ताज़ा खबर
 

UP Board 12th Result 2017: 12वीं बोर्ड में 82.5 फीसदी बच्चे पास, प्रियांशी ने हासिल किया प्रथम स्थान

UPMSP Board 12th Result 2017: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद् 10वीं बोर्ड परीक्षा के साथ साथ 12वीं बोर्ड परीक्षा के नतीजे जारी करने जा रहा है। बोर्ड ने परीक्षा के नतीजे घोषित करने की तारीखों का ऐलान कर दिया है।

UP Board 12th Result 2017 Live: रिजल्ट दोपहर 12 बजे के आस-पास जारी किए जाएंगे।

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद् 10वीं बोर्ड परीक्षा के साथ साथ 12वीं बोर्ड परीक्षा के नतीजे जारी कर दिए हैं। बोर्ड ने परीक्षा के नतीजे घोषित करने की तारीखों का ऐलान कर दिया था और अब तय समय पर परीक्षा के नतीजे जारी कर दिए हैं। बोर्ड की ओर से जारी की गई जानकारी के अनुसार परीक्षा के नतीजे 9 जून को जारी किए जाने थे और उसी वक्त नतीजे जारी कर दिए गए। हाल ही में बोर्ड अध्यक्ष ने एक मीडिया संस्थान को बताया था कि परीक्षा के नतीजे 9 जून को जारी किए जाएंगे। परीक्षा के नतीजों की तारीख का ऐलान होने के बाद करीब 26 लाख विद्यार्थी रिजल्ट देख सकते हैं। परीक्षा के नतीजे आधिकारिक वेबसाइट के साथ कई अन्य रिजल्ट वेबसाइट पर भी जारी किए गए हैं, जहां सभी उम्मीदवार अपने नतीजे देख सकते हैं।

UP Board 12th Result 2017 से जुड़ी हर अपडेट-

– 12वीं बोर्ड में 82.5 फीसदी बच्चे पास हुए हैं।

– 12वीं बोर्ड परीक्षा में फतेहपुर की प्रियांशी ने प्रथम स्थान हासिल किया है।

– 10वीं और 12वीं के टॉपर फतेहपुर से ही हैं।

– बोर्ड ने परीक्षा के परिणाम जारी कर दिए हैं।

– बोर्ड निदेशक अमरनाथ वर्मा और सचिव शैल यादव ने नतीजे जारी किए।

– परीक्षा के नतीजे कुछ ही देर में जारी होंगे, इसके लिए रिजल्ट देखने के लिए आवश्यक रोल नंबर आदि की जानकारी साथ रखें। आप यह जानकारी प्रवेश पत्र से ले सकते हैं।

– उम्मीदवारों का इंतजार कुछ ही देर में खत्म होने वाले हैं। बोर्ड कुछ ही मिनटों बाद परीक्षा के नतीजे जारी कर देगा।

– वहीं परीक्षा के नतीजे आने से पहले और नतीजे आने के बाद भी उम्मीदवार अपना मन शांत रखें। साथ ही रिजल्ट से पहले नतीजों को लेकर टेंशन ना लें। अगर आपका रिजल्ट आपके मन मुताबिक नहीं आता है तो परेशान होने के बजाय धैर्य से काम लें।

– यूपी सरकार ने नकल रोकने के लिए हेल्पलाइन जारी की थी। सरकार ने इसके लिए कुछ फोन नंबर जारी किए थे। यूपी सरकार ने 0522-2236760, 9454457241 हेल्पलाइन नंबर जारी किये हैं।

– हिंदुस्तान की खबर के मुताबिक योगी सरकार की ओर से नकल माफियाओं पर लगाई गई सख्ती की वजह से इस साल करीब 6 लाख छात्रों ने परीक्षा छोड़ दी।

– कई मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उत्तर प्रदेश बोर्ड भी हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा का आयोजन सीबीएसई पैटर्न से कर सकता है। बताया जा रहा है कि बोर्ड अधिकारी सीबीएसई से बात कर रहे हैं। यह कम समय में रिजल्ट का मूल्यांकन करने को लेकर किया जा सकता है।

– एसएमएस के जरिए रिजल्ट देखने के लिए UP 12 लिखकर स्पेस दें और उसके बाद अपना रोल नंबर लिखकर 56263 पर भेज दें। उसके बाद नतीजे आपको भेज दिए जाएंगे।

– 12वीं कक्षा में राज्य का बस्ती सबसे आगे रहा था, जहां 96.42 फीसदी उम्मीदवार पास हुए और चंदौली में 76.42 फीसदी बच्चे ही सफल हो सके।

