UPSC: बिना कोचिंग के दूसरे प्रयास में पाई ऑल इंडिया 70वीं रैंक, ऐसे की परीक्षा की तैयारी

UPSC: मूल रूप से झारखंड के जमशेदपुर की रहने वाली सलोनी ने अपना अधिकांश समय दिल्ली में बिताया।

ias success story, ias success story in hindi, ias success story hindi medium, ias success story quora
लोनी ने बताया कि हमें अपनी क्षमता और रुचि को समझना चाहिए। फिर हम UPSC के टॉपर्स के इंटरव्यू देख सकते हैं और ब्लॉग पढ़ सकते हैं। (फोटो क्रेडिट – इंस्टाग्राम – _saloniv)

UPSC: आईएएस अधिकारी बनना कई लोगों का सपना होता है, लेकिन कुछ ही उम्मीदवार होते हैं जो देश की प्रतिष्ठित और कठिन परीक्षाओं में से एक UPSC परीक्षा को पास कर पाते हैं। यूपीएससी की सफल यात्रा कठिन होती है और सफलता का स्वाद चखने के लिए कैंडिडेट्स को मेहनती होना पड़ता है। इस साल के टॉपर्स में सलोनी वर्मा हैं, जिन्होंने UPSC CSE में ऑल इंडिया रैंक 70 हासिल की है।

मूल रूप से झारखंड के जमशेदपुर की रहने वाली सलोनी ने अपना अधिकांश समय दिल्ली में बिताया। उन्होंने ग्रेजुएशन के ठीक बाद यूपीएससी परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी और वह अपने दूसरे प्रयास में सफल हो गई। उन्होंने बिना किसी कोचिंग के देश की सबसे कठिन परीक्षा को उत्तीर्ण किया।

एनटीए ने जारी की नीट एग्जाम की आंसर की, इस तारीख तक दर्ज कर सकते हैं आपत्ति

एक इंटरव्यू में सलोनी ने बताया कि हमें अपनी क्षमता और रुचि को समझना चाहिए। फिर हम UPSC के टॉपर्स के इंटरव्यू देख सकते हैं और ब्लॉग पढ़ सकते हैं। सलोनी का मानना है कि यूपीएससी परीक्षा पास करने के लिए कोचिंग जरूरी नहीं है। अगर आपको सही मार्गदर्शन नहीं मिलता है तो आप कोचिंग ज्वाइन कर सकते हैं। लेकिन सफलता कड़ी मेहनत और सेल्फ स्टडी से ही मिलेगी।

सलोनी के मुताबिक, उन्होंने सिलेबस को समझा और अपनी स्टडी मटेरियल तैयार किया। उनके अनुसार कम समय में सफलता हासिल करने के लिए एक अच्छी रणनीति बेहद जरूरी है। हालांकि वह पहले प्रयास में असफल रही, लेकिन उसने हार नहीं मानी और अपने लक्ष्य की ओर बढ़ती रही।

नाबार्ड ने इन पदों को भरने के लिए मांगे आवेदन, ये रहे डायरेक्ट लिंक

सलोनी के अनुसार अगर आप यूपीएससी की तैयारी करना चाहते हैं तो आपको बेहतर रणनीति के साथ लगातार आगे बढ़ना होगा। वह कहती है कि जब तक आप हर दिन इसके लिए प्रयास नहीं करेंगे, तब तक आप अपनी मंजिल तक नहीं पहुंच पाएंगे। उनके अनुसार सफलता के लिए कड़ी मेहनत, सही रणनीति, ज्यादा से ज्यादा रिवीजन, उत्तर लिखने का अभ्यास और सकारात्मक नजरिया बहुत जरूरी है।

पढें एजुकेशन समाचार (Education News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
Intel करेगी 12,000 कर्मचारियों की छंटनी, कंपनी ने कहा-इस साल होगी 75 करोड़ डालर की बचतIntel, Intel Latest News, microprocessor maker Intel, Intel jobs, Intel slash jobs, Intel cut down jobs, Intel shed 12000 jobs, Intel shed jobs, Intel job cut, Intel employee, intel staff, Intel earnings, intel india
अपडेट