UPSC: जागृति ने नौकरी छोड़कर की तैयारी, यूपीएससी एग्जाम में पाई दूसरी रैंक, कैंडिडेट्स को दिए ये टिप्स

UPSC: मौलाना आजाद नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी या मैनिट में अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद, उन्हें भेल में नौकरी मिल गई थी।

UPSC Topper ,Jagrati Awasthi
जागृति अवस्थी ने यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 2020 में महिला वर्ग में टॉप और ओवरऑल दूसरी रैंक हासिल की है(फोटो सोर्स: PTI)।

UPSC: संघ लोक सेवा आयोग ने हाल ही में सिविल सेवा परीक्षा या सीएसई 2020 के लिए टॉपर सूची जारी की गई है। इस साल परीक्षा में टॉप 20 टॉपर्स में से 10 महिलाएं थीं। बिहार के शुभम कुमार ने पहली रैंक हासिल की। भोपाल की जागृति अवस्थी वर्ष 2020 की महिला टॉपर हैं। अवस्थी ने अपने सपने को पूरा करने और अपनी कड़ी मेहनत और दृढ़ संकल्प के साथ परीक्षा में शीर्ष रैंक हासिल करने के लिए नौकरी छोड़ दी थी।

जागृति ने पहले प्रयास में यूपीएससी एग्जाम पास नहीं कर पायी थी। हालांकि, इससे वे डिमोटिवेट नहीं हुईं। एग्जाम में बेहतर करने के लिए उन्होंने अपनी नौकरी छोड़ने का फैसला किया और अपना पूरा ध्यान UPSC CSE की तैयारी के लिए समर्पित कर दिया।

पीसीएस एग्जाम के एडमिट कार्ड जारी, 24 अक्टूबर को होनी है परीक्षा

एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया कि अपने पहले प्रयास में फेल होने के बाद उन्होंने इस बात को जानने में ज्यादा जोर दिया कि कहां गलती हुई और कैसे इस गलती में सुधार किया जाए। उन्होंने UPSC के पाठ्यक्रम को समझने और पूछे जाने वाले प्रश्नों के प्रकारों को समझने के लिए खुद को समय दिया।

मौलाना आजाद नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी या मैनिट में अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद गेट (GATE) की परीक्षा पास की। इसके बाद जागृति ने भेल में टेक्निकल ऑफिसर के तौर पर नौकरी ज्वॉइन कर ली थी। उन्होंने 2017-19 से काम किया। पहले प्रयास में यूपीएससी पास नहीं कर पाने के बाद, 24 वर्षीय जागृति ने अपने सपने को पूरा करने के लिए एक भेल की नौकरी छोड़ने का फैसला किया।

आयोग ने जारी किया ईपीएफओ एग्जाम का रिजल्ट, इन स्टेप से करें चेक

जागृति ने यूपीएससी परीक्षा की तैयारी करने वाले उम्मीदवारों को टिप्स दिए हैं। उन्होंने कहां कि इस एग्जाम की तैयारी करने वाले कैंडिडेट्सको सबसे पहले एग्जाम के प्रश्न पत्र को समझना चाहिए कि प्रश्न किस प्रकार के आते हैं और पिछले प्रश्न पत्रों को जरूर देखें। उम्मीदवार अभ्यास करते रहें जिससे वे अपनी कमियों को जान पाएंगे और उन्हें दूर कर पाएंगे। जागृति के अनुसार सबसे ज्यादा जरूरी है कि कैंडिडेट्स को खुद पर भरोसा रखना चाहिए।

पढें एजुकेशन समाचार (Education News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट