालने के बावजूद भी बिहार के श्रमवीरों की सबसे दयनीय दशा क्यों है?

8. प्रधानमंत्री जी बताएँ कि अप्रैल से अगस्त के बीच कुल 11 लाख परिवारों को जॉब कार्ड जारी किए जाने के बावजूद बिहार में केवल 2,132 परिवार ही 100 कार्य दिवस पूरी कर पाए? ऐसा क्यों?

9. प्रधानमंत्री जी बताएँ कि एनडीए की नीतीश सरकार अपने कुल बजट का केवल 2% ही महादलितों पर क्यों खर्च करती है?

10. प्रधानमंत्री जी बताए कि 2015 में उनके द्वारा घोषित 1 लाख 65 हज़ार करोड़ के विशेष पैकेज की कितनी राशि बिहार को प्राप्त हुई और उसका कितना प्रतिशत विकास कार्यों पर खर्च हुआ? अगर पूर्ण राशि जारी नहीं हुई तो उसका ज़िम्मेवार कौन?

11. प्रधानमंत्री जी बताए कि ड़बल इंजन सरकार होने के बावजूद भी 2014 में किए गए उनके वादानुसार अभी तक बिहार को विशेष राज्य का दर्जा क्यों नहीं मिला है?

नीतीश पर क्या बोले तेजस्वी?: राजद नेता ने पत्रकारों से यह भी कहा, “नीतीश ने एक फ़रमान जारी किया है, जिसमें सरकारी कर्मचारियों को 50 साल की उम्र में रिटायरमेंट देने की बात कही गई है। खुद 70 से ज़्यादा के हो गए हैं, लेकिन इस बार जनता उन्हें रिटायर करने जा रही है। हमारी सरकार बनेगी तो रिटायरमेंट की उम्र को बढ़ाएंगे।” तेजस्वी ने यह बातें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रविवार को बिहार में होने वाली चार जनसभाओं (छपरा, समस्तीपुर, पूर्वी चंपारण और पश्चिमी चंपारण में) से पहले कहीं।

मोदी ने तेजस्वी के बहाने राहुल से लेकर अखिलेश तक को लपेटाः उधर, छपरा में जन सभा के दौरान पीएम मोदी ने कहा- पहले चरण में लोगों ने भारी मतदान किया। पहले चरण के मतदान का जो विश्लेषण किया गया है उससे साफ नजर आ रहा है कि नीतीश कुमार के नेतृत्व में NDA की सरकार दोबारा बन रही है।

बकौल मोदी, “आज बिहार के सामने एक तरफ डबल इंजन की सरकार है तो दूसरी तरफ डबल-डबल युवराज हैं और एक तो जंगलराज के युवराज भी हैं। डबल इंजन वाली NDA सरकार बिहार के विकास के लिए प्रतिबद्ध है और ये डबल-डबल युवराज अपने-अपने सिंहासन को बचाने की लड़ाई लड़ रहे हैं।”

उनके मुताबिक, “3-4 साल पहले यूपी के चुनाव में भी डबल-डबल युवराज बस के ऊपर चढ़कर लोगों के सामने हाथ हिला रहे थे। यूपी की जनता ने वहां उन्हें घर लौटा दिया था। वहां के एक युवराज अब जंगलराज के युवराज से मिल गये हैं। यूपी में जो डबल-डबल युवराज का हुआ, वो ही बिहार में होगा।”

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बिहार चुनाव: तेजस्वी ने तोड़ा लालू का रिकॉर्ड, एक दिन में 19 सभाएं; पिता से अलग छवि भी गढ़ रहे
2 Bihar Elections 2020: RJD कैंप की टू-डू-लिस्ट में नंबर-1 पर रोजगार का मुद्दा, पर कहां से आया था तेजस्वी को 10 लाख नौकरी का आइडिया? जानें
3 Bihar Elections 2020: EVM और VVPAT के जरिए कैसे दिया जाता है वोट? जानें प्रक्रिया
यह पढ़ा क्या?
X