ताज़ा खबर
 

नीतीश के CM बनने से पहले 2 डिप्टी सीएम पर जदयू ने तोड़ी चुप्पी, बोले केसी त्यागी – BJP किसी को भी कर दे मनोनित हमें कोई दिक्कत नहीं..

एंकर ने डिबेट में मौजूद जदयू के नेता केसी त्यागी से पूछा कि दो-दो उप मुख्यमंत्री रख रहे हैं, यूपी की तरह, कहीं ऐसा तो नहीं कि इनको लग रहा है कि मुख्यमंत्री का वादा पहले कर दिया था तो जो डिप्टी मिलने वाला है उसमें दो-दो कर लें..दोनों हाथ में लड्डू?

केसी त्यागी ने कहा कि बीजेपी

बिहार में सोमवार को नीतीश कुमार सीएम पद की शपथ लेंगे। अब कई मीडिया रिपोर्ट्स में राज्य में 2 डिप्टी सीएम की बातें कही जा रही हैं। डिप्टी सीएम को लेकर चल रहे सस्पेंस पर जनता दल यूनाइटेड के नेता केसी त्यागी ने चुप्पी तोड़ी है। केसी त्यागी ने ‘आज तक’ पर डिबेट के दौरान कहा कि बीजेपी किसी को भी मनोनित कर दे हमें कोई दिक्कत नहीं है।

दरअसल चैनल पर डिबेट के दौरान एंकर अंजना ओम कश्यप ने पहले बीजेपी के नेता से पूछा कि ‘बिहार में यूपी वाला मॉडल, दो-दो उपमुख्यमंत्री। बीजेपी को भी एहसास हो चला है कि डबल इंजन की सफलता हमें करनी है तो पूरी ताकत हमें झोंकनी होगी। 19 लाख की नौकरी का अवसर वाला मुद्दा पीछा करेगा?

इसपर बीजेपी के सांसद सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि ‘हमने जो 19 लाख अवसर वाली बात कही है उसे हम यथार्थ कर दे दिखाएंगे,,,जहां तक सरकार के गठन, उसके प्रारुप और किसको क्या दायित्व मिलेगा…इन सब चीजों की बात है तो हमारे यहां दायित्व का परिवर्तन सहज औऱ स्वभाविक प्रक्रिया है। पार्टी का शीर्ष नेतृत्व परिस्थिति, कार्यकर्ताओं की निष्ठा और गुणवत्ता को देख कर निर्णय लेगा और जो भी निर्णय होगा आपको बता दिया जाएगा।’

इसके बाद एंकर ने डिबेट में मौजूद जदयू के नेता केसी त्यागी से पूछा कि दो-दो उप मुख्यमंत्री रख रहे हैं, यूपी की तरह, कहीं ऐसा तो नहीं कि इनको लग रहा है कि मुख्यमंत्री का वादा पहले कर दिया था तो जो डिप्टी मिलने वाला है उसमें दो-दो कर लें..दोनों हाथ में लड्डू?

इसपर केसी त्यागी ने कहा कि जब तक आधिकारिक तौर पर कोई घोषणा नहीं हो जाती तब तक जिस जिम्मेदारी को लेकर चर्चा हो रही है उसके निर्वाहक को लेकर कोई टिप्पणी नहीं करूंगा..जब तक 1 या 2 लोगों के डिप्टी सीएम के बनने पर मुहर नहीं लग जाती तब तक उसपर टिप्पणी करना सार्थक नहीं होगा। भारतीय जनता पार्टी अपने कोटे से किसको जिम्मेदारी सौंपती है यह उनका अपना अंदर का मामला है।

15 साल तक हमने सुशील मोदी जी के साथ भी काम किया है..दोनों मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के काफी सौहार्दपूर्ण रिश्ते रहे और कैबिनेट में प्राथमिकता या अन्य सवालों को लेकर कभी मतभेद नहीं रहा..दोनों 74 के आंदोलन से निकले बेहतरीन नौजवान नेता रहे हैं…दोनों को साथ करने का अनुभव है…लेकिन भारतीय जनता पार्टी का ये लोकतांत्रिक मामला है कि वो किसको जिम्मेदारी सौंपते हैं…हमें किसी भी बीजेपी के द्वारा मनोनित नेता के साथ काम करने में कोई दिक्कत नहीं है, सहजता के साथ सब लोग जिम्मेदारी को निभाएंगे।

बता दें कि राज्य में सुशील कुमार मोदी के डिप्टी सीएम बनने के अलावा कामेश्वर चौपाल के नाम की चर्चा है। हालांकि अभी तक इस संबंध में एऩडीए की तरफ से कुछ भी नहीं कहा गया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Bihar Election 2020: नीतीश कुमार पहली और दूसरी बार कब CM बने?, पढ़ें
2 बिहारः JDU चीफ नीतीश कुमार चुने गए NDA विधायक दल के नेता, 7वीं बार लेंगे CM पद की शपथ
3 तेजस्वी के डिप्टी सीएम के ऑफर पर बोले मुकेश सहनी- पहले पीठ में छुरा घोंपा और अब…
ये पढ़ा क्या?
X