ताज़ा खबर
 

भाजपा ने नियमित करने के नाम पर रेहड़ी-पटरी वालों को लूटा: आप

आप ने वादा किया कि नगर निगम की सत्ता पर काबिज होते ही वह रेहड़ी-पटरी वालों को जल्द से जल्द योजनाबद्ध तरीके से नियमित करेगी।

Author नई दिल्ली | April 17, 2017 2:57 AM
(आप नेता दिलीप पांडे)

आम आदमी पार्टी (आप) ने भाजपा पर रेहड़ी-पटरीवालों को नियमित करने का झांसा देकर लूटने का आरोप लगाया है और कहा है कि उनसे इस नाम पर 1.31 करोड़ रुपए भी वसूले, लेकिन किया कुछ नहीं। इसके साथ ही आप ने वादा किया कि नगर निगम की सत्ता पर काबिज होते ही वह रेहड़ी-पटरी वालों को जल्द से जल्द योजनाबद्ध तरीके से नियमित करेगी।  रविवार को एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए आप दिल्ली के संयोजक दिलीप पांडे ने कहा कि भाजपा ने साल 2007 में रेहड़ी-पटरी वालों से यह वादा किया था कि उन्हें सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देशों के आधार पर नियमित किया जा रहा है, जिसके एवज में भाजपा ने दिल्ली के 1,31,807 रेहड़ी-पटरी वालों से 100-100 रुपए लेकर फॉर्म भरवाए गए, जिसकी पहली सरकारी अधिसूचना 7 अगस्त 2007 को आई और दूसरी 1 नवंबर 2007 को यानी उसके तीन महीने बाद। अधिसूचना में कहा गया कि तीन तरह के फॉर्म भरने होंगे जिसमें फॉर्म ए नए सड़क विक्रेताओं के लिए होगा, फॉर्म बी साप्ताहिक बाजार के दुकानदारों के लिए होगा और फॉर्म सी नियमित तयबाजारी के तहत दुकान लगाने वालों के लिए होगा।

पांडेय ने कहा कि भाजपा ने 100-100 रुपए का शुल्क लिया, लेकिन उसके बाद किया कुछ नहीं, जबकि आज इन रेहड़ वालों की संख्या दोगुनी हो चुकी है। आप दिल्ली संयोजक ने कहा कि यह एक आर्थिक भ्रष्टाचार का मामला भी बनता है, क्योंकि वो 1.31 करोड़ रुपए कहां गए? उन्होंने कहा कि इस सवाल का जवाब निगम में बैठी भाजपा को देना होगा क्योंकि उसने गरीबी और अशिक्षा के शिकार रेहड़ी-पटरी वालों का फायदा उठाया। आप संयोजक ने इस मुद्दे में कांग्रेस को भी लपेटा और आरोप लगाया कि वह जब सत्ता में थी तो उसने भी नियमित करने के नाम पर 10-10 रुपए का फॉर्म भरवाया था और किया कुछ नहीं।आप ने रविवार को निगम चुनाव को लेकर जारी भाजपा के घोषणा पत्र पर भी पार्टी को आड़े हाथों लिया। पांडेय ने कहा कि 2007 के निगम चुनाव में भाजपा ने भी अपने घोषणा पत्र में गृह कर माफी का वादा किया था, लेकिन 10 साल तक निगम की सत्ता में रहने के बावजूद उसने कुछ नहीं किया। उन्होंने कहा अब जब आप ने गृह कर माफी की घोषणा की तो भाजपा संसद की मजबूरी बता कर जनता को गुमराह करने की कोशिश कर रही है।

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 एमसीडी चुनाव: बीजेपी ने जारी किया संकल्‍प पत्र, जीती तो देगी सामाजिक सुरक्षा कार्ड, घर-घर जाकर इकट्ठा करेगी कचरा
2 वीडियो: मीडिया पर भड़के अरविंद केजरीवाल, बोले-कल को कह दोगे पत्नी ने साधा मुझपर निशाना
3 चुनाव आयोग को ‘धृतराष्ट्र’ और बीजेपी को ‘दुर्योधन’ कहने पर अरविंद केजरीवाल के खिलाफ शिकायत दर्ज
ये पढ़ा क्या?
X