ताज़ा खबर
 

नीट का आयोजन एक अगस्त को

चिकित्सा पाठ्यक्रमों के लिए राष्ट्रीय योग्यता एवं प्रवेश परीक्षा (नीट) का आयोजन एक अगस्त, 2021 को किया जाएगा।

Educationसांकेतिक फोटो।

चिकित्सा पाठ्यक्रमों के लिए राष्ट्रीय योग्यता एवं प्रवेश परीक्षा (नीट) का आयोजन एक अगस्त, 2021 को किया जाएगा। ये परीक्षा कागज और कलम के माध्यम से आयोजित होगी। इस परीक्षा का आयोजन राष्ट्रीय परीक्षा एजंसी (एनटीए) करती है।

नीट स्नातक प्रवेश परीक्षा का आयोजन चिकित्सा और दंत चिकित्सा पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए होता है। इसके जरिए अभ्यर्थियों को एमबीबीएस और बीडीएस पाठ्यक्रमों में दाखिला मिलता है। 2020 में 15 लाख विद्यार्थियों ने नीट को दिया था। इससे पहले कहा जा रहा था कि नीट स्नातक साल में दो बार आयोजित होगी। लेकिन, अब यह साफ हो गया है कि नीट स्नातक का आयोजन साल में एक बार ही होगा।

सीए, सीएस, सीडब्लूए स्नातकोत्तर के बराबर

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने चार्टर्ड अकाउंटेंट (सीए), कंपनी सेक्रेटरी (सीएस) और कॉस्ट एंड वर्क अकाउंटेंट (सीडब्लूए) को योग्यता नेट के लिए स्नातकोत्तर डिग्री के बराबर माना है। इससे इन पेशेवर योग्यताओं को हासिल करने वाले उम्मीदवार अपनी पढ़ाई आगे जारी रख सकेंगे।

यूजीसी की ओर से कहा गया है कि भारतीय चार्टर्ड अकाउंटेंट संस्थान, भारतीय कंपनी सेक्रेटरी संस्थान और भारतीय कॉस्ट एंड वर्क अकाउंटेंट संस्थान ने यूजीसी को उनकी ओर से दी जाने वाली योग्यता सीए, सीएस और सीडब्लूए की स्नातकोत्तर डिग्री के बराबर मानने के लिए लिखा था।

इसको लेकर आयोग ने एक समिति गठित की थी। फरवरी में समिति की बैठक हुई और उसकी अनुशंसा पर इन उपाधियों को स्नातकोत्तर डिग्री के बराबर माना है। तीनों संस्थानों ने यूजीसी के इस फैसले का स्वागत किया है और कहा है कि अब इन उपाधियों को हासिल करने वाले पेशेवरों को आगे पढ़ाई करने का मौका मिल सकेगा।

आइआइटी दिल्ली में पीएचडी और स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों के लिए दाखिले शुरू

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आइआइटी) दिल्ली ने स्नातकोत्तर और पीएचडी पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू कर दी है। इच्छुक उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर पंजीकरण कर सकते हैं। उम्मीदवार ध्यान रखें कि इन पाठ्यक्रमों में दाखिला लेने की आखिरी तारीख 24 अप्रैल 2021 तक है।

प्रवेश परीक्षा और साक्षात्कार 10 मई से 23 जून के बीच आयोजित किए जाएंगे। आइआइटी दिल्ली ने एप्लाइड मैकेनिक्स, केमिकल इंजीनियरिंग, रसायन शास्त्र, सिविल इंजीनियरिंग, कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग, मैटेरियल साइंस एंड इंजीनियरिंग, मैकेनिकल इंजीनियरिंग और टेक्सटाइल एंड फाइबर इंजीनियरिंग सहित अन्य पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए आवदेन की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

पीएचडी, एमटेक और एमएस के पूर्णकालिक और अल्प कालिक पाठ्यक्रमों में दाखिला सीटों की उपलब्धता के आधार पर दिया जाएगा। इसके अलावा एमटेक, एमई, एमडी पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए उम्मीदवारों के 60 फीसद अंक होने चाहिए। एमएससी, एमबीए, एमए, एमबीबीएस सहित अन्य पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए उम्मीदवार को गेट, यूजीसी नेट, आइसीएआर और आइसीएमआर छात्रवृत्ति प्राप्त होना चाहिए।

केंद्र बदलने का आज आखिरी मौका

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने दसवीं और बारहवीं के विद्यार्थियों को आगामी बोर्ड परीक्षाओं के लिए परीक्षा केंद्र बदलने की अनुमति दी है। आधिकारिक नोटिस के अनुसार विद्यार्थी एक अलग केंद्र से प्रयोगात्मक और लिखित परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं।

जो विद्यार्थी अपने परीक्षा केंद्र में बदलाव करना चाहते हैं, उन्हें 25 मार्च, 2021 तक अपने स्कूलों में आवेदन भेजना होगा। वहीं, विद्यार्थियों की ओर से किए गए अनुरोधों को स्कूलों द्वारा 31 मार्च तक सीबीएसई की वेबसाइट पर अपलोड करना होगा। बोर्ड का कहना है कि विद्यार्थियों को कोरोना विषाणु संक्रमण महामारी को देखते हुए उन्हें केंद्र बदलने की सुविधा दी गई है।

Next Stories
1 समय बर्बाद करने वाली आदतों को तुरंत बदल डालिए
2 JEE Main Result March 2021: जेईई मेन मार्च 2021 का रिजल्ट जारी, इतने कैंडिडेट्स के 100 पर्सेंटाइल
3 संगीत की दुनिया में मशहूर नाम थे बाबुल सुप्रियो, हवाई यात्रा के दौरान रामदेव ने दी राजनीति में आने की सलाह
ये पढ़ा क्या?
X