ताज़ा खबर
 

Lok Sabha Election 2019: तृणमूल की सूची में 41 फीसद महिला उम्मीदवार

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): पिछले लोकसभा चुनाव में तृणमूल ने 34 फीसद सीटों पर महिलाओं को टिकट दिया था। ममता बनर्जी ने कहा कि बंगाल की सभी सीटों के अलावा तृणमूल कांग्रेस ओडीशा, असम, झारखंड, बिहार और अंडमान में कुछ सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

Author Published on: March 13, 2019 2:29 AM
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (फोटो क्रेडिट/PTI)

Lok Sabha Election 2019: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस ममता बनर्जी ने मंगलवार को अपनी पार्टी के लोकसभा उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी। बंगाल की 42 सीटों के लिए घोषित उम्मीदवारों में 17 महिलाएं हैं। तृणमूल के 10 मौजूदा सांसदों को टिकट नहीं दिया गया है। इनमें से दो पहले ही भाजपा का दामन थाम चुके हैं।  कोलकाता में सूची जारी करते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि जिन सांसदों के नाम कटे हैं, उन्हें पार्टी के काम में लगाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि सूची में लगभग 41 फीसद (40.5 फीसद)उम्मीदवार महिलाएं हैं। पिछले लोकसभा चुनाव में तृणमूल ने 34 फीसद सीटों पर महिलाओं को टिकट दिया था। ममता बनर्जी ने कहा कि बंगाल की सभी सीटों के अलावा तृणमूल कांग्रेस ओडीशा, असम, झारखंड, बिहार और अंडमान में कुछ सीटों पर चुनाव लड़ेगी। उम्मीदवारों के नामों की घोषणा करते हुए ममता बनर्जी ने भाजपा नीत केंद्र सरकार पर तीखा हमला किया। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा काले धन के इस्तेमाल की तैयारी में है। बंगाल में बांटने के लिए हेलिकॉप्टरों और चार्टर्ड विमानों के जरिए धन पहुंचाया जा रहा है। उन्होंने रफाल सौदे, कृषि संकट और रोजगार के घटते अवसरों सहित विभिन्न मुद्दों पर केंद्र पर हमला किया।

तृणमूल कांग्रेस ने जिन महिलाओं को उम्मीदवार बनाया है, उनमें चार अभिनेत्रियां भी शामिल हैं। अभिनेत्री मुनमुन सेन को आसनसोल से, बांग्ला फिल्मों की अभिनेत्री नुसरत जहां को बशीरहाट से, शताब्दी रॉय को बीरभूम से और मिमि चक्रवर्ती को जाधवपुर से टिकट दिया गया है। शताब्दी रॉय बीरभूम से दो बार से सांसद हैं। तृणमूल कांग्रेस ने अपनी सूची में 15 नए चेहरे उतारे हैं। सात मौजूदा विधायकों और एक राज्यसभा सांसद को लोकसभा चुनाव के अखाड़े में उतारा गया है। सात मुसलिम उम्मीदवार हैं। ममता बनर्जी कैबिनेट के वरिष्ठ मंत्री सुब्रत मुखर्जी को भी चुनाव लड़ाया जा रहा है। नेताजी सुभाष चंद्र बोस के वंशज प्रोफेसर सुगत बोस इस बार चुनाव नहीं लड़ेंगे। ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी डायमंड हार्बर सीट से लड़ेंगे।

टिकटों के एलान के बाद ममता बनर्जी ने कहा कि ये लोकसभा चुनाव भाजपा के लिए ‘ताबूत में आखिरी कील’ साबित होंगे। तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ने कहा कि चुनावी लड़ाई ‘एकजुट भारत और कुछ अलग-थलग पड़े लोगों’ के बीच होगी। रफाल सौदे पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के आरोपों का समर्थन करते हुए ममता बनर्जी ने कहा, ‘राहुल गांधी राफेल घोटाले के बारे में जो कह रहे हैं उससे मैं पूरी तरह से सहमत हूं।’

मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार से पूछा कि रिजर्व बैंक की आपत्ति के बावजूद नोटबंदी क्यों की गई? बनर्जी ने कहा कि भाजपा विरोधी पार्टियों की गठबंधन सरकार नौकरियों के ज्यादा अवसर सृजित करेगी, जम्मू कश्मीर में शांति और स्थिरता लगाएगी और डर के माहौल से छुटकारा दिलाएगी।
उन्होंने कहा, ‘भाजपा चुनाव आयोग को प्रभावित करने की कोशिश कर रही है जैसे संवैधानिक निकाय सिर्फ उनका है। चुनाव आयोग हर पार्टी का है। उन्हें (चुनाव आयोग) विभिन्न सिनेमा हॉल में दिखाए जा रहे प्रधानमंत्री के विज्ञापनों के संबंध में कार्रवाई करनी चाहिए।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 करीब सात मिनट चली प्रियंका गांधी की पहली स्पीच, 10 प्वाइंट्स में पढ़ें बड़ी बातें
2 बाजार में कम हो रही है ‘मोदी जैकेट’ की डिमांड, महाराष्ट्र में काफी गिर गई है बिक्री
3 Lok Sabha Election 2019: बिहार में RLSP सांसद ने किया आचार संहिता का उल्लंघन, FIR दर्ज, देखें VIDEO
जस्‍ट नाउ
X