ताज़ा खबर
 

Rajasthan Board class 9, 11 Result 2020: COVID-19 के कारण इस प्रक्रिया से पास होंगे कक्षा 1 से 8वीं, 9वीं और 11वीं के छात्र, जानें कब मिलेगा रिजल्ट

Rajasthan board class 1 to 8, 9 and 11 result 2020: राजस्थान बोर्ड RBSE ने अर्द्धवार्षिक परीक्षा में 50% वेटेज, तीन यूनिट टेस्ट को 20% वेटेज और 30 प्रतिशत वेटेज को-करिकुलर एक्टिविटीज और क्लास परफॉर्मेंस को अलॉट करने का फैसला किया है।

Rajasthan Board, RBSE, Coronavirus, Rajasthan Board Result 2020, Rajasthan Board task force, rajeduboard.rajasthan.gov.in, Rajasthan board class 9, 11 result 2020, BOARD OF SECONDARY EDUCATIONRajasthan board class 9, 11 result 2020: शिक्षण प्रक्रिया ऑनलाइन मोड में जारी रहेगी और शिक्षक और अधिकारी उसी के अनुसार उपलब्ध रहेंगे।

Rajasthan board class 1 to 8, 9 and 11 result 2020: राजस्थान बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (Rajasthan Board of Secondary Education, RBSE) ने कक्षा 1 से 8वीं, 9वीं और 11वीं के छात्रों को अगली क्लास में प्रमोट करने की योजना बनाई है। वैश्विक महामारी नॉवेल कोरोनावायरस COVID-19 के कारण देश में लॉकडाउन लागू है जिसके कारण छात्रों को पास करने का फैसला लिया गया है। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से शिक्षण संस्थानों में शैक्षणिक सत्र की स्थिति और आगामी सत्र की तैयारियों की समीक्षा के दौरान अशोक गहलोत ने इसके निर्देश दे दिए हैं। इसके बाद शनिवार को इसके सरकारी आदेश भी जारी कर दिए गए। हालांकि, 9वीं और 11वीं क्लास के छात्रों को अगली क्लास में प्रमोट करने के लिए मूल्यांकन प्रक्रिया होगी। इस प्रक्रिया में अब तक के सत्र में छात्रों के प्रदर्शन पर गौर किया जाएगा, जैसे तीन यूनिट टेस्ट, अर्धवार्षिक परीक्षा, को-करिकुलर एक्टिविटीज और क्लास प्रफोरमेंस। इन गतिविधियों को ध्यान में रखते हुए छात्रों को कुल 100 अंकों में से अंक दिए जाएंगे।

दरअसल, देश में कोरोनावायर और 21 दिन के लॉकडाउन के कारण सभी स्कूल, शिक्षण संस्थान अगली सूचना तक बंद कर दिए गए थे। ऐसे में क्लास और एग्जाम दोनों का आयोजन कराना नामुमकिन है। राज्य में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर साढ़े पांच सौ के पार चली गई है जिसमें से 3 की मौत हो गई है। ऐसे में सरकार और राजस्थान बोर्ड ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इस समस्या का समाधान निकाला है। बोर्ड ने अर्द्धवार्षिक परीक्षा में 50% वेटेज, तीन यूनिट टेस्ट को 20% वेटेज और 30 प्रतिशत वेटेज को-करिकुलर एक्टिविटीज और क्लास परफॉर्मेंस को अलॉट करने का फैसला किया है। बोर्ड एक ही फॉर्मूले का पालन करते हुए हर विषय में एक छात्र के अंकों की गणना करेगा। स्कूल लॉकडाउन अवधि समाप्त होने के बाद छात्रों को परिणाम प्रमाण पत्र जारी करेंगे।

शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासारा ने ट्वीट कर कहा- ‘प्रदेश में कोरोना से उपजी विपरीत परिस्थितियों की वजह से कक्षा 10 व 12 को छोड़कर सभी छात्रों को प्रमोट किया जायेगा। साथ ही प्रदेश के सभी स्कूल संचालकों को निर्देशित किया गया है की वे 15 मार्च के बाद बकाया कोई भी शुल्क, वर्तमान में लागू फीस व अग्रिम फीस का भुगतान 3 माह तक स्थगित रखें।’

बता दें कि, कक्षा 1 से 8 के छात्रों को सीधे अगली कक्षा में प्रमोट किया जाएगा। बोर्ड कक्षा 5 और 8 के लिए और अन्य सभी वर्गों के लिए पासिंग सर्टिफिकेट के लिए प्रारूप तैयार कर रहा है। अगली कक्षा में छात्रों को प्रमोट और एडमिशन के लिए जरूरी प्रक्रिया ऑनलाइन मोड के माध्यम से की जाएगी। बोर्ड सभी कक्षाओं के लिए ई-कंटेंट तैयार कर रहा है। शिक्षण प्रक्रिया ऑनलाइन मोड में जारी रहेगी और शिक्षक और अधिकारी उसी के अनुसार उपलब्ध रहेंगे।

Next Stories
1 RRB NTPC: रेलवे में सरकारी नौकरी के लिए किया है आवेदन, जानिए कहां तक पहुंची है बात
2 Bihar Board 10th Result: बिहार बोर्ड 10वीं का रिजल्ट, कल लॉकडाउन खुलते ही जारी हो सकते हैं परिणाम
3 Sarkari Naukri: शिक्षा, सेना, पुलिस, सिंचाई, ब्लॉक, तहसील समेत इन विभागों में करें सरकारी नौकरी के लिए आवेदन
ये पढ़ा क्या?
X