एमबीए प्रवेश परीक्षाओं के लिए पंजीकरण शुरू

अगले शैक्षणिक वर्ष के लिए व्यवसाय प्रबंधन में स्नातकोत्तर (एमबीए) पाठ्यक्रम में प्रवेश प्रक्रिया शुरू हो चुकी है।

अगले शैक्षणिक वर्ष के लिए व्यवसाय प्रबंधन में स्नातकोत्तर (एमबीए) पाठ्यक्रम में प्रवेश प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। सबसे अधिक प्रतिस्पर्धी एमबीए प्रवेश परीक्षाओं के लिए पंजीकरण भी शुरू हो चुका है। अलग-अलग क्षेत्र से स्नातक विद्यार्थियों के लिए एमबीए पसंदीदा स्नातकोत्तर पेशेवर पाठ्यक्रमों में से एक है।

एमबीए पाठ्यक्रम प्रवेश में शामिल होने की उम्मीद करने वाले विद्यार्थी भारतीय प्रबंधन संस्थान (आइआइएम) में प्रवेश के लिए सामान्य प्रवेश परीक्षा 2021 (कैट-2021) जैसी विभिन्न परीक्षाओं में शामिल हो सकते हैं जिनमें सिम्बायोसिस नेशनल एप्टीट्यूड टेस्ट, भारतीय विदेश व्यापार संस्थान, जेवियर एप्टीट्यूड टेस्ट और संयुक्त प्रबंधन प्रवेश परीक्षा शामिल हैं।

संयुक्त प्रवेश परीक्षा के लिए पंजीकरण प्रक्रिया चार अगस्त को शुरू हुई और 15 सितंबर को शाम पांच बजे समाप्त होगी। 28 नवंबर को परीक्षा निर्धारित है। विद्यार्थी कैट के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर आवेदन कर सकते हैं। परीक्षा आइआइएम अहमदाबाद की ओर से आयोजित जाएगी और परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले विद्यार्थियों को एमबीए कार्यक्रमों के लिए आइआइएम में प्रवेश मिलेगा। सिम्बायोसिस अंतरराष्ट्रीय (डीम्ड) विश्वविद्यालय, पुणे ने 31 अगस्त से सिम्बायोसिस नेशनल एप्टीट्यूड आॅनलाइन परीक्षा (एसएनएपी-2021) के लिए पंजीकरण प्रक्रिया शुरू कर दी है। रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया 27 नवंबर तक जारी रहेगी।

इच्छुक विद्यार्थी आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। राष्ट्रीय परीक्षा एजंसी (एनटीए) ने भारतीय विदेश व्यापार संस्थान प्रवेश (आइआइएफटी-2022) के लिए एक सितंबर से आवेदन आमंत्रित किए हैं। विद्यार्थी आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर अपना पंजीकरण करा सकते हैं। पंजीकरण प्रक्रिया 15 अक्तूबर को समाप्त होगी। जेवियर एप्टीट्यूड टेस्ट (एक्सएटी-2022)के लिए भी पंजीकरण शुरू हो गया है, जो विद्यार्थी परीक्षा के लिए आवेदन करने के इच्छुक हैं, वे आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से पंजीकरण करा सकते हैं। आवेदन प्रक्रिया 30 नवंबर को समाप्त होगी और प्रवेश पत्र 30 दिसंबर से डाउनलोड करने के लिए उपलब्ध होंगे। एक्सएटी-2022 की परीक्षा दो जनवरी 2022 को होगी।
यूजीसी नेट परीक्षा की तिथि में बदलाव

राष्ट्रीय परीक्षा एजंसी (एनटीए) ने विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) राष्ट्रीय योग्यता परीक्षा (नेट) 2021 की तारीखों में संशोधन किया है। इसके अनुसार, अब यह परीक्षा छह से आठ अक्तूबर के बीच पहले चरा में परीक्षा कराई जाएगी। वहीं, दूसरे चरण में 17 से 19 अक्तूबर के बीच परीक्षा का आयोजन होग, जबकि पहले यह परीक्षा 6 से 11 अक्तूबर, 2021 के बीच होनी थी। लेकिन अब एनटीए ने इसमें बदलाव किया है। इस संबंध में एजंसी ने एक आधिकारिक अधिसूचना जारी की है। इसके मुताबिक, विश्वविद्यालय अनुदान आयोग राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा दिसंबर और जून सत्र 2021 की परीक्षा तिथि में संशोधन किया गया है। एनटीए के मुताबिक, यह जानकारी प्राप्त हुई है कि 10 अक्तूबर को यूजीसी नेट परीक्षा के साथ-साथ कुछ अन्य प्रमुख परीक्षाएं भी उस दिन के लिए निर्धारित है। ऐसे में परीक्षार्थियों को कठिनाई को समझते हुए और उम्मीदवारों की बड़ी भागीदारी सुनिश्चित करने की दूष्टि से यूजीसी नेट दिसंबर की कुछ तिथियों को दोबारा संशोधित किया गया है। यूजीसी नेट 2021 अक्तूबर परीक्षा के लिए नई परीक्षा तिथियां और कार्यक्रम एनटीए की वेबसाइट पर जारी किया गया है।

सीबीएसई ने जारी किए सैंपल पेपर
केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने छमाही परीक्षाओं के लिए दसवीं और बारहवीं के लिए सैंपल पेपर जारी कर दिए हैं। विद्यार्थी सीबीएसई की वेबसाइट पर जाकर इन पेपर को देख सकते हैं। कोरोना विषाणु संक्रमण महामारी के मद्देनजर बोर्ड ने इस बार दसवीं और बारहवीं की परीक्षाएं साल में दो बार आयोजित करने का निर्णय किया है। इसके तहत दोनों कक्षाओं की छमाही परीक्षाएं नवंबर में होंगी। नवंबर में होने वाली परीक्षाओं के लिए ही बोर्ड की ओर से दोनों कक्षाओं के सभी विषयों के सैंपल पेपर जारी किए गए हैं।

पढें एजुकेशन समाचार (Education News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट