ताज़ा खबर
 

2019 Lok Sabha Election: ममता बोलीं- 34 साल के CPM शासन को खत्म किया, 5 साल बाद मोदी सरकार को भी हटा दूंगी

2019 Lok Sabha Election: पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने कहा कि केंद्र सरकार के खिलाफ बोलने की वजह से उन्हें निशाना बनाया जा रहा है। साथ ही उन्होंने कहा वो राज्य की सभी सीटों पर जीत हासिल करेंगी।

ममता बनर्जी और पीएम मोदी फोटो सोर्स- फाइनेंसियल एक्सप्रेस

2019 Lok Sabha Election: पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर साधते हुए कहा कि एनडीए सरकार ने देश की अर्थव्यवस्था, विदेश नीति यहां तक की देश को भी बर्बाद करके रख दिया है। उन्होंने आरोप लगाया कि इस सरकार के दौरान नफरत का माहौल बढ़ा है। साथ ही कहा कि सोशल नेटवर्क में फेक चीजें भी बढ़ी है। केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए ममता ने कहा कि उनके ( पीएम मोदी) खिलाफ बोलने पर मुझे निशाना बनाया जा रहा है। इस दौरान उन्होंने कहा कि अगर हम 34 साल के सीपीएम के शासन को खत्म कर सकते हैं तो बीजेपी के पांच सालों के शासन को भी समाप्त कर देंगे।

दरअसल, हाल ही में सीबीआई और ममता बनर्जी सरकार के विवाद के बाद टीएमसी और बीजेपी के बीच काफी तल्खी का माहौल देखा गया था। इसके बाद सोमवार को बोलते हुए ममता ने बीजेपी पर तल्ख टिप्पणी करते हुए कहा कि इस समय देश को दो भाई जगाई और मधाई चला रहे है। साथ ही कहा, “अगर हम सीपीएम के 34 साल के शासन को खत्म कर सकते हैं, तो हम पांच साल पुरानी मोदी सरकार से भी छुटकारा पा सकते हैं।” एनडीटीवी के मुताबिक ममता ने अपने पार्टी को लोगों को कड़े अंदाज में कहा कि जब मैं यह कहती हूं कि बंगाल की 42 में 42 सीटें, तो समझो कि मैं 42 सीटें चाहती भी हूं। अगर आप सब यह नहीं कर सकते तो टीएमसी का मुद्दा क्या है?’ बताया जा रहा है कि हाल ही में ममता ने 2019 में बीजेपी खत्म का नारा दिया था।

 

इसके अलावा ममता बनर्जी ने 14 फरवरी को हुए आतंकी हमले में शहीद हुए 40 जवानों के मुद्दे पर भी मोदी सरकार पर सवाल खड़ा किया। उन्होंने कहा कि केंद्र को पुलवामा हमले की पूर्व जानकारी थी लेकिन हमले के समय पीएम मोदी कहां थे? बता दें कि हाल ही में कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि पुलवामा हमले के वक्त पीएम मोदी पुलवामा हमले के दौरान जिम कार्बेट में एक प्राइवेट फिल्म की शूटिंग में व्यस्त थे। हालांकि इसके बाद बीजेपी ने कांग्रेस पर पलटवार किया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App