ताज़ा खबर
 

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया में निकली ऑफिस असिस्टेंट भर्ती की परीक्षा के हॉल टिकट जारी, यहां से करना होगा डाउनलोड

RBI Assistant Exam 2016: आरबीआई ने नवंबर में ही इस परीक्षा के लिए आवेदन आमंत्रित किए थे और इस भर्ती के माध्यम से 610 पदों के लिए आवेदन स्वीकार किए गए हैं। बता दें कि लोगों ने 7 नवंबर से 28 नवंबर तक इस परीक्षा के लिए आवेदन किया था

रिसर्व बैंक ऑफ इंडिया। (फाइल फोटो)

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने ऑफिस असिस्टेंट पदों पर भर्ती के लिए आवेदन मांगे थे और अब इन पदों के लिए योग्य उम्मीदवारों का चयन करने के लिए परीक्षा का आयोजन किया जाएगा। अब आरबीआई ने इस परीक्षा के लिए सबसे जरुरी दस्तावेज एडमिट कार्ड भी जारी कर दिए हैं, परीक्षा में भाग लेने वाले उम्मीदवार आरबीआई की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर अपना एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं। इस परीक्षा का आयोजन 23 दिसंबर और 24 दिसंबर को किया जाएगा और इस दिन परीक्षा केंद्र में प्रवेश होने के लिए एडमिट कार्ड की हार्ड कॉपी होनी जरुरी है। अब बैंक ने यह एडमिट कार्ड डाउनलोड करने वाला लिंक एक्टीवेट कर दिया है।

आरबीआई ने नवंबर में ही इस परीक्षा के लिए आवेदन आमंत्रित किए थे और इस भर्ती के माध्यम से 610 पदों के लिए आवेदन स्वीकार किए गए हैं। बता दें कि लोगों ने 7 नवंबर से 28 नवंबर तक इस परीक्षा के लिए आवेदन किया था। इस भर्ती में उम्मीदवारों का चयन लिखित परीक्षा और इंटरव्यू के आधार पर किया जाएगा। पहले इस भर्ती के लिए प्रारंभिक परीक्षा करवाई जाएगी और उसके बाद मेंस परीक्षा का आयोजन किया जाएगा, जिसमें प्री परीक्षा में पास होने वाले उम्मीदवार भाग लेंगे। सबसे पहले आरबीआई की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं और परीक्षा संबंधी लिंक पर क्लिक करें। उसके बाद इस परीक्षा से जुड़े लिंक पर क्लिक करें और उसके बाद मांगी गई सूचना भरकर अपना एडमिट कार्ड डाउनलोड कर लें।

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया देश की मुद्रा को लेकर कई अहम फैसले लेता है और मु्द्रा संबंधी काम भी देखता है। वहीं आरबीआई समय समय पर भर्ती भी निकालता है और योग्य उम्मीदवारों की नियुक्ति के लिए परीक्षा, इंटरव्यू का आयोजन भी करता है। आरबीआई बैंक नोटों के निर्गम को नियन्त्रित करता है, भारत में मौद्रिक स्थायित्व प्राप्त करने की दृष्टि से प्रारक्षित निधि रखता है और सामान्यत: देश के हित में मुद्रा व ऋण प्रणाली परिचालित करता है। साथ ही मौद्रिक नीति तैयार करना, उसका कार्यान्वयन और निगरानी करना और वित्तीय प्रणाली का विनियमन और पर्यवेक्षण करना, विदेशी मुद्रा का प्रबन्धन करना, मुद्रा जारी करना, उसका विनिमय करना और परिचालन योग्य न रहने पर उन्हें नष्ट करना आदि आरबीआई के प्रमुख काम है।

पूर्व RBI गवर्नर बिमल जालान ने नोटबंदी पर खड़े किए सवाल; कहा- “अब क्यों…फैसले को सीक्रेट रखने से क्या मदद मिली?

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App