ताज़ा खबर
 

UP Board Class 10th, 12th Result 2020: पैसे लेकर पास कराने को अकाउंट नंबर दे रहे हैं फर्जी कर्मचारी, UP Board ने भी जारी किया नोटिस, रिजल्ट जून में

UP Board Class 10th, 12th Result 2020 Date: उत्तर प्रदेश बोर्ड में इस साल इंटरमीडिएट परीक्षा के लिए 2.586 मिलियन छात्रों ने और हाई स्कूल परीक्षा के लिए 3.025 मिलियन छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया था। यूपी बोर्ड में इस साल कुल 5.6 मिलियन छात्रों को परिणाम का इंतजार है।

up board result 2020, up evaluation process, evaluation process uttar pradesh, up red zones, up board resultUP Board Result 2020: यूपी बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव का कहना है कि हाई स्कूल और इंटरमीडिएट के 5.6 मिलियन छात्रों का परिणाम जून के अंत तक घोषित किया जाएगा। (file photo)

UP Board Class 10th, 12th Result 2020 Date: CBSE Board के बाद, यूपी बोर्ड ने भी 10वीं, 12वीं के छात्रों को पैसे लेकर पास कराने के फर्जीवाड़े से बचने के लिए आगाह किया है। बोर्ड ने एक नोटिस जारी करके छात्रों और अभिभावकों को ऐसे लोगों से सावधान किया है। बोर्ड सचिव नीना श्रीवास्तव द्वारा जारी नोटिस में कहा गया है कि, कुछ लोग खुद को परिषद कार्यलय का कर्मचारी बताकर मोटी रकम की मांग कर रहे हैं जिसके लिए बचत खाता संख्या और IFSC Code भी दिया जा रहा है। इससे पहले, सीबीएसई बोर्ड ने भी इस मामले में नोटिस जारी कर छात्रों और अभिभावकों को सावधान रहने के लिए नोटिस जारी किया था।

दरअसल, बिहार बोर्ड के परिणाम घोषित होने के बाद, अब उत्तर प्रदेश बोर्ड रिजल्ट जारी करने वाला है। यूपी बोर्ड ने 10वीं,12वीं परीक्षा की कॉपियां चेक करने का लभगग 99 फीसदी काम खत्म कर लिया है और जल्द ही परिणाम घोषित किए जाएंगे। जिन छात्रों ने इस साल यूपी बोर्ड की परीक्षाएं दी हैं वे परिणाम जारी होने के बाद, आधिकारिक वेबसाइट upmsp.edu.in, upresults.nic.in, upmspresults.up.nic.in और results.nic.in. पर जाकर अपना रिजल्ट चेक कर सकेंगे। यूपी बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव का कहना है कि हाई स्कूल और इंटरमीडिएट के 5.6 मिलियन छात्रों का परिणाम जून के अंत तक घोषित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि ‘यूपी बोर्ड की 99.06% से अधिक उत्तर पुस्तिकाएं शनिवार तक पूरी हो गई थीं। शेष प्रतियों का मूल्यांकन काम 31 मई तक पूरा हो जाएगा। हम जून के अंत तक परिणाम घोषित करने में सक्षम होंगे।’

 

यूपी बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव के मुताबिक अब तक प्रदेश के 67 जिलों में कॉपियों का मूल्यांकन कार्य पूरा किया जा चुका है। जबकि 8 जिलों के कॉपियों का मूल्यांकन कार्य शेष है। उन्होंने बताया कि कोरोना के चलते लॉकडाउन की वजह से ऑरेंज जोन के एक जिले बस्ती और रेड जोन के सात जिलों (आगरा, फिरोजाबाद, मथुरा, अलीगढ़, मेरठ, बरेली और वाराणसी) में मूल्यांकन कार्य शेष है। रेड जोन में कॉपियों की मूल्यांकन प्रक्रिया 19 मई से शुरू हुई थी, जबकि ऑरेंज जोन में 12 मई से और ग्रीन जोन में 5 मई से कॉपियों का मूल्यांकन शुरू किया गया था।

एक अधिकारी के मुताबिक, कक्षा 10वीं और कक्षा 12वीं के परिणाम पहले 24 अप्रैल को घोषित किए जाने थे। लेकिन लॉकडाउन के कारण मूल्यांकन कार्य देर से शुरू हुआ और अब जून के अंत तक इसकी घोषणा की जाएगी। बता दें कि, उत्तर प्रदेश बोर्ड में इस साल इंटरमीडिएट परीक्षा के लिए 2.586 मिलियन छात्रों ने और हाई स्कूल परीक्षा के लिए 3.025 मिलियन छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया था। यूपी बोर्ड में इस साल कुल 5.6 मिलियन छात्रों को परिणाम का इंतजार है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 RRB NTPC: CBT 1 के एडमिट कार्ड जल्‍द, प्रवेश पत्र के बाद तैयारी के लिए मिलेगा केवल इतना समय
2 10th, 12th Exam Results: मध्‍य प्रदेश, गुजरात, असम बोर्ड इन डेट्स को जारी करने जा रहे हैं रिजल्‍ट, देखें आधिकारिक जानकारी
3 CBSE Board: जल्द शुरू होगी CBSE बोर्ड एग्जाम की ये महत्वपूर्ण प्रक्रिया, यहां देखें डीटेल्‍स
ये पढ़ा क्या?
X