ताज़ा खबर
 

UPSC: पहले अटेम्प्ट में पाई 5वीं रैंक, सृष्टि ने यूपीएससी की तैयारी के दौरान सोशल मीडिया से बना ली थी दूरी

UPSC: सृष्टि बचपन से ही पढ़ने में काफी तेज़ थीं। उन्होंने कक्षा 12 बोर्ड परीक्षा में 93% अंक प्राप्त किए थे।

सृष्टि जयंत देशमुख ने कार्मेल कान्वेंट स्कूल से पढ़ाई की है।

UPSC: यहां हम आपको सृष्टि जयंत देशमुख की कहानी बताएंगे जिन्होंने इंजीनियरिंग के साथ ही यूपीएससी परीक्षा की भी तैयारी की थी। फिर साल 2018 के अपने पहले अटेम्प्ट में ही पांचवी रैंक हासिल कर टॉप कर दिखाया। भोपाल की रहने वाली सृष्टि ने कार्मेल कान्वेंट स्कूल से पढ़ाई की है। स्कूल के दिनों से ही उन्होंने आईएएस बनने की ठान ली थी। सृष्टि बचपन से ही पढ़ने में काफी तेज़ थीं। उन्होंने कक्षा 12 बोर्ड परीक्षा में 93% अंक प्राप्त किए थे।

इसके बाद उन्होंने केमिकल इंजीनियरिंग से बैचलर्स की डिग्री हासिल की है। इंजीनियरिंग के तीसरे साल में एक दिन उन्हें ख्याल आया कि वह इंजीनियर बन कर एक सिंपल नौकरी के साथ पूरा जीवन नहीं बिता सकती हैं। जिसके बाद उन्होंने अपने बचपन के सपने को पूरा करने के लिए जी तोड़ मेहनत शुरू कर दी थी। इस सफर के दौरान उनके परिवार वालों ने भी उनका भरपूर साथ दिया।

यूपीएससी की तैयारी के दौरान सृष्टि हर रोज करीब 6 – 7 घंटे पढ़ाई किया करती थीं। इसके लिए उन्होंने किताबों के अलावा ऑनलाइन सोर्सेस का भी अच्छा इस्तेमाल किया‌। उन्होंने यूपीएससी परीक्षा के लिए कोचिंग का सहारा तो लिया था लेकिन वह खुद भी इंटरनेट का इस्तेमाल कर पढ़ाई किया करती थी। हालांकि, तैयारी शुरू करने के पहले ही उन्होंने अपने सभी सोशल मीडिया अकाउंट से दूरी बना ली थी।

UPSC: दूसरे अटेम्प्ट में बनीं आईपीएस, फिर अगले अटेम्प्ट में नम्रता ने पूरा किया आईएएस बनने का सपना

सृष्टि का मानना है कि इंटरनेट पर स्टडी मटेरियल आसानी से उपलब्ध होने की वजह से अब यूपीएससी की तैयारी के लिए लोगों को दिल्ली जाने की आवश्यकता नहीं है। वह घर बैठे भी परीक्षा की तैयारी आसानी से कर सकते हैं। इसके अलावा वह फिजिकल और मेंटल फिटनेस को सफलता के लिए बेहद आवश्यक मानती हैं। वह यह भी कहती हैं की यूपीएससी की तैयारी के लिए कंसिस्टेंसी और आत्मविश्वास दोनों ही बहुत ज़रूरी है। आप अपने क्षमता के अनुसार कुछ ही घंटे पढ़ें लेकिन फिर उतने ही घंटे रोज़ पढ़ाई करें।

सृष्टि सलाह देती हैं कि परीक्षा का स्तर देखने या परीक्षा को समझने के लिए एग्जाम में न बैठें। तैयारी ऐसे करें कि यह आपका आखरी मौका है और इसी में सफलता हासिल करनी है। सृष्टि ने भी इसी मेहनत और लगन के साथ यूपीएससी की तैयारी की थी और इस कठिन परीक्षा में अपने पहले ही अटेम्प्ट में टॉप कर दिखाया।

Next Stories
1 JEE Main Exam 2021: परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड जल्द होगा जारी, यहां चेक करें सूचना
2 KVS Notification 2021: केंद्रीय विद्यालय में छात्रों के एडमिशन के लिए हैं इच्छुक तो यहां पढ़ें लेटेस्ट अपडेट
3 UPSC: तीन बार असफल होने के बाद छोड़ दिया था IAS बनने का सपना, इस एक सलाह ने बदल दिया करियर
ये पढ़ा क्या?
X