ताज़ा खबर
 

SSC Exam Calendar 2017: यहां देखें कब-कब होगी एसएससी की प्रमुख परीक्षाएं, जिसका है कई लोगों को इंतजार

SSC Exam 2017: आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि अगले साल कब-कब एसएससी किन-किन परीक्षाओं का आयोजन करेगा।

कर्मचारी चयन आयोग का कार्य भारत सरकार के मंत्रालयों/विभागों, संबद्ध और अधीनस्‍थ कार्यालयों और सीएजी एवं महालेखाकारों के कार्यालयों में गैर तकनीकीय समूह ‘ग’ और ‘ख’ के अराजपत्रित पदों में भर्ती करना है।

कर्मचारी चयन आयोग राज्य के विभागों और मंत्रालयों में रिक्त स्थानों पर योग्य उम्मीदवारों की नियुक्ति के लिए परीक्षा और इंटरव्यू आदि का आयोजन करता है। एसएससी हर साल कई निर्धारित परीक्षाओं का आयोजन करता है और कई स्थानों पर भर्ती के अनुसार परीक्षाएं करवाता है। वहीं अब एसएससी ने अगले साल के लिए कैलेंडर निकाल दिया है, जिसमें एसएससी की आगामी परीक्षाओं आदि के बारे में जानकारी दी गई है और उसके अनुसार उम्मीदवार पता लगा सकते हैं कि कब किसकी परीक्षा की जाएगी और उसके लिए कब आवेदन करना होगा। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि अगले साल कब-कब एसएससी किन-किन परीक्षाओं का आयोजन करेगा।

जूनियर इंजीनियर परीक्षा-2016 (पेपर-1)– 8,9 और 12 दिसंबर

दिल्ली पुलिस, सीएपीएफ और सीआईएसएफ में एसआई भर्ती परीक्षा– 18 दिसंबर 2016

कंबाइंड हायर सैकेंडरी परीक्षा (टियर-1)– 7 जनवरी से 5 फरवरी 2017

कंबाइंड ग्रेजुएट लेवल परीक्षा (टियर-3)– 15 जनवरी 2017

जूनियर इंजीनियर परीक्षा-2016 (पेपर-2)– 19 फरवरी 2017

दिल्ली पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा– 4 मार्च 2017 से 7 मार्च 2017

कंबाइंड हायर सैकेंडरी परीक्षा (टियर-2)– 4 जून 2017

कंबाइंड ग्रेजुएट लेवल परीक्षा (टियर-1)– 19 जून 2017 से 2 जुलाई 2017

कांस्टेबल जीडी परीक्षा– 15 जुलाई 2017 से 22 जुलाई 2017

कंबाइंड ग्रेजुएट लेवल परीक्षा (टियर-2)– 5 से 8 सितंबर 2017

कंबाइंड ग्रेजुएट लेवल परीक्षा (टियर-3)– 12 नवंबर 2017

कंबाइंड हायर सैकेंडरी परीक्षा (टियर-1)– 17 से 30 नवंबर 2017

कंबाइंड ग्रेजुएट लेवल परीक्षा (टियर-4)– दिसंबर 2017

कर्मचारी चयन आयोग का कार्य भारत सरकार के मंत्रालयों/विभागों, संबद्ध और अधीनस्‍थ कार्यालयों और सीएजी एवं महालेखाकारों के कार्यालयों में गैर तकनीकीय समूह ‘ग’ और ‘ख’ के अराजपत्रित पदों में भर्ती करना है। आयोग नीतियां तैयार करने के लिए उत्तरदायी है जिसमें परीक्षाओं की एवं अन्‍य प्रक्रियाओं की योजना बनाना शामिल है ताकि परीक्षाओं और चयन परीक्षणों को सुव्‍यवस्थित रूप से चलाया जा सके। इसे पहले “अधीनस्‍थ सेवा आयोग” कहते थे। इसका पुन: नामकरण 1977 में ‘कर्मचारी चयन आयोग’ के रूप में हुआ।

बेटी की शादी में नहीं खर्च किया पैसा, बेघर लोगों को तोहफे में दिए 90 घर

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App