ताज़ा खबर
 

2019 Lok Sabha Election: 90 करोड़ लोग देंगे वोट, डेढ़ करोड़ मतदाता 18-19 साल के

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने लोकसभा चुनाव 2019 के लिए तारीखों के ऐलान करने से पहले कहा कि इस बार 90 करोड़ मतदाता उम्मीदवारों की भाग्य का फैसला करेंगे। खास बात यह है कि डेढ़ करोड़ मतदाता 18-19 आयु वर्ग के हैं।

2019 lok sabha elections: मुख्य चुनाव आयुक्त ने सुनील अरोड़ा ने किया लोकसभा चुनाव के ऐलान फोटो सोर्स- ANI

2019 Lok Sabha Election के लिए चुनाव ने तारीखों का ऐलान करने से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने  चुनाव और मतदाताओं से जुड़ी कई अहम जानकारियां दी हैं। उन्होंने नए वोटर्स, पोलिंग बूथ और ईवीएम के साथ-साथ हेल्पलाइन नंबर आदि की भी जानकारी दी है।

नए वोटरः इस बार कुल 90 करोड़ मतदाता करेंगे उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला। 1.5 करोड़ मतदाता 18-19 साल के हैं। इनमें से अधिकांश पहली बार मतदान करेंगे। नए और युवा मतदाताओं पर सभी पार्टियों का फोकस होता है।

नौकरी पेशा वोटरः 1.6 करोड़ मतदाता नौकरी पेशा हैं। टैक्स पेयर होने के चलते इनमें से ज्यादातर देश की आर्थिक गतिविधियों से सीधे प्रभावित होते हैं।

पोलिंग बूथः 2014 के चुनाव में नौ लाख मतदान केंद्र थे, इस बार एक लाख बूथ बढ़ाए गए हैं। सभी पार्टियों का बूथ लेवल मैनेजमेंट पर खासा फोकस होता है।

बता दें कि दिल्ली के विज्ञान भवन में मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने तारीखों का ऐलान करते हुए कहा कि पिछले लोकसभा चुनाव के मुकाबले इस बार करीब 8.43 करोड़ मतदाता बढे हैं। इस बार देश भर में मतदान के लिए 10 लाख बूथ बनाए गए है। मुख्य चुनाव आयुक्त के साथ चुनाव आयुक्त अशोक लवासा और दूसरे चुनाव आयुक्त सुशील चंद्र भी मौजूद रहे। बता दें कि चुनाव की तारीखों के ऐलान के साथ ही पूरे देश में आचार संहिता लागू हो गई है। आचार संहिता को तोड़ने पर आयोग ने सख्त कार्रवाई के संकेत दिए है। इस बार सभी बूथों पर मतदान के लिए वीवीपैट का इस्तेमाल किया जाएगा। इसके अलावा आयोग ने रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक लाउडस्पीकर के प्रयोग पर रोक लगा दी है।

Next Stories
1 Lok Sabha Election 2019 Date: पहली बार होंगी ये बातें, 90 करोड़ लोग डालेंगे वोट, 23 मई को नतीजे
2 2019 Lok Sabha Election: टिकट देने से पहले बीजेपी अपने कैंडिडेट्स से पूछ रही है ये सवाल, क्षेत्र के शहीद का नाम भी बताना है
3 15 साल पहले रविवार को हुआ था लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान, पढ़ें डेढ़ दशक का इतिहास
ये पढ़ा क्या?
X