ताज़ा खबर
 

छेड़खानी रोकने के लिए पश्चिम बंगाल के एक स्कूल का अजब फैसला- अलग-अलग दिन आएं छात्र-छात्राएं

पश्चिम बंगाल के मालदा जिले के एक सरकारी स्कूल ने छेड़खानी की घटनाओं को रोकने के लिए छात्र-छात्राओं को अलग-अलग दिनों में स्कूल आने का निर्देश दिया है।

Author मालदा | July 3, 2019 11:41 AM
schoolप्रतीकात्मक फोटो फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

छेड़खानी की घटनाओं को रोकने के लिए पश्चिम बंगाल के मालदा जिले के एक सरकारी स्कूल ने एक ‘बेहद अजीब’ सा निर्देश जारी किया है। इस निर्देश के तहत छात्र-छात्राएं अलग-अलग दिनों में स्कूल आएंगे। मालदा के हबीबपुर क्षेत्र के गिरिजा सुंदरी विद्या मंदिर के फैसले पर प्रशासन ने ऐतराज जताया है। उन्होंने इस कदम को ‘अजीब’ बताते हुए इसे वापस लेने की मांग की।

छेड़खानी की कई घटनाएं आईं सामनेः इस स्कूल के प्रधानाध्यापक रविंद्रनाथ पांडे ने दावा किया कि छेड़खानी की कई घटनाएं सामने आने के बाद स्कूल इस कदम को उठाने के लिए मजबूर था। पांडे ने कहा, ‘‘ यह फैसला किया गया कि लड़कियां सोमवार, मंगलवार और शुक्रवार को और लड़के मंगलवार, बृहस्पतिवार और शनिवार को कक्षाओं में आएंगे।’’

National Hindi News, 03 July 2019 LIVE Updates: दिन भर की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

शिक्षा मंत्री ने दिए जांच के आदेशः शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने इस मामले में जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने कहा, ‘‘ इस तरह के फैसलों का कभी समर्थन नहीं किया जा सकता। हमने अधिकारियों को इस मामले की जांच करने को कहा है और इस आदेश को तत्काल वापस लिया जाना चाहिए।’’इससे पहले पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा स्कूलों को निर्देश दिया गया था कि मुस्लिम छात्रों के लिए अलग से मिड- डे मील रिजर्व किया जाए। जानकारी के मुताबिक यह आदेश पश्चिम बंगाल के सभी सरकारी स्कूलों पर लागू किया जाएगास जहां भी 70 फीसदी या उससे अधिक मुस्लिम मौजूद हैं। इस संबंध में एक सर्कुलर भी जारी किया गया है। बता दें पश्चिम बंगाल सरकार के इस फैसले पर भाजपा द्वारा गहरी आपत्ति जताई गई थी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Rajasthan BSTC Result 2019: अगले सप्‍ताह से शुरू होगी काउंसलिंग
2 DU Admission 2019: स्‍पोर्ट्स ट्रॉयल के लिए आए उम्‍मीदवारों को घण्‍टों करना पड़ा इंतजार, पीने के पानी की भी नहीं थी व्‍यवस्‍था
3 NEET Counselling 2019: पहले राउंड का सीट अलॉटमेंट रद्द, जानें क्‍यों वापस लिया गया रिजल्‍ट
ये पढ़ा क्या?
X