ताज़ा खबर
 

मतदान के बीच अखिलेश यादव का आरोप- या तो ईवीएम खराब हो रहे या बीजेपी को पड़ रहे वोट

आम आदमी पार्टी का आरोप है कि मॉक पोल के दौरान वोट भाजपा को ट्रांसफर हो रहे हैं। अरविंद केजरीवाल ने इसे लेकर ट्वीट भी किया है।

अखिलेश यादव ने ईवीएम की गड़बड़ी पर उठाए सवाल। (express photo)

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मंगलवार को आरोप लगाया कि पूरे भारत में ईवीएम या तो गड़बड़ हैं या फिर भाजपा के पक्ष में वोट डाल रही हैं। अखिलेश ने चुनाव आयोग को टैग करते हुए ट्वीट किया, “पूरे भारत में ईवीएम या तो खराब हैं या फिर भाजपा के लिए वोट कर रही हैं ।” उन्होंने कहा कि “जिलाधिकारी कहते हैं कि निर्वाचन अधिकारी ईवीएम परिचालन की दृष्टि से प्रशिक्षित नहीं हैं । साढ़े तीन सौ से अधिक ईवीएम बदली जा रही हैं।” सपा प्रमुख ने कहा कि “यह चुनावी प्रक्रिया के लिहाज से आपराधिक लापरवाही है, वह चुनावी प्रक्रिया, जिस पर 50 हजार करोड़ रूपये खर्च हो रहे हैं।” उत्तर प्रदेश में दस सीटों के लिए तीसरे चरण के तहत आज मतदान हो रहा है।

बता दें कि केरल, असम और उत्तर प्रदेश में कुछ जगहों पर ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायत सामने आयी है। इन गड़बड़ी पर अखिलेश यादव ने अपने एक बयान में कहा कि यदि आज के डिजिटल भारत में इतनी ज्यादा गड़बड़ियां हों तो इससे शक होता है। अखिलेश यादव ने कहा कि वह चुनाव आयोग से अपील करते हैं कि वह इस पर ध्यान दे और इसकी जांच कराए। वहीं दूसरी तरफ आम आदमी पार्टी ने भी ईवीएम में गड़बड़ी का आरोप लगाया है। आप ने गोवा में मॉक पोल के दौरान यह आरोप लगाया। आम आदमी पार्टी का आरोप है कि मॉक पोल के दौरान वोट भाजपा को ट्रांसफर हो रहे हैं। अरविंद केजरीवाल ने इसे लेकर ट्वीट भी किया है।

आंध्र प्रदेश के सीएम और तेदेपा चीफ चंद्रबाबू नायडू भी इससे पहले खराब ईवीएम का मुद्दा उठा चुके हैं। दूसरे चरण के तहत आंध्र प्रदेश में हुए मतदान के दौरान चंद्रबाबू नायडू ने ईवीएम में खराबी के आरोप लगाए। नायडू ने कहा कि “यह एक बहुत बड़ा मजाक है, राष्ट्र के लिए आपदा है। मैं कह सकता हूं कि यह बहुत बड़ा भ्रम है, बड़ी गड़बड़ है। चंद्रबाबू नायडू ने चुनाव आयोग की कार्यप्रणाली पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि आपने लोकतंत्र का मजाक बना रखा है? चुनाव आयोग भाजपा के शाखा कार्यालय में बदल गया है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App