ताज़ा खबर
 

धार्मिक भावना भड़काने के आरोप में राहुल गांधी के खिलाफ कोर्ट में शिकायत, बढ़ सकती हैं मुश्किलें

इन सभी पर आरोप है कि इन्होंने जगह-जगह ऐसे पोस्टर लगाए, जिनमें प्रभु श्री राम के रूप में राहुल गांधी को दर्शाया गया।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी। (फोटोः PTI)

लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं। शुक्रवार (एक फरवरी, 2019) को बिहार में उनके खिलाफ धार्मिक भावनाएं भड़काने का आरोप लगा। पटना सिविल कोर्ट में इसी को लेकर राहुल, बिहार कांग्रेस प्रमुख मदन मोहन झा और चार अन्य के खिलाफ शिकायत दर्ज करा दी गई। इन सभी पर आरोप है कि इन्होंने जगह-जगह ऐसे पोस्टर लगाए, जिनमें प्रभु श्री राम के रूप में राहुल गांधी को दर्शाया गया।

पोस्टर में सबसे ऊपर कांग्रेस पार्टी जिंदाबाद लिखा था, जबकि बीच में संसद के बैकग्राउंड पर प्रभु श्री राम के फोटो पर राहुल का चेहरा नजर आ रहा था। राहुल के फोटो के ठीक नीचे लिखा था, ‘वे राम जपते रहे, तुम बनकर राम जियो रे!’। पास में मां और यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी, बहन प्रियंका वाड्रा, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह और पार्टी के अन्य क्षेत्रीय नेताओं की तस्वीरें नजर आ रही थीं।

दरअसल, पटना के गांधी मैदान में रविवार (तीन फरवरी, 2019) को जन आकांक्षा रैली है। यह पोस्टर उसी से संबंधित था, जिसमें नीचे कार्यक्रमस्थल और समय की जानकारी दी गई थी। सूत्रों के हवाले से कुछ रिपोर्ट्स में कहा गया कि पटना में राहुल की रैली को लेकर कांग्रेस खासा उत्साहित है। वजह- सूबे में काफी सालों बाद कांग्रेस अपने बलबूते पर किसी रैली का आयोजन करेगी। यही वजह है कि पटना भर में जगह-जगह इससे जुड़े बैनर और पोस्टर नजर आए।

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल और प्रदेश उपाध्यक्ष सम्राट चौधरी ने इसी को लेकर तंज कसा। उन्होंने कहा- एक तरफ बीजेपी प्रभु श्री राम और राम मंदिर को लेकर जंग लड़ रही है। राम पर बीजेपी का हक कांग्रेस ने कैसे ले लिया?

जवाब में कांग्रेस के एमएलसी प्रेम चंद्र मिश्रा ने राहुल को मर्यादा पुरुषोत्तम राम जैसा बताया। कहा कि इसी वजह से हर कोई (अन्य विपक्षी दल) कांग्रेस अध्यक्ष के साथ है। उनके मुताबिक, ताजा पोस्टरों में कुछ भी गलत नहीं है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App