2019 Lok Sabha Election: सपा की चौथी कैंडिडेट लिस्ट जारी, मुलायम की छोटी बहू अपर्णा यादव को नहीं मिला टिकट

समाजवादी पार्टी की चौथी लिस्ट में गोंडा, बाराबंकी, कैराना और संभल शामिल हैं। गोंडा से विनोद कुमार, बाराबंकी से रामसागर रावत, कैराना से तबस्सुम हसन और संभल से शफीकुर रहमान बर्क को टिकट दिया गया।

aparna yadav
अपर्णा यादव ( फोटो सोर्स : इंडियन एक्सप्रेस )

Lok Sabha Election 2019 के लिए समाजवादी पार्टी की तरफ से उत्तर प्रदेश के प्रत्याशियों की एक और लिस्ट जारी कर दी गई है। इस लिस्ट के साथ ही पारिवारिक कलह नए सिरे से बढ़ सकता है। दरअसल इस सूची में संभल सीट से भी प्रत्याशी का नाम जारी किया गया है। यहां से शफीकुर रहमान बर्क को टिकट दिया गया है। इससे पहले खबरें आई थीं कि मुलायम सिंह की छोटी बहू अपर्णा यादव संभल से चुनाव लड़ना चाहती थीं, इसके लिए उन्होंने सपा संस्थापक से सिफारिश भी की थी। लेकिन उन्हें टिकट नहीं मिल सका।

नई लिस्ट में हैं ये चार नामः समाजवादी पार्टी की चौथी लिस्ट में गोंडा, बाराबंकी, कैराना और संभल शामिल हैं। गोंडा से विनोद कुमार, बाराबंकी से रामसागर रावत, कैराना से तबस्सुम हसन, गाजियाबाद से सुरेंद्र कुमार और संभल से शफीकुर रहमान बर्क को टिकट दिया गया। राज्य में सपा कुल 37 सीटों पर चुनाव लड़ रही है। अब तक पार्टी ने 17 नाम घोषित कर दिए हैं। इनमें मुलायम सिंह यादव (मैनपुरी), धर्मेंद्र यादव (बदायूं), अक्षय यादव (फिरोजाबाद), कमलेश कठेरिया (इटावा), भाईलाल कोल (रॉबर्ट्सगंज), शब्बीर वाल्मीकि (बहराइच), रामजी लाल सुमन (हाथरस), राजेंद्र एस बिंद (मिर्जापुर), डॉक्टर पूर्वी वर्मा (खीरी), उषा वर्मा (हरदोई) और डिंपल यादव (कन्नौज) शामिल हैं।
इनके अलावा एक नाम मध्य प्रदेश से भी शामिल है। मध्य प्रदेश की टीकमगढ़ लोकसभा सीट से पार्टी ने रतिराम बंसल को टिकट दिया है।

उल्लेखनीय है कि अखिलेश को कमान मिलने के बाद मुलायम परिवार में कई बार तनातनी हो चुकी है। पहले मुलायम सिंह के छोटे भाई शिवपाल यादव नाराज होकर अलग पार्टी बना चुके हैं। वे प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के तहत अपने उम्मीदवार उतारेंगे। पिछले लोकसभा चुनाव में सपा को राज्य की 80 में से महज 5 सीटें मिल पाई थीं। इसके बाद राज्य विधानसभा चुनाव में भी सपा के हाथ से सत्ता दूर चली गई।

पढें Elections 2021 समाचार (Elections News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
अखिलेश यादव की ‘वादाखिलाफी’ के विरोध में मदरसा शिक्षकों ने किया धरना-प्रदर्शनAkhilesh Yadav Uttar Pradesh CM
अपडेट