ताज़ा खबर
 

बीजेपी को असम में तगड़ा झटका, पार्टी छोड़ सांसद बोले- ‘घुसपैठिए आ गए हैं’

तेजपुर सांसद ने लिखा कि "मैंने आज भाजपा छोड़ दी। मुझे भाजपा के पुराने कार्यकर्ताओं के लिए दुख हो रहा है, जिन्हें पार्टी के नए घुसपैठियों के चलते उपेक्षा का शिकार होना पड़ रहा है।"

Author Published on: March 16, 2019 2:23 PM
तेजपुर से मौजूदा सांसद राम प्रसाद सरमा। (image source- youtube/video grab image)

आगामी लोकसभा चुनावों को देखते हुए भारतीय जनता पार्टी को उत्तर पूर्वी राज्य असम में बड़ा झटका लगा है। दरअसल असम के तेजपुर से मौजूदा सांसद और पार्टी के पुराने नेताओं में शुमार किए जाने वाले राम प्रसाद सरमा ने शनिवार को भाजपा की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। इस्तीफा देने के बाद राम प्रसाद सरमा ने सोशल मीडिया पर पोस्ट लिखकर अपना दर्द साझा किया और आरोप लगाया कि भाजपा में नए घुसपैठिए आ गए हैं और इसके चलते पार्टी के पुराने कार्यकर्ताओं की उपेक्षा की जा रही है। अपनी पोस्ट में राम प्रसाद सरमा ने लिखा कि आरएसएस और विश्व हिंदू परिषद की 15 साल और भाजपा की 29 साल तक सेवा करने के बाद वह पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है।

अपनी फेसबुक पोस्ट में तेजपुर सांसद ने लिखा कि “मैंने आज भाजपा छोड़ दी। मुझे भाजपा के पुराने कार्यकर्ताओं के लिए दुख हो रहा है, जिन्हें पार्टी के नए घुसपैठियों के चलते उपेक्षा का शिकार होना पड़ रहा है।” बता दें कि राम प्रसाद सरमा का नाम तेजपुर लोकसभा सीट के संभावित उम्मीदवारों की लिस्ट में शामिल नहीं किया गया है। असम सरकार में मंत्री और NEDA के संयोजक हिमंत बिस्वा सरमा का नाम ही तेजपुर सीट के लिए आगे किया गया है। राम प्रसाद सरमा के पार्टी छोड़ने के फैसले को इसी से जोड़कर देखा जा रहा है। असम की 14 लोकसभा सीटों के लिए भाजपा शनिवार को अपने उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर सकती है।

सरमा ने अपनी एक अन्य पोस्ट में कहा कि ‘मुझे काफी अपमान महसूस हो रहा है कि मेरा नाम, एक मौजूदा सांसद और असम गोरखा सम्मेलन के अध्यक्ष का नाम प्रदेश भाजपा कमेटी की लिस्ट में शामिल नहीं किया गया।’ हालांकि सरमा ने कहा कि वह आगे भी अपने संसदीय क्षेत्र के लोगों की सेवा करना आजीवन जारी रखेंगे। सरमा का आरोप है कि पार्टी के पुराने कार्यकर्ताओं ने, जिन्होंने दशकों तक संघर्ष किया और पार्टी को सत्ता में लेकर आए, अब उन्हीं की सबसे ज्यादा उपेक्षा की जा रही है और उनके साथ सही व्यवहार नहीं किया जा रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Uttarakhand: राहुल की मौजूदगी में कांग्रेस से जुड़े पूर्व CM बीसी खंडूरी के बेटे, गढ़वाल से बन सकते हैं लोकसभा उम्मीदवार
2 Lok Sabha Election 2019: प्रयागराज से BJP सांसद श्यामाचरण गुप्ता सपा में शामिल, बांदा से लड़ेंगे चुनाव
3 Lok Sabha Election 2019: राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाने के लिए मंदिरों के चक्‍कर काट रहे हैं एमपी के यह मंत्री
ये पढ़ा क्‍या!
X