ताज़ा खबर
 

RPSC 2nd Grade Exam 2015 Answer Key: वरिष्ठ अध्यापक सामाजिक विज्ञान परीक्षा की उत्तर कुंजी जारी

RPSC 2nd Grade Senior Teacher Exam Answer Key 2018: राजस्थान लोक सेवा आयोग (RPSC) ने माध्यमिक शिक्षा वरिष्ठ अध्यापक (विशेष शिक्षा) प्रतियोगी परीक्षा 2015 की उत्तर कुंजी (सामाजिक विज्ञान) जारी की है। 

RPSC 2nd Grade Senior Teacher Exam Answer Key 2015: परीक्षा 08.02.2018 को आयोजित हुई थी।

राजस्थान लोक सेवा आयोग (RPSC) ने माध्यमिक शिक्षा वरिष्ठ अध्यापक (विशेष शिक्षा) प्रतियोगी परीक्षा 2015 की उत्तर कुंजी (सामाजिक विज्ञान) जारी की है। सामाजिक विज्ञान के परीक्षार्थी उत्तर कुंजी ऑनलाइन चेक कर सकते हैं। बता दें 08.02.2018 को यह परीक्षा आयोजित हुई थी। साथ ही अभ्यर्थी उत्तर कुंजी पर आपत्ति भी दर्ज करा सकते हैं। आपत्ति दर्ज कराने के लिए अभ्यर्थियों को प्रत्येक प्रश्न हेतु रु 100/- का शुल्क चुकाना होगा। आपत्ति दिनांक 13.03.2018 से दिनांक 15.03.2018 को रात 12:00 बजे तक दर्ज कराई जा सकती है। तो चलिए सबसे पहले जानते हैं उत्तर कुंजी चेक करने का पूरा प्रॉसेस। उत्तर कुंजी देखने के लिए विजिट करें वेबसाइट https://rpsc.rajasthan.gov.in/ पर। अब यहां आपको होम पेज पर उपलब्ध ‘न्यूज एंड इवेंट’ सेक्शन में जाएं।

अब यहां से आपको “Answer Key for Sr. Teacher Gr II (Spl. Edu.) – 2015(Social Science)” के लिंक पर क्लिक करना होगा। लिंक पर क्लिक करते ही उत्तर कुंजी खुलजाएगी। उत्तर कुंजी पीडीएफ फाइल फॉर्मैट में अपलोड की गई है। अब आपको बताते हैं आपत्ति दर्ज कराने से जुड़ी महत्वपूर्ण बातें। आपत्तियां आयोग की वेबसाइट पर उपलब्ध प्रश्न पत्र के क्रमानुसार ही दर्ज करानी होगी। परीक्षा के प्रश्न पत्र आयोग के वेब-पोर्टल पर उपलब्ध हैं। आपत्ति प्रामाणिक पुस्तकों के प्रमाण सहित ही दर्ज कराएं। अभ्यर्थी अपनी एप्लिकेशन आई.डी., जन्म तिथि और आयोग में रजिस्टर्ड मोबाईल नम्बर से लॉगिन कर प्रश्नों पर आपत्तियां दर्ज करा सकते हैं।

प्रति प्रश्न आपत्ति शुल्क रू 100/- है। कुल आपत्ति शुल्क का भुगतान आप ई-मित्र कियोस्क या अभ्यर्थी स्वयं के माध्यम से भी पोर्टल पर उपलब्ध पेमेंट गेटवे के जरिए कर सकता है। वहीं शुल्क वापस लौटाने का कोई प्रावधान नहीं है। इसके अलावा शुल्क के अभाव में कोई आपत्ति स्वीकार नहीं की जाएगी। साथ ही आपत्तियां सिर्फ ऑनलाइन माध्यम से ही दर्ज कराई जा सकती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App