ताज़ा खबर
 

27 अगस्त से शुरू हो रही एसएससी सीजीएल परीक्षा, जानिए नया पैटर्न और तैयारी के टिप्स

CGL 2016: अब एग्जाम कंप्यूटर बेस हो गया है और स्क्रीन पर पढ़ने में ज्यादा समय लगता है, इसलिए आपको टाइम मैनेजमेंट का ध्यान रखना होगा।

कंबाइंड ग्रेजुएट लेवल (CGL) एग्जाम 27 अगस्त से शुरू होने वाला है।

स्टाफ सलेक्शन कमिशन (SSC) द्वारा कराया जाने वाला कंबाइंड ग्रेजुएट लेवल (CGL) एग्जाम 27 अगस्त से शुरू होने वाला है। रिपोर्ट्स के मुताबिक इस साल करीब 8
लाख उम्मीदवार इसमें हिस्सा लेंगे। हालांकि इस साल एग्जाम के पैटर्न में कुछ बदलाव किया गया है, मगर सिलेबस हर साल की तरह ही रहने वाला है। हम आपको कुछ महत्वपूर्ण प्वाइंट्स और जरूरी टिप्स बताएंगे, जिनसे आपको एग्जाम की तैयारी करने में सहायता मिलेगी।

1. एग्जाम के सिलेबस में कोई बदलाव नहीं किया गया है। हालांकि अब एग्जाम कंप्यूटर बेस हो गया है, इसके लिए आप पहले से कोई अन्य ऑनलाइन टेस्ट देकर थोड़ा आइडिया
ले सकते हैं।

2. पेपर पर पढ़ने के बजाय कंप्यूटर स्क्रीन पर पढ़ने में ज्यादा समय लगता है, इसलिए आपको टाइम मैनेजमेंट का भी ध्यान रखना होगा। इसके अलावा ध्यान रहे कि टियर- I और
टियर- II के पेपर-I में निगेटिव मार्किंग की जाती है।

3. टियर- III टेस्ट को ध्यान में रखते हुए आपको ज्यादा से ज्यादा लिखने की प्रैक्टिस करनी चाहिए। इसके अलावा अपनी हैंड राइटिंग को भी साफ रखें। टियर-III में आपको पेन
और पेपर से टेस्ट देना होगा।

4. आपने आसपास हो रही घटनाओं और करेंट अफेयर्स का ध्यान रखें। एग्जाम में आने वाला निबंध किसी वर्तमान विषय पर ही दिया जाता है। इसके साथ ही परीक्षा में अंग्रेजी
भाषा की बुनियाद को जांचा जाता है। इसमें आपकी पढ़ने और लिखने दोनों की क्षमता को परखा जाता है। इसकी तैयारी करने हेतु आप सामान्य अंग्रेजी की किताबों की मदद से सकते हैं।

5. अपने मनोबल को बढ़ाते रहें कि आप परीक्षा पास कर सकते हैं। एक बार अगर आप आश्वस्त हो गए, तो कोई भी परीक्षा आपके लिए पास करना कठिन नहीं होगी। अगर
आपको जरूरी लगता है तो आप कोचिंग भी ले सकते हैं।

बता दें स्टाफ सलेक्शन कमीशन हर साल दो बार कम्बाइंड ग्रेजुएट लेवल एग्जाम आयोजित करवाता है। इस एग्जाम के जरिए एसएससी केंद्र सरकार के विभागों के लिए दूसरी ग्रेड के कर्मचारियों की भर्ती करता है। इसके अलावा कमीशन के पास केंद्र सरकार के विभाग के लिए कर्मचारियों की नियुक्ति करने की भी जिम्मेदारी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App