ताज़ा खबर
 

NTA NEET 2020: देखें कैटेगरी वाइस कट-ऑफ स्‍कोर और एडमिशन का प्रोसेस

NEET 2020 Counselling: रिजल्‍ट के साथ NEET 2020 कट-ऑफ घोषित किया जाएगा। हालांकि, उम्मीदवार संदर्भ के लिए शीर्ष 10 मेडिकल कॉलेजों के पिछले वर्ष के एनईईटी कट-ऑफ की जांच कर सकते हैं।

NTA NEET 2020, NEET 2020 Counselling, NEET 2020 Cut-Offउम्मीदवारों को काउंसलिंग के लिए पात्र होने के लिए आधिकारिक वेबसाइट- mcc.nic.in पर रजिस्‍ट्रेशन पूरा करना होगा।

NEET 2020 Counselling: मेडिकल काउंसलिंग कमेटी (MCC) की ओर से स्वास्थ्य विज्ञान महानिदेशालय (DGHS) NEET 2020 काउंसलिंग आयोजित करेगा। काउंसलिंग ऑनलाइन मोड में आयोजित की जाएगी। केवल NEET 2020 में क्‍वालिफाइड उम्मीदवार ही काउंसलिंग में भाग लेने के लिए पात्र होंगे। कुल तीन राउंड में काउंसलिंग का आयोजन किया जाएगा। यह राउंड काउंसलिंग केवल डीम्ड/ सेंट्रल यूनिवर्सिटी और ईएसआईसी कॉलेज में रिक्त सीटों के लिए प्रवेश के लिए आयोजित की जाती है। प्रवेश प्रक्रिया के लिए पात्र होने के लिए न्यूनतम NEET एग्‍जाम कट-ऑफ प्राप्त करके उम्मीदवारों को प्रवेश परीक्षा में उत्तीर्ण होना होगा। उम्मीदवारों को काउंसलिंग के लिए पात्र होने के लिए आधिकारिक वेबसाइट- mcc.nic.in पर रजिस्‍ट्रेशन पूरा करना होगा।

NEET 2020 काउंसलिंग: स्‍टेप वाइस प्रक्रिया
स्‍टेप 1 रजिस्‍ट्रेशन: NEET क्‍वालिफाइड उम्मीदवारों को आधिकारिक वेबसाइट mcc.nic.in पर खुद को रजिस्‍टर करना होगा। रजिस्‍ट्रेशन के दौरान, उम्‍मीदवारों को अपना व्यक्तिगत, शैक्षणिक, NEET रिजल्‍ट, कॉन्‍टैक्‍ट डीटेल्‍स और अन्य पूछे गए विवरण भरने होंगे।

स्‍टेप 2 शुल्‍क भुगतान: रजिस्‍ट्रेशन करने के लिए, उम्मीदवारों को एक रजिस्‍ट्रेशन और ट्यूशन शुल्क का भुगतान करना होगा। सामान्य कैटेगरी के लिए रजिस्‍ट्रेशन शुल्क रु 1000, जबकि SC/ST/OBC के लिए यह रु 500 निर्धाारित है।

स्‍टेप 3 च्वाइस फिलिंग और लॉकिंग: रजिस्‍ट्रेशन के बाद, उम्मीदवारों को उन कॉलेजों और सिलेबस को सेलेक्‍ट करने का मौका दिया जाएगा जिनमें वे प्रवेश लेना चाहते हैं। उम्मीदवारों को उनके द्वारा चिह्नित प्राथमिकताओं के आधार पर सीटें आवंटित की जाएंगी।

स्‍टेप 4 सीट अलॉटमेंट: भरे गए विकल्पों के आधार पर, उपलब्ध सीटें, NEET रैंक, आरक्षण मानदंड और अन्य कारक, सीट आवंटन सूची काउंसलिंग के प्रत्येक दौर के बाद जारी की जाएगी।

स्‍टेप 5 अलॉटेड कॉलेज को रिपोर्ट करना: जिन उम्मीदवारों को सीट मिलेगी उन्हें निर्धारित तिथि और समय से पहले आवंटित कॉलेज को रिपोर्ट करना होगा। सत्यापन के लिए उन्हें सभी आवश्यक दस्तावेज भी कॉलेज में ले जाने होंगे।

NEET 2020 कट-ऑफ स्‍कोर
प्रवेश के लिए NEET 2020 कट-ऑफ अंतिम रैंक है जिस पर उम्मीदवार को किसी विशेष मेडिकल / डेंटल कॉलेज में प्रवेश दिया जाएगा। कई कारकों के आधार पर हर साल कट-ऑफ में बदलाव होता है। रिजल्‍ट के साथ NEET 2020 कट-ऑफ घोषित किया जाएगा। हालांकि, उम्मीदवार संदर्भ के लिए शीर्ष 10 मेडिकल कॉलेजों के पिछले वर्ष के एनईईटी कट-ऑफ की जांच कर सकते हैं।

केंद्रीय विश्वविद्यालयों के लिए NEET 2020 काउंसलिंग मानदंड
– बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (BHU) में एडमिशन के लिए सभी क्‍वालिफाइड उम्मीदवार काउंसलिंग के लिए पात्र होंगे जो NEET 2020 काउंसलिंग के लिए पात्र हैं।
– अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (AMU) में एडमिशन के लिए जिन उम्मीदवारों ने पिछले तीन वर्षों से विश्वविद्यालय के स्कूल से पढ़ाई की है, उन्हें 50 प्रतिशत संस्थागत आरक्षण होगा। सभी NEET क्‍वालिफाइड उम्मीदवार शेष 50 प्रतिशत सीटों के लिए पात्र होंगे।
– दिल्ली विश्वविद्यालय के कॉलेजों में ऑल इंडिया 15 प्रतिशत सीटों का कोटा रहता है और दिल्ली में कक्षा 11वीं और 12वीं की पढ़ाई करने वाले उम्मीदवार केवल 85 प्रतिशत संस्थागत कोटे की सीटों के लिए पात्र होंगे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Sarkari Naukri-Result 2020: 10वीं पास से लेकर पोस्‍ट ग्रेजुएट तक के लिए निकली हैं ढ़ेरों सरकारी नौकरी, यहां करें अप्‍लाई
2 NTA UGC NET Admit Card 2020: एग्‍जाम के एडमिट कार्ड, क्‍या फिर स्‍थगित हो सकती है ऑनलाइन परीक्षा
3 यूपी बोर्ड 10वीं 12वीं के स्टूडेंट्स के लिए नंबर बढ़वाने का मौका, upmsp.edu.in से डाउनलोड करें एडमिट कार्ड
IPL 2020 LIVE
X