Yuvraj Singh: 6 गेंदों पर 6 छक्के और 12 बॉल पर अर्धशतक लगाने वाले युवराज सिंह ये यहां तक की है पढ़ाई

अंडर 19 वर्ल्डकप में बेहतरी प्रदर्शन की बदौलत युवराज सिंह को ICC नॉकआउट ट्रॉफी के लिए टीम इंडिया में जगह मिली। यहां से उन्होंने अपने इंटरनेशनल क्रिकेट की शुरूआत की और केन्या के खिलाफ पहला वनडे मैच खेला।

Yuvraj singh education, Yuvraj singh Age, Yuvraj singh wiki, Yuvraj singh Girlfriend, Yuvraj Singh retirementयुवराज सिंह ने भारत के लिए 40 टेस्ट, 304 वनडे और 58 टी 20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं।

युवराज सिंह खेल के मैदान में बल्ला तो अच्छा चलाते हैं लेकिन अंग्रेजी भी अच्छी बोलते हैं। हालांकि उन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट से पिछले साल सन्यास ले लिया है। क्या आप जातने हैं कि युवराज सिंह कहां तक पढ़े लिखे हैं। युवराज सिंह ने 12वीं तक पढ़ाई की है। उन्होंने चंडीगढ़ के डीएवी पब्लिक स्‍कूल से अपनी पढ़ाई की है। बचपन में युवराज सिंह को टेनिस और रोलर स्केटिंग जैसे खेलों में रुचि थी और वे इसमें काफी अच्छे भी थे। युवराज सिंह को 2011 में कैंसर हुआ था जिसके बाद उनका लंबे समय तक इलाज भी चला था। अब वह ठीक हैं।

युवराज सिंह को युवी भी बुलाते हैं। युवराज सिंह के पिताजी चाहते थे वह युवी एक अच्छे क्रिकेटर बनें। युवराज सिंह एक बार स्केटिंग में गोल्ड मेडल जीतकर लाए तो पिता ने उन्हें बधाई देने और हौसला बढ़ाने के बजाए उनका गोल्ड मेडल गले से उतारकर फेंक दिया और कहा कि आज के बाद तू सिर्फ क्रिकेट खेलेगा। युवराज सिंह के पिताजी ही उन्हें क्रिकेट सिखाते थे।

युवराज सिंह ने बचपन में एक फिल्म मेहंदी शगना दी में काम किया था इस फिल्म में उनके पिता ने भी एक रौल किया था। युवराज के पिता कई हिन्दी और पंजाबी फिल्मों में काम कर चुके हैं। भाग मिल्खा भाग फिल्म में युवराज सिंह ने कोच की भूमिका निभाई थी। युवराज सिंह ने भारत के लिए 40 टेस्ट, 304 वनडे और 58 टी 20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं।

अंडर 19 वर्ल्डकप में बेहतरी प्रदर्शन की बदौलत युवराज सिंह को ICC नॉकआउट ट्रॉफी के लिए टीम इंडिया में जगह मिली। यहां से उन्होंने अपने इंटरनेशनल क्रिकेट की शुरूआत की और केन्या के खिलाफ पहला वनडे मैच खेला। अक्टूबर 2003 से युवराज सिंह ने इंटरनेशनल टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू किया। युवराज सिंह ने अपने कैरियर की शुरूआत 11 साल की उम्र में पंजाब अंडर 12 टीम से की। नवंबर 1995 में जम्मू कश्मीर की टीम के खिलाफ मैच खेला था।

युवराज सिंह ने स्कैटिंग की अंडर 14 कैटेगरी में गोल्ड मेडल हासिल किया हुआ है। युवराज सिंह को भारत सरकार अर्जुन अवॉर्ड से सम्मानित कर चुकी है। साल 2014 में युवराज सिंह को पद्मश्री अवॉर्ड से भी सम्मानित किया गया। युवराज सिंह का जन्म 12 दिसबंर 1981 को चंडीगढ़ में एक पंजाबी परिवार में हुआ था। युवराज के पिता का नाम योगराज सिंह हैं, जो कि एक पूर्व भारतीय क्रिकेटर रह चुके हैं। उनकी माता का नाम शबनम सिंह है। उनके भाई का नाम जोरावर सिंह हैं. युवराज ने कई फिल्मों में काम कर चुकीं हेजल कीच से शादी की है।

Next Stories
1 प्राइवेट नौकरी छोड़, तीसरी बार में IAS एग्जाम में प्रतिभा वर्मा ने मारी थी बाजी
2 लंदन से बैरिस्टर की पढ़ाई, भारत लौट किया राजनीति का रुख, ऐसा रहा असदुद्दीन ओवैसी का सफर
3 दूसरों से तुलना के सवाल पर जया किशोरी का ये जवाब हर छात्र के लिए है लाभदायक
ये पढ़ा क्या?
X