ताज़ा खबर
 

Bihar Elections 2020: ‘लालू स्कूल ऑफ मनी ग्रोइंग’ को ले बोले जेडीयू नेता- 2 लाख कमाने वाला करोड़ों का कर्ज दे रहा

अजय आलोक ने कहा कि 'बिहार के डेढ़ करोड़ मुसलमानों में उन्हें ऐसा ही मुसलमान मिला, जिसे ये लोग अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से इंपोर्ट कराकर लाए।

tejashwi yadav bihar election 2020 rjd jdu nitish kumarजदयू ने तेजस्वी यादव पर गंभीर आरोल लगाए हैं। (एक्सप्रेस फोटो)

बिहार चुनाव में इन दिनों ‘जिन्ना’ का मुद्दा छाया हुआ है। दरअसल कांग्रेस ने दरभंगा की जाले सीट से मशकूर उस्मानी को अपना उम्मीदवार बनाया है। बता दें कि मशकूर उस्मानी उस वक्त विवादों में आए थे, जब साल 2018 में अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के यूनियन हॉल में लगी जिन्ना की तस्वीर हटाने को लेकर विवाद हुआ था। मशकूर उस्मानी ने जिन्ना की तस्वीर ना हटने देने की बात कही थी। जिसके बाद उनकी छवि जिन्ना समर्थक के तौर पर बनायी गई थी। अब जब कांग्रेस ने उस्मानी को विधानसभा का टिकट दिया है तो उसी विवाद को आधार बनाकर भाजपा और जदयू कांग्रेस समेत पूरे महागठबंधन को निशाने पर ले रही है।

विभिन्न टीवी चैनल्स के डिबेट कार्यक्रम में भी ये मुद्दा छाया हुआ है। आज तक टीवी चैनल पर हुई डिबेट में भी इस पर बात हुई। डिबेट के दौरान राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने भाजपा और जदयू पर बिहार चुनाव को मुख्य मुद्दों से भटकाने का आरोप लगाया। राजद प्रवक्ता के आरोपों का जवाब देते हुए जदयू प्रवक्ता अजय आलोक ने ‘लालू स्कूल ऑफ मनी ग्रोइंग’ का शिगूफा छेड़ दिया। राजद प्रवक्ता के आरोपों पर अजय आलोक ने कहा कि ‘जिन्ना को चुनाव में हम लेकर आए हैं क्या?’

अजय आलोक ने कहा कि ‘बिहार के डेढ़ करोड़ मुसलमानों में उन्हें ऐसा ही मुसलमान मिला, जिसे ये लोग अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से इंपोर्ट कराकर लाए और जो राजीव गांधी फाउंडेशन में काम करता था। जिस पर देशद्रोह के आरोप भी लगे। अब कांग्रेस पार्टी और जदयू का खुद ही मन है कि अपने ताबूत में आखिरी कील खुद ही ठोकनी है तो हम कैसे रोक लेंगे उनको।’

इसके बाद लालू स्कूल ऑफ मनी ग्रोइंग के बारे में बोलते हुए अजय आलोक ने कहा कि “तेजस्वी यादव ने नामांकन भरते हुए जो हलफनामा दिया है, 2 लाख रुपए प्रति वर्ष कमाने वाला व्यक्ति, एक कंपनी को एक करोड़ से ज्यादा का कर्ज दिया और एक अन्य कंपनी को 4 करोड़ रुपए का कर्ज दिया। ये कैसे हो रहा है हमें समझ नहीं आ रहा है!”

डिबेट के दौरान भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा भी मौजूद थे। इस दौरान उन्होंने तेजस्वी यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि “जिस तरह से तेजस्वी क्रिकेट के मैदान में 12वें खिलाड़ी थे, उसी तरह से चुनाव के मैदान में भी वह मैदान के बाहर ही रहेंगे और मैदान में बल्लेबाजी के लिए उतर ही नहीं पाएंगे। संबित पात्रा ने कहा कि 15 साल से हमने जो राजनीति कि पिच पर सुशासन और विकास का खूंटा गाड़ा हुआ है, उसे इनका खिलाड़ी उखाड़ नहीं सकता।”

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 क्या है MY फॉर्म्युला और Bihar Elections में कितना रखता है मायने? समझिए
2 Bihar Elections 2020: दिल में मोदी को रखने वाले बोले चिराग- नीतीश के दबाव में हैं PM, इसलिए CM के साथ कर रहे रैलियां
3 Bihar Elections 2020: बाहरी नहीं, बिहारी हूं- बोले शत्रुघ्न के बेटे, बैंक बैलेंस 26 लाख और 2 लाख रखते हैं कैश; जानें कैसा रहा लव सिन्हा का सियासत तक का सफर
यह पढ़ा क्या?
X