ताज़ा खबर
 

44 हजार से अधिक को मिले 100 में से 100

95 फीसद अंक पाने वालों की संख्या हुई दोगुनी : दसवीं कक्षा में इस बार के नतीजों में सभी जोन मिलाकर कुल 2,82,399 छात्रों ने 90 से 100 फीसदी के बीच अंक हासिल किए हैं। 95 फीसद या ज्यादा अंक पाने वालों की संख्या 2018 के मुकाबले दोगुनी से अधिक हो गई है।

Author Updated: May 7, 2019 6:08 AM
CBSE 10वीं का रिजल्ट जारी हो चुका है।

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की दसवीं कक्षा के विद्यार्थियों ने जमकर 100 में से 100 अंक प्राप्त किए। देशभर से इस बार सभी विषयों में कुल 44,711 विद्यार्थियों ने शतप्रतिशत अंक प्राप्त किए हैं। सामाजिक विज्ञान में सबसे ज्यादा 11267 विद्यार्थियों को 100 अंक मिले हैं। गणित में सौ अंक पाने वालों की संख्या 9614 है। हिंदी कोर्स-ए में 980, हिंदी कोर्स-बी में 1290, विज्ञान में 2872, अंग्रेजी कमर्शियल में 1820, संस्कृत में 2758, फाउंडेशन आॅफ आइटी में 6762, सूचना प्रौद्योगिकी में 4475 विद्यार्थियों को पूरे में से पूरे यानी 100 अंक मिले हैं।

95 फीसद अंक पाने वालों की संख्या हुई दोगुनी : दसवीं कक्षा में इस बार के नतीजों में सभी जोन मिलाकर कुल 2,82,399 छात्रों ने 90 से 100 फीसदी के बीच अंक हासिल किए हैं। 95 फीसद या ज्यादा अंक पाने वालों की संख्या 2018 के मुकाबले दोगुनी से अधिक हो गई है। पिछले साल 27476 विद्यार्थियों को 95 फीसद या अधिक अंक अधिक मिले थे। इस बार यह संख्या 57,256 तक पहुंच गई है। यह पिछले साल के मुकाबले 29,780 विद्यार्थियों ने 95 या अधिक अंक अर्जित किए हैं। इस साल 2,25,143 विद्यार्थियों ने 90 फीसद या ज्यादा अंक हासिल किए हैं जबकि 2018 में यह संख्या 1,31,493 थी।

यानी 2018 के मुकाबले में इस साल 93,650 ज्यादा विद्यार्थियों को 90 फीसद या अधिक मिले हैं। बोर्ड के मुताबिक बीते सालों मेंं प्रश्न पत्रों का पैटर्न बदला है। ऐसे में विद्यार्थी अच्छे अंक प्राप्त करने लगे हैं। इस बार विद्यार्थियों ने काफी विषयों में सौ का आंकड़ा छुआ है। सबसे कम आॅटोमोबाइल टेक्नॉलजी, एलिमेंट्री बिजनेस, हेल्थ केयर सर्विस में एक-एक छात्र ने सौ में सौ अंक हासिल किए हैं। इसके अलावा हिंदुस्तानी संगीत (वोकल) में 589, पेंटिंग में 374, फ्रेंच में 232, मराठी में 462 और बंगाली में 173 विद्यार्थियों को 100 में से 100 अंक मिले हैं।

दिल्ली के परिणाम में 2.35 फीसद का सुधार

सीबीएसई के दसवीं कक्षा के परिणामों में दिल्ली ने 2.35 फीसद का सुधार किया है। इस बार दिल्ली के 80.97 फीसद बच्चे पास हुए हैं जबकि 2018 में 78.62 फीसद विद्यार्थी पास हुए थे। पूरे देश में शीर्ष तीन स्थानों पर कुल 97 बच्चे रहे जिनमें दिल्ली के सिर्फ सात विद्यार्थी शामिल हैं। 498 अंक लाकर एमिटी इंटरनेशनल स्कूल, सेक्टर-7, पुष्प विहार में पढ़ने वाली शिविका दुधानी दिल्ली में अव्वल रहीं। इस साल दिल्ली के 3,25,638 विद्यार्थियों ने दसवीं की परीक्षा के लिए पंजीकरण कराया था जिसमें से 3,22,067 ने परीक्षा दी। इनमें से 2,60,789 विद्यार्थियों ने परीक्षा उत्तीर्ण की। पिछले साल 2,89,717 ने परीक्षा के लिए पंजीकरण कराया था जिनमें से 2,86,660 बच्चे ने परीक्षा दी थी। इनमें से 2,25,361 विद्यार्थी पास हुए थे। जहां तक क्षेत्रवार परिणाम की बात है तो दिल्ली 80.97 फीसद नतीजे के साथ नौवें स्थान पर रही। 13 विद्यार्थी 500 में से 499 अंक लाकर पहले स्थान पर रहे जिनमें दिल्ली का कोई विद्यार्थी शामिल नहीं रहा। 498 अंक लाकर 25 विद्यार्थी दूसरे स्थान पर रहे जिनमें सिर्फ एक छात्रा शिविका दुदानी हैं। 497 अंक पाने वाले 59 विद्यार्थी तीसरे स्थान पर रहे। इनमें से केवल छह दिल्ली के हैं।

केवीएस ने मारी बाजी
केंद्रीय विद्यालयों ने जवाहर नवोदय विद्यालयों को पीछे छोड़ते हुए देश भर में पहला स्थान प्राप्त किया है। इस साल केंद्रीय विद्यालयों का परिणाम 99.47 फीसद रहा जो पिछले साल के मुकाबले 3.51 फीसद अधिक है। नवोदय विद्यालय का परिणाम 98.57 फीसद रहा। पिछले साल नवोदय विद्यालय 97.31 फीसद परिणाम के साथ पहले पायदान पर थे। इस साल निजी स्कूलों का परिणाम 94.15 फीसद, सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों का 76.95 फीसद और सरकारी स्कूल का परिणाम 71.91 फीसद रहा।
7.88 फीसद देंगे कंपार्टमेंट परीक्षा
दसवीं के 1,38,705 विद्यार्थियों को कंपार्टमेंट परीक्षा देनी होगी। यह संख्या परीक्षा में बैठे कुल विद्यार्थियों की संख्या का 7.88 फीसद है। पिछले साल 1,86,067 विद्यार्थियों ने कंपार्टमेंट परीक्षा दी थी।
दिव्यांग श्रेणी के 95.99 फीसद पास
सीबीएसई की कक्षा 10वीं की परीक्षा में इस साल 5233 दिव्यांग श्रेणी के विद्यार्थी बैठे थे। इनमें से 5023 विद्यार्थी पास हुए जो 95.99 फीसद होता है। उत्तीर्ण हुए विद्यार्थियों में से 275 ने 90 या अधिक अंक जबकि 48 ने 95 या ज्यादा अंक प्राप्त किए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 सीए बनना चाहती हैं CBSE 10वीं की टॉपर, सोशल मीडिया पर एक्टिव होने के बावजूद कैसे बनीं अव्वल? जानिए
2 CBSE Board 10th Result: ट्रांसजेंडर स्‍टूडेंट्स का रिजल्‍ट रहा सबसे बेहतर
3 CBSE 10th Result 2019: 13 स्टूडेंट्स ने किया टॉप, 97 छात्रों ने टॉप 3 में बनाई जगह
ये पढ़ा क्‍या!
X