UPSC: झारखंड के यश ने सिविल सेवा परीक्षा के पहले ही प्रयास में पाई चौथी रैंक, यहां जानें उनकी स्ट्रेटजी

UPSC: यश ने साल 2019 में मास्टर्स की डिग्री पूरी होने के बाद ही सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी थी।

UPSC, UPSC Exam, UPSC Topper 2020, Yash Jaluka
यश जालुका मूल रूप से ‌झारखंड के झरिया के रहने वाले हैं।

UPSC: संघ लोक सेवा आयोग द्वारा जारी किए गए सिविल सेवा परिणाम के अनुसार झारखंड के यश जालुका ने इस कठिन परीक्षा में चौथी रैंक प्राप्त की है। यह कामयाबी उन्होंने अपने पहले ही प्रयास में हासिल की है। आज हम आपको उनके अब तक के सफर के बारे में बताएंगे।

यश जालुका मूल रूप से ‌झारखंड के झरिया के रहने वाले हैं। साल 1995 में जन्में यश ने 26 साल की उम्र में ही न केवल अपने परिवार वालों का बल्कि पूरे झारखंड का नाम रोशन किया है। उनकी पढ़ाई लिखाई की बात करें तो यश ने कक्षा आठवीं तक की पढ़ाई झरिया से ही पूरी की है। इसके बाद वह ओडिशा आ गए और यहां से उन्होंने कक्षा 10वीं तक की शिक्षा प्राप्त की है। फिर यश ने झारखंड में बोकारो के दिल्ली पब्लिक स्कूल से कक्षा 11वीं और कक्षा 12वीं की पढ़ाई की है। स्कूली शिक्षा पूरी करने के बाद यश दिल्ली आ गए और यहां दिल्ली विश्वविद्यालय के किरोरी मल कॉलेज से इकोनॉमिक्स में बैचलर्स की डिग्री हासिल की है। फिर यश ने दिल्ली स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स से पोस्ट ग्रेजुएशन भी किया है।

UPSC: पहले प्रयास में ही परीक्षा टॉप करने वाली प्रतिष्ठा ने ऐसे पूरा किया अपने बचपन का सपना

यश ने साल 2019 में मास्टर्स की डिग्री पूरी होने के बाद ही सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी थी। उन्होंने सिविल सेवा परीक्षा के लिए इकोनॉमिक्स को ही ऑप्शनल सब्जेक्ट के रूप में चुना था। उन्होंने इस परीक्षा के लिए किसी कोचिंग ज्वॉइन करने की जगह सेल्फ स्टडी करने का फैसला किया था। आखिरकार, कठिन परिश्रम और सही रणनीति के चलते यश ने पहले ही प्रयास में न केवल यह परीक्षा पास की बल्कि टॉपर्स की सूची में भी अपना नाम दर्ज करा लिया।

UPSC: कॉर्पोरेट जॉब छोड़ कर की यूपीएससी एग्जाम की तैयारी, दूसरे प्रयास में पाई 18वीं रैंक

सिविल सेवा परीक्षा कि उनकी रणनीति की बात करें तो यश नियमित रूप से हर दिन कम से कम 8 घंटे की पढ़ाई किया करते थे। जिसमें, लगभग 3 से 4 घंटे वह न्यूज़पेपर को दिया करते थे। यश अच्छी तरह से न्यूज़ पेपर पढ़ने के बाद तुरंत उसमें से नोट्स भी तैयार करते थे। न्यूज़पेपर के अलावा वह सभी विषयों के भी नोट्स बनाया करते थे। यश सभी सब्जेक्ट के लिए केवल एक किताब पढ़ने की सलाह देते हैं। इसके साथ ही आप करंट अफेयर्स के लिए मैगज़ीन भी पढ़ सकते हैं।

UPSC Notification 2021: आयोग द्वारा इस परीक्षा का नोटिफिकेशन जारी, यह कैंडिडेट्स कर सकते हैं आवेदन

पढें एजुकेशन समाचार (Education News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट