ताज़ा खबर
 

दादा के श्राद्ध के 5 साल बाद पिता की अस्थि ले पैतृक गांव पहुंचे चिराग पासवान, कहा- सरकार में नहीं थे, इसलिए शहरबन्नी का विकास नहीं हुआ

चिराग के पिता का श्राद्ध कार्यक्रम 20 अक्टूबर को पटना में होगा। सभी राजनीतिक दलों के नेताओं और रामविलास के परिचितों को निमंत्रण भेजा गया था।

Bihar Elections 2020, Bihar Elections, LJP, Chirag Paswanपिता के निधन के बाद रविवार को LJP चीफ ने अपनी दाढ़ी और बाल मुंडवाए थे। (फाइल फोटोः पीटीआई)

Bihar Elections 2020 से पहले LJP चीफ चिराग पासवान सोमवार को अपने पैतृक गांव पहुंचे। वह दादा के श्राद्ध कर्म के करीब पांच साल बाद पिता रामविलास पासवान की अस्थियां लेकर खगड़िया स्थित गांव गए थे, जबकि कोसी में उन्होंने अस्थि विसर्जन किया। एलजेपी प्रमुख ने कहा- चुनावी परिणामों के बाद स्पष्ट हो जाएगा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ जनाक्रोश है। सूबे विभिन्न संकटों से जूझ रहा है। शहरबन्नी का विकास नहीं हो पाया, क्योंकि हम सरकार में नहीं थे।

उनके मुताबिक, “17-19 का कार्यकाल छोड़ दें, तो उसके बाद हमें सरकार में रहने का मौका ही नहीं मिला। पापा के जाने के बाद मैं अकेला पड़ गया हूं और कांधे पर पड़ी जिम्मेदारी आ गई है।” चिराग ने इसी के साथ दावा किया कि अगर बिहार में भाजपा और लोजपा की सरकार आई, तब ‘सात निश्चय योजना’ की जांच कराई जाएगी। चिराग के पिता का श्राद्ध कार्यक्रम 20 अक्टूबर को पटना में होगा। सभी राजनीतिक दलों के नेताओं और रामविलास के परिचितों को निमंत्रण भेजा गया था।

रामविलास पासवान का हुआ नाम, पर शहरबन्नी हुआ बदनाम

पटना में मंगलवार के समारोह के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा और अन्य राजनीतिक नेताओं को निमंत्रण भेजा गया है। बिहार सीएम नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, विपक्षी महागठबंधन में शामिल राजद की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राबड़ी देवी, उनके बेटे तेजस्वी यादव, कांग्रेस नेताओं सहित अन्य दलों के नेताओं को निमंत्रण भेजा गया।

‘कुर्सी के खेल में पिछले 5 साल ‘साहब’ ने बिहारियों के किए बर्बाद’: चिराग ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से पिछले पांच साल में किये गए कार्यों का ब्योरा मांगते हुए आरोप लगाया कि सिर्फ़ कुर्सी के खेल में पिछले 5 साल ‘साहब’ ने बिहारियों के बर्बाद किये। उन्होंने ट्वीट में कहा, ‘‘नीतीश कुमार के पिछले 5 साल के कार्यकाल को देख कर आने वाले 5 साल की कल्पना की जा सकती है। बिहार को अगर इस बेबसी से निकलना है, तो ज़रूरत है कड़े कदम उठाने की।’’ उन्होंने कहा, ‘‘जद (यू) को दिया गया एक भी वोट, कल बिहार को बर्बाद कर देगा। #असम्भवनीतीश।’’

लोजपा अध्यक्ष ने एक अन्य ट्वीट में लोगों से कहा कि कोई भी विधायक, मंत्री या खुद नीतीश कुमार वोट माँगने आएं तो उनसे पूछिए कि पिछले 5 साल में क्या किया है। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार जी से पूछिए कि सात निश्चय में कौन-कौन से वादे पूरे किए गए। मुख्यमंत्री पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि पिछले 5 साल के कार्यकाल पर कुछ नहीं बोलना एक फ़रेब है और बिहार की जनता को जानबूझ के पिछले 5 साल के कार्यों के बारे में नहीं बताया जा रहा है। पिछले 5 साल में बिहार में अफ़सरों का राज रहा है और सात निश्चय में से कोई भी निश्चय पूरा नहीं हुआ।

राम विलास पासवान से भी अमीर हैं उनके बेटे चिराग, अब पिता छोड़ गए इतनी प्रॉपर्टी

LJP को ‘वोटकटआ’ कहने पर BJP नेताओं पर क्या बोले?: लोजपा अध्यक्ष ने भाजपा के कुछ नेताओं द्वारा उनकी पार्टी के लिये ‘वोटकटआ’ शब्द का इस्तेमाल करने को लेकर नाखुशी व्यक्त करते हुए कहा कि ऐसा बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को खुश करने के लिये किया जा रहा है । चिराग ने दावा किया कि लोक जनशक्ति पार्टी बिहार चुनाव में जदयू से ज्याद सीटें जीतेगी। चिराग ने कहा, ‘‘ मुझे दुख है कि लोजपा के खिलाफ वोटकटआ शब्द का इस्तेमाल किया जा रहा है । उन्हें बुद्धिमता का प्रदर्शन करते हुए सिर्फ किसी को खुश करने के लिये ऐसे शब्दों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।’’ (भाषा इनपुट्स के साथ)

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 जमुई सीट पर मतों के बिखराव से रोचक हुआ मुकाबला
2 15 साल से डायनासोर सरकार, बलात्कार का कारखाना खोल बैठे नीतीश कुमार- डिबेट में अतिउत्साहित हो ‘ज्ञान’ देने लगे RJD नेता, देखें फिर क्या हुआ?
3 Bihar Elections 2020: ‘मोदी-नीतीश की जय-जयकार, पर बाकी सब बेरोजगार हैं’, डबल इंजन सरकार पर डिबेट में भड़कने लगा युवक
आज का राशिफल
X