– उत्तर प्रदेश माध्‍यमिक शिक्षा परिषद की स्‍थापना 1921 में की गई थी। इसकी स्थापना से पहले, इलाहाबाद विश्वविद्यालय इन परीक्षाओं का आयोजन करता था।

– माध्यमिक शिक्षा परिषद्, उत्तर प्रदेश, इलाहाबाद हाईस्कूल एवं इण्टरमीडिएट स्तर की परीक्षाओं को संचालित करने वाली विश्व की एक सर्वौच्च संस्था है।

– इस बार बोर्ड ने नकल पर लगाम लगाते हुए नकल की शिकायत मिलने पर 72 केंद्रों की परीक्षाएं रद्द कर दी थी और 61 स्कूलों को उनकी कॉपियों की स्क्रीनिंग करने का आदेश जारी किया था।

– 12वीं बोर्ड- पिछले साल 2015 के मुकाबले कम रिजल्ट रहा था।

– हाल ही में खबरें आई थीं कि बोर्ड इस बार सीबीएसई की राह पर चल सकता है और मॉडरेशन नीति की तरह विद्यार्थियों को ग्रेस नंबर भी दे सकता है। हालांकि बोर्ड ने इस नीति को लेकर कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की है।

– पिछले साल 18 फरवरी से 21 मार्च के बीच इस परीक्षा का आयोजन किया गया था और यह परीक्षा 11580 परीक्षा केंद्रों पर करवाई गई थी।

– पिछले साल 30 लाख 71 हजार 892 विद्यार्थियों ने परीक्षा में भाग लिया था, जिसमें 1709379 छात्र और 1363513 छात्राएं शामिल थीं, जिसमें 87.99 फीसदी बच्चे पास हुए थे। इस दौरान बाराबंकी की साक्षी वर्मा ने प्रथम स्थान हासिल किया था।

– परीक्षा के नतीजे आधिकारिक वेबसाइट के साथ अन्य वेबसाइट पर भी देखे जा सकते हैं। इसके लिए सबसे पहले आदिकारिक वेबसाइट पर जाएं और उसके बाद परीक्षा से जुड़े लिकं पर क्लिक करें। उसके बाद मांगी गई जानकारी भरकर अपना रिजल्ट देख लें।

– परीक्षा में पिछले साल 2016 में 87.99, 2015 में 88.83, 2014 में 92.21, 2013 में 92.68 और 2012 में 89.40 फीसदी बच्चे सफल हुए थे।

– अगर बोर्ड नतीजे जारी होने के पिछले आंकड़े देखें तो पिछले साल 15 मई को नतीजे जारी किए गए थे, जबकि 2015 में 17 मई, 2014 में 25 मई और 2013 में 5 जून को नतीजे जारी किए गए थे।

– परीक्षा के नतीजे यह ध्यान में रखकर जल्दी जारी किए गए हैं, ताकि पास होने वाले विद्यार्थियों को आगे कॉलेज, विश्वविद्यालय में दाखिला लेने में कोई दिक्कत ना हो।

– परीक्षा का आयोजन 16 मार्च से 21 अप्रैल के बीच करवाया गया था, जिसमें तीनों विषयों की विभिन्न परीक्षाओं का आयोजन किया गया था।

– बोर्ड आज 10वीं बोर्ड की परीक्षा के साथ साथ 12वीं परीक्षा के नतीजे जारी कर देगा। आज 12वीं परीक्षा के सभी विषयों के नतीजे जारी किए जाएंगे।

– इस बार विधानसभा चुनावों की वजह से परीक्षा का आयोजन देरी से किया गया था और नतीजे जारी होने में देरी होने के लिए कहा जा रहा था। हालांकि बोर्ड ने ज्यादा देरी ना करते हुए सही समय पर परीक्षा के नतीजे जारी कर दिए हैं।

– बोर्ड ने मई के आखिरी हफ्ते तक करोड़ों उत्तर पुस्तिकाएं चेक करने का कार्य कर लिया था और इसके लिए कई 1.37 लाख टीचर लगाए गए थे और उत्तर पुस्तिका जांचने के लिए बोर्ड ने 253 परीक्षा केंद्र भी बनाए थे।

– पहले खबरें आ रही थीं कि परीक्षा के नतीजे मध्य जून तक जारी किए जाएंगे, लेकिन बोर्ड ने पहले नतीजे जारी करने का फैसला किया।

– इस बार कई स्थानों में नकल करवाने के मामले भी सामने आए थे और उनके खिलाफ कार्रवाई भी की गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App