ताज़ा खबर
 

BSER 10th, 12th Result 2017: घोषित हुए राजस्थान 10वीं और 12वीं बोर्ड पूरक परीक्षा के परिणाम, यहां देखें

RBSE, BSER 10th 12th Supplementary Result 2017: राजस्थान बोर्ड ऑफ सेकेंड्री एजुकेशन (RBSE) द्वारा 10वीं और 12वीं के सप्लीमेंट्री एग्जाम्स के नतीजों की घोषणा हो चुकी है।

RBSE Supplementary Result 2017: छात्र अपने नतीजे राजस्थान बोर्ड ऑफ सेकेंड्री एजुकेशन की आधिकारिक वेबसाइट पर देख सकेंगे।

BSER 10th, 12th Result 2017: राजस्थान बोर्ड ऑफ सेकेंड्री एजुकेशन (RBSE) द्वारा आज 10वीं और 12वीं के सप्लीमेंट्री एग्जाम्स के नतीजों की घोषणा कर दी गई है। बोर्ड ने उन छात्रों के लिए सप्लीमेंट्री परीक्षा का आयोजन बीते जून/जुलाई महीने में कराया था, जो रेग्यूलर परीक्षा में हाजिर नहीं हो पाए थे या फिर क्वॉलिफाई नहीं कर पाए थे। परीक्षा तीनों स्ट्रीम(आर्ट्स/साइन्स/कॉमर्स) के छात्रों के लिए आयोजित हुई थी। सप्लीमेंट्री नतीजों की घोषणा मंगलवार (19 सितंबर) को लगभग दोपबर 1 बजे की गई। नतीजों की घोषणा हो चुकी है और छात्रों को इंतजार करने की और जरूरत नहीं। छात्र अपने नतीजे राजस्थान बोर्ड ऑफ सेकेंड्री एजुकेशन की आधिकारिक वेबसाइट rajresults.nic.in पर देख सकते हैं। इस वेबपेज पर छात्र आपना रोल नंबर डालकर अपना रिजल्ट चेक कर सकेंगे।

गौरतलब है राज्य में राजस्थान बोर्ड ऑफ सेकेंड्री एजुकेशन की स्थापना दिसंबर 1957 में हुई थी। बोर्ड का मुख्यालय अजमेर में है। हर साल 10वीं और 12वीं के मेन एग्जाम्स राजस्थान बोर्ड ऑफ सेकेंड्री एजुकेशन ही आयोजित कराता है। बोर्ड साल में दो बार 10वीं की परीक्षा का आयोजन कराता है। इनमें पहले मेन एग्जाम होते हैं और उसके बाद सप्लीमेंट्री एग्जाम। वहीं राजस्थान बोर्ड ऑफ सेकेंड्री एजुकेशन पर न सिर्फ परीक्षाओं का आयोजन कराता है बल्कि राज्य में छात्रों को उच्च स्तरीय शिक्षा मुहैया कराने की जिम्मेदारी भी बोर्ड की है। बता दें इस साल राजस्थान बोर्ड ऑफ सेकेंड्री एजुकेशन ने बीते मार्च महीने में 10वीं और 12वीं की परीक्षओं का आयोजन कराया था। मेन परीक्षाओं के आयोजन के बाद जून/जुलाई महीने में सप्लीमेंट्री एग्जाम आयोजित कराए गए थे, जिनके नतीजों की घोषणा आज हो चुकी है। बात दें इस साल कक्षा 10वीं के लगभग 10,72,799 छात्रों ने परीक्षा दी थी। परीक्षा में 78.96 फीसद छात्र पास हुए। ऐसे ही 12वीं का पासिंग पर्सेंटेज 90.36 फीसद (साइन्स) और  90.88 फीसद (कॉमर्स) के छात्रों का रहा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App