RRB Group C ALP Admit Card 2018 at www.indianrailways.gov.in, Sarkari Result 2018: know how examination fees would be refunded in your bank account - RRB Recruitment 2018: जानिए कब रीफंड होगी परीक्षार्थियों की एग्जामिनेशन फीस - Jansatta
ताज़ा खबर
 

RRB Recruitment 2018: जानिए कब रीफंड होगी परीक्षार्थियों की एग्जामिनेशन फीस

RRB Group C ALP Admit Card 2018, Fees Refund: आवेदन शुल्क बढ़ाने के बाद रेलवे की काफी आलोचना हुई थी जिसके बाद बढ़ी हुई फीस उम्मीदवारों को रीफंड करने की घोषणा की गई। फीस रीफंड करने का ऐलान खुद रेल मंत्री पीयूष गोयल ने किया था। तो चलिए जानते हैं अभ्यर्थियों को कब और कैसे उनकी फीस रीफंड की जाएगी।

अभ्यर्थियों को एप्लिकेशन फीस उनके बैंक खाते में रीफंड की जाएगी।

RRB Group C ALP Admit Card 2018, Fees Refund: भारतीय रेलवे में APL-Technicians पदों की भर्ती परीक्षा 9 अगस्त को होनी है। इन पदों के लिए एप्लिकेशन फीस 500 (अनारक्षित श्रेणी के उम्मीदवार) और 250 (आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवार) रुपये थी। आवेदन शुल्क बढ़ाने के बाद रेलवे की काफी आलोचना हुई थी जिसके बाद बढ़ी हुई फीस उम्मीदवारों को रीफंड करने की घोषणा की गई। फीस रीफंड करने का ऐलान खुद रेल मंत्री पीयूष गोयल ने किया था। तो चलिए जानते हैं अभ्यर्थियों को कब और कैसे उनकी फीस रीफंड की जाएगी। अभ्यर्थियों को एप्लिकेशन फीस उनके बैंक खाते में रीफंड की जाएगी। अभ्यर्थियों ने आवेदन के समय अपनी बैंक डिटेल्स, जैसे बैंक का नाम, खाता धारक का नाम, खाता नंबर और IFSC कोड सबमिट किया होगा। परीक्षा में बैठने वाले अभ्यर्थियों की फीस खाते में रीफंड हो जाएगी। परीक्षा में बैठने वाले आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों की पूरी फीस यानी 250 रुपये रीफंड किए जाएंगे। वहीं अनारक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों को 500 रुपये में से 400 रुपये रीफंड किए जाएंगे।

बता दें रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा था कि बढ़ाई गई एग्जामिनेशन फीस रिफंडेबल होगी। उन्होंने कहा था कि अगर उम्मीदवार रेलवे परीक्षा देता है तो बढ़ी हुई फीस उसे परीक्षा देने के बाद वापस कर दी जाएगी। इसके अलावा रेल मंत्री ने शुल्क बढ़ाने की वजह अभ्यर्थियों का परीक्षा में न शामिल होना बताया था। उन्होंने कहा था कि लोग शुल्क कम होने के कारण आवेदन कर देते हैं, लेकिन परीक्षा में शामिल नहीं होते। इससे सरकार को नुकसान होता है। परीक्षा आयोजन में सरकार का काफी पैसा खर्च होता है। बता दें पहले जो भर्तियां निकाली गई थीं, उनमें अनारक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों को 100 रुपये भरने होते थे। वहीं आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों को कोई शुल्क नहीं देना पड़ता था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App