ताज़ा खबर
 

असमः भाजपा प्रत्याशी के वाहन में मिली थी ईवीएम, चुनाव आयोग ने रद्द कर दिया मतदान, चार अधिकारी निलंबित

असम के राताबारी में एक वाहन में ईवीएम मिली थी। बाद में पता चला कि वाहन भाजपा प्रत्याशी की थी। चुनाव आयोग ने संज्ञान लेते हुए बूथ नंबर 179 पर दोबारा मतदान करवाने का फैसला किया है।

Assam assembly election 2021, assam election 2021, India news, India News Hindi, Priyanka Gandhi Vadraप्राइवेट कार में वोटिंग मशीन ईवीएम मिलने के बाद चुनाव को रद्द कर दिया गया है। (file)

असम में करीमगंज में भारतीय जनता पार्टी (BJP) प्रत्याशी और मौजूदा विधायक कृष्णेंदु पॉल की गाड़ी में ईवीएम मशीन पाय जाने के बाद बवाल मच गया है। चुनाव आयोग ने इसपर कड़ी कार्यवाही करते हुए संबंधित बूथ पर हुए चुनाव को रद्द कर दिया गया है। इतना ही नहीं आयोग ने चार अधिकारियों को भी निलंबित किया है।

असम के राताबारी में पोलिंग स्टेशन नंबर 179 पर मतदान रद्द कर दिया गया है और दोबारा मतदान करवाया जाएगा। चुनाव आयोग ने इस मामले को लेकर केस दर्ज करवाया है और मामले की जांच के आदेश भी दिए हैं। चुनाव आयोग ने जिला निर्वाचन अधिकारी से विस्तृत रिपोर्ट मांगी है। सफ़ेद रंग की इस बोलेरो कार में ईवीएम रखे होने का वीडियो सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहा है। कांग्रेस के कई नेताओं ने इसपर कड़ी से कड़ी कार्यवाही करने की मांग की थी।

वीडियो वायरल होने के बाद असम प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रिपुन बोरा ने ईवीएम मिलने की घटना पर चुनाव आयोग से इस मामले में तुरंत कार्रवाही करने की मांग की है। इसके अलावा कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी ट्वीट कर चुनाव आयोग से कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है।

प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर लिखा था कि “हर बार निजी गाड़ियों में ईवीएम ले जाने के वीडियो सामने आते हैं, उनमें कुछ चीजें कॉमन हैं। निजी गाड़ियां बीजेपी उम्मीदवारों और उनके सहयोगियों की होती हैं। वीडियो को घटना बताकर खारिज कर दिया जाता है। बीजेपी अपने मीडिया तंत्र का इस्तेमाल उन लोगों पर आरोप लगाने के लिए करती है, जिन्होंने वीडियो को उजागर किया। तथ्य यह है कि इस तरह के कई मामले सामने आ रहे हैं, लेकिन इनके बारे में कुछ नहीं किया जा रहा है।”

वीडियो सामने आने के बाद AIUDF के अध्यक्ष और सांसद मौलाना बदरुद्दीन अजमल ने भी इसे ट्वीटर पर शेयर किया। अजमल ने ट्वीट कर लिखा, “ध्रुवीकरण फेल, वोटों की खरीद फेल, प्रत्याशियों की खरीद फेल, जुमलेबाजी फेल, दोहरे सीएम फेल, सीएए पर दोहरी बातें फेल। हार चुकी बीजेपी के पास अब एक ही रास्ता बचा है, ईवीएम की चोरी। यह लोकतंत्र की हत्या है।

Next Stories
1 नंदीग्राम में ‘संग्राम’, शुभेंदु अधिकारी के काफिले पर हमला, पत्थरबाजी, ममता ने भाजपा पर लगाए आरोप
2 मौसम ने दिया धोखा तो राहुल गांधी ने गमछा से दिया असम के वोटर्स को संदेश
3 कांग्रेस, डीएमके को मोदी की चेतावनी, अपने नेताओं को कंट्रोल में रखें, ए राजा के बयान पर कहा- ये सत्ता में आए तो करेंगे कई महिलाओं की INSULT
ये पढ़ा क्या?
X