ताज़ा खबर
 

AAP से गठबंधन पर माथापच्ची के बीच सोनिया से मिलीं शीला दीक्षित, केजरीवाल से हाथ मिलाने पर असमंजस बरकरार

दिल्ली कांग्रेस के ज्यादातर नेता आम आदमी पार्टी से गठबंधन के खिलाफ हैं। दोनों पार्टियों को दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में फिर मुकाबला करना है, इसी के चलते पार्टी नेता गठबंधन पर राजी नहीं हैं।

Author March 10, 2019 10:04 AM
UPA chairperson sonia gandhi and delhi congress president sheila dikshit यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित फोटो सोर्सः इंडियन एक्स्प्रेस

मनोज सी जी, आस्था सक्सेना

2019 Lok Sabha Election से दिल्ली में सियासी लुका-छिपी का खेल जारी है। कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच गठबंधन को लेकर लगातार घटनाक्रम जारी है। शनिवार को इस संबंध में चर्चा के लिए दिल्ली की कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित ने यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी से बातचीत की। हालांकि शीला ने इसे सिर्फ व्यक्तिगत मुलाकात बताया लेकिन सूत्रों के हवाले से इंडियन एक्सप्रेस ने लिखा है कि कांग्रेस नेतृत्व फिलहाल अरविंद केजरीवाल की पार्टी से गठबंधन के फायदे-नुकसान का आकलन कर रहा है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक AICC के दिल्ली प्रभारी पीसी चाको गठबंधन के पक्ष में है, उन्होंने पिछले हफ्ते इस संबंध में सोनिया से मुलाकात भी की थी।

शनिवार को हुई इस मीटिंग से पहले शीला आम आदमी पार्टी से गठबंधन नहीं किए जाने का ऐलान कर चुकी है। शीला ने कहा था दिल्ली में कांग्रेस अकेले लोकसभा चुनाव लड़ेगी। दिल्ली कांग्रेस के ज्यादातर नेता गठबंधन के खिलाफ हैं। दोनों पार्टियों को दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में फिर मुकाबला करना है, इसी के चलते पार्टी नेता गठबंधन पर राजी नहीं।

ये कहा कमिटी के कार्यकारी अध्यक्ष नेः दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमिटी के कार्यकारी अध्यक्ष राजेश लिलोठिया ने कहा कि पार्टी गठबंधन के सिलसिले में पहले ही अपना रुख स्पष्ट कर चुकी है। बता दें कि शीला दीक्षित के आप से गठबंधन पर इनकार के बाद केजरीवाल ने कहा था कि कांग्रेस बीजेपी के साथ मिली हुई है। कांग्रेस के सूत्रों के मुताबिक दीक्षित और सोनिया गांधी ने मिलकर शनिवार को दिल्ली के सात निर्वाचन क्षेत्रों की कार्य समितियों और योजना के बारे में सोनिया से बात की।

 

राहुल सोमवार को एक बूथ-स्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे जिसके बाद उनके निर्वाचन क्षेत्रों के संभावित उम्मीदवारों के नामों को घोषित किए जाने की उम्मीद की जा रही है। दिल्ली कांग्रेस के एक नेता ने कहा, ‘गठबंधन को लेकर दिल्ली कांग्रेस द्वारा लिए गए निर्णय के बाद पार्टी कार्यकर्ता उत्साहित हैं। अधिवेशन के दौरान राहुल गांधी उन्हें प्रेरित करेंगे।’ सूत्रों के मुताबिक, AAP के वरिष्ठ नेता पिछले तीन महीनों से केंद्रीय कांग्रेस नेताओं के संपर्क में हैं। वहीं दिल्ली मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि लोकसभा चुनाव में भाजपा को हराने के लिए विपक्षी दलों को साथ आना चाहिए।

Next Stories
1 शिवपाल बोले- मेरे साथ हैं मुलायम, उनसे पूछकर ही बनाई नई पार्टी, अखिलेश से भी की थी बात
2 Lok Sabha Election 2019: आनंद शर्मा और जयराम रमेश के चलते भाजपा से पिछड़ी कांग्रेस, राहुल गांधी खफा!
3 चुनाव आयोग ने राजनीतिक दलों को दी नसीहत, कहा- अभियान के दौरान इस्तेमाल न करें सेना की तस्वीरें
चुनावी चैलेंज
X