ताज़ा खबर
 

NEET 2020: छात्रों के लिए बड़ी राहत, मालदा रेलवे डिवीजन ने किया साहेबगंज- पटना परीक्षा विशेष ट्रेन चलाने का ऐलान

NTA NEET 2020 Exam: 13 सितंबर को आयोजित मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट के छात्रों को तो बड़ी राहत मिली है। ज्यादातर टिकटें पटना के लिए बुक हुई है। टिकट आरक्षण के लिए अफरातफरी का माहौल देखा गया।

train, railway, NEET 2020, neet exam 2020डीआरएम के मुताबिक छात्रों की सुविधा और भीड़ कम करने के लिए पूर्व रेलवे ने यह फैसला लिया है। ( प्रतीकात्मक तस्वीर)

NTA NEET 2020 Exam: 13 सितंबर को आयोजित मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट के लिए मालदा रेलवे डिवीजन ” एक्ज़ाम सेशल ट्रेन ” चलाने की घोषणा की है। डीआरएम यतेंद्र कुमार के मुताबिक इस ट्रेन का नंबर 03413 है । जो साहेबगंज से पटना के लिए 12 सितंबर शनिवार को रात 11.45 बजे रवाना होगी। और पटना जंक्शन 13 सितंबर को सुबह 4.55 बजे पहुंचेगी। इसी तरह वापसी ट्रेन का नंबर 03414 है। पटना से यह 13 तारीख की रात 8.55 बजे खुलकर साहेबगंज 14 सितंबर को सुबह 4.05 मिनट को पहुंचेगी। यह छात्रों के लिए बड़ी राहत भरी खबर है।

डीआरएम के मुताबिक छात्रों की सुविधा और भीड़ कम करने के लिए पूर्व रेलवे ने यह फैसला लिया है। यह विशेष ट्रेन साहेबगंज, पीरपैंती, कहलगांव, सबौर, भागलपुर, सुलतानगंज, बरियारपुर, जमालपुर, अभयपुर, कजरा, क्युल, बड़हिया, मोकामा, बाढ़, बख्तियारपुर, फतुहा, पटना साहिब, राजेंद्रनगर, पटना स्टेशनों पर रुकेगी। वापसी में भी इसका यही रूट तय किया गया है। ट्रेन 20 कोच की होगी। और सामान्य डब्बे तक आरक्षित होंगे।

इधर 12 सितंबर से चलाई जाने वाली 0267 भागलपुर-आनंदविहार विक्रमशिला ट्रेन के सामान्य बोगी में सफर के लिए भी आरक्षण कराना जरूरी है। कोरोना की वजह से 22 मार्च से बंद हुई ट्रेनों में से भागलपुर स्टेशन से रवाना होने वाली यह पहली ट्रेन है। टिकटों की बुकिंग खुलते ही एक पखवारा तक फूल हो गई। स्लीपर में तो 7 अक्तूबर तक बर्थ उपलब्ध नहीं है।

NEET 2020 Exam Live Updates: Check Here

दरअसल यात्रा के इंतजार में कई महीनों से बैठे लोगों के लिए दिल्ली जाने वाली विक्रमशिला ट्रेन उम्मीदों की किरण लेकर आई है। खासकर 13 सितंबर को आयोजित मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट के छात्रों को तो बड़ी राहत मिली है। ज्यादातर टिकटें पटना के लिए बुक हुई है। टिकट आरक्षण के लिए अफरातफरी का माहौल देखा गया।

NEET 2020 Exam Dress code and Guidelines: Check Here

मालदा रेलवे डिवीजन के डीआरएम यतेंद्र कुमार के मुताबिक विक्रमशिला ट्रेन में बगैर आरक्षण वाले यात्रियों को यात्रा नहीं करने दिया जाएगा। ट्रेन रवाना होने के 90 मिनट पहले आरक्षित टिकट वाले यात्रियों को स्टेशन पहुंचना होगा। कोविड-19 के बचाव के नियमों का पालन करना होगा। कंफर्म टिकट वालों को ही स्टेशन में प्रवेश करने दिया जाएगा। इसके लिए आरपीएफ को तैनात रहने की हिदायत दी गई है। उन्होंने बताया कि ट्रेन की पेंट्री कार से केवल फास्ट फूड की ही आपूर्ति का इंतजाम है। मुसाफिरों को घर से खाना लाना होगा। वातानुकूलित डब्बे के यात्रियों को भी चादर-तकिया का खुद ही इंतजाम करना होगा।

डीआरएम बताते है कि विक्रमशिला ट्रेन में वातानुकूलित-1 में 10, टू में 80, थ्री में 288, स्लीपर में 880 और सामान्य श्रेणी में 198 मसलन कुल 1456 मुसाफिरों की यात्रा के लिए बर्थ है। विक्रमशिला ट्रेन 12 सितंबर से देश के विभिन्न स्टेशनों से चलने वाली 40 जोड़ी ट्रेनों में से एक है।

इधर ईस्टर्न बिहार चेंबर आफ कामर्स ऐंड इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष अशोक भिवानीवाला ने भागलपुर-हावड़ा, भागलपुर-पटना, भागलपुर से बेंगलुरु, सूरत, रांची, मालदा के लिए पत्र लिख ट्रेन चलाने की मांग रेलमंत्री से की है। डीआरएम कुमार के मुताबिक और ट्रेनों के चलाने का प्रस्ताव पहले भी भेजा गया था। अब दोबारा से फिर भेजा गया है। रेलवे बोर्ड के हरी झंडी की प्रतीक्षा है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 IBPS RRB Office Assistant Admit Card 2020: जारी हुआ ग्रुप ‘B’ प्रिलिमनरी एग्जाम का एडमिट कार्ड, जानिए कैसे करें डाउनलोड और परीक्षा की तारीख
2 सरकारी भर्ती 2020: 10वीं, 12वीं पास के लिए इन विभागों में निकली हैं सरकारी नौकरियां, मिलेगी अच्छी सैलरी
3 PM Modi speech on NEP 2020: पांचवी क्‍लास तक केवल मातृभाषा में ही होनी चाहिए पढ़ाई: प्रधानमंत्री मोदी
यह पढ़ा क्या?
X