ताज़ा खबर
 

National Education Day 2019 Quotes, Images, Speech, Theme: जानिए कौन थे मौलाना अबुल कलाम आज़ाद और क्‍यों मनाया जाता है राष्‍ट्रीय शिक्षा दिवस

National Education Day 2019 Quotes, Images, Theme, Speech, Essay, Slogan, Pictures, Maulana Abul Kalam Azad Ka Jeevan Parichay, Quotes, Speech: आजाद ने महिलाओं की शिक्षा, सार्वभौमिक प्राथमिक शिक्षा और 14 साल की उम्र तक के सभी बच्चों के लिए अनिवार्य शिक्षा, व्यावसायिक प्रशिक्षण और तकनीकी शिक्षा की वकालत की।

national education day, national education day 2019, national education day 2019 theme, national education day quotes, national education day 2019 quotes, national education day images, national education day 2019 images, national education day 2019 speech, national education day speech in hindi, national education day slogan, national education day pictures, national education day photos, maulana abul kalam azad ka jeevan parichay, maulana abul kalam azad ka jeevan parichay in hindi, maulana abul kalam azad quotesNational Education Day 2019: उनका दृढ़ विश्वास था कि मातृभाषा में प्राथमिक शिक्षा दी जानी चाहिए। 

National Education Day 2019 Quotes, Images, Theme, Speech, Maulana Abul Kalam Azad Ka Jeevan Parichay, Quotes, Speech: भारत के पहले उपराष्ट्रपति मौलाना अबुल कलाम आज़ाद की जयंती मनाने के लिए, देश 11 नवंबर को राष्ट्रीय शिक्षा दिवस मनाता है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय (HRD) ने 11 सितंबर, 2008 को घोषणा की, “मंत्रालय ने भारत में शिक्षा के क्षेत्र में उनके योगदान को याद करते हुए भारत के इस महान बेटे के जन्मदिन को मनाने का फैसला किया है।” अबुल कलाम गुलाम मुहिउद्दीन ने 1947 से 1958 तक स्वतंत्र भारत के पहले शिक्षा मंत्री के रूप में काम किया।

आजाद ने महिलाओं की शिक्षा, सार्वभौमिक प्राथमिक शिक्षा और 14 साल की उम्र तक के सभी बच्चों के लिए अनिवार्य शिक्षा, व्यावसायिक प्रशिक्षण और तकनीकी शिक्षा की वकालत की। उनका दृढ़ विश्वास था कि मातृभाषा में प्राथमिक शिक्षा दी जानी चाहिए। 1949 में, सेंट्रल असेंबली में, उन्होंने मॉर्डन साइंस एंड नॉलेज में शिक्षा के महत्व पर जोर दिया। उन्होंने यह भी कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा का कोई भी कार्यक्रम उचित नहीं हो सकता है अगर यह समाज की आधी आबादी यानी महिलाओं की शिक्षा और उन्नति को पूरा ध्यान नहीं देता है।

Live Blog

National Education Day 2019: 

Highlights

    17:17 (IST)11 Nov 2019
    National Education Day 2019: साप्‍ताहिक पत्रिका का किया संपादन

    मौलाना आज़ाद ने 1912 में अपनी साप्‍ताहिक पत्रिका अल-हिलाल का संपादन करना शुरू किया। अपनी पत्रिका के माध्‍यम से कलाम ने न केवल अंग्रेजी हुकूमत पर हमले किए, बल्कि सांप्रदायिक सौहर्द और हिंदू-मुस्लिम एकता पर भी बल भी दिया।

    16:48 (IST)11 Nov 2019
    National Education Day 2019: खुद घर पर ही की पूरी पढ़ाई

    देश के पहले शिक्षा मंत्री की अपनी पूरी पढ़ाई घर पर ही हुई। पहले उनको घर पर पढ़ाया गया और बाद में उनके पिता ने पढ़ाया। उन्‍हें पढ़ाने के लिए उनके पिता ने कई शिक्षक भी रखे। कलाम ने स्‍वाध्‍याय के बल पर कई भाषाओं पर अपनी पकड़ बना ली थी।

    16:17 (IST)11 Nov 2019
    CBSE ने लिया है नेशनल एजुकेशन डे मनाने का फैसला

    मौलाना आज़ाद के जन्‍मदिन पर सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) ने साल 2015 में शिक्षा के क्षेत्र में किए गए उनके योगदान के लिए उनके जन्मदिन पर 'नेशनल एजुकेशन डे' (National Education Day 2019) मनाने का फैसला किया था। यह हर वर्ष 11 नवंबर को मनाया जाता है।

    15:49 (IST)11 Nov 2019
    National Education Day 2019: ये था मौलाना आज़ाद का असली नाम

    मौलाना आज़ाद का असल नाम अबुल कलाम गुलाम मोहिउद्दीन अहमद था लेकिन वह मौलाना आजाद के नाम से मशहूर हुए थे। मौलाना आजाद स्वतंत्रता संग्राम के शीर्ष नेताओं में से एक थे।

    15:23 (IST)11 Nov 2019
    National Education Day 2019: विद्वान लेखक के थे पुत्र

    अबुल कलाम आज़ाद के पिता का नाम मौलाना सैयद मोहम्मद खैरुद्दीन बिन अहमद अलहुसैनी था। वह एक विद्वान थे, जिन्होंने 12 किताबें लिखी थीं। अबुल कलाम पर भी उनकी विद्वता का असर आजीवन रहा।

    14:52 (IST)11 Nov 2019
    13 वर्ष की आयु में हो गया था विवाह

    मात्र 13 साल की उम्र में मौलाना आज़ाद की शादी खदीजा बेगम से हो गई थी। उनका नाम स्‍वाधीनता संग्राम के अहम सेनानियों में गिना जाता है।

    14:31 (IST)11 Nov 2019
    शिक्षा हर किसी का जन्‍मसिद्ध अधिकार है- मौलाना आज़ाद

    मौलाना अबुल कलाम आज़ाद ने कहा था - हमें एक पल के लिए भी यह नहीं भूलना चाहिए कि शिक्षा हरेक व्यक्ति का यह जन्मसिद्ध अधिकार है। हमें यह सुनिश्चित करना चाहिए कि हर व्‍यक्ति को बुनियादी शिक्षा मिले, बिना इसके वह पूर्ण रूप से एक नागरिक के अधिकार का निर्वहन नहीं कर सकता।

    14:01 (IST)11 Nov 2019
    National Education Day 2019: इनकी की थी स्थापना

    संगीत नाटक अकादमी, ललित कला अकादमी, साहित्य अकादमी के साथ-साथ भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद सहित अधिकांश सांस्कृतिक संस्थानों की स्थापना का श्रेय आजाद को ही जाता है।

    13:49 (IST)11 Nov 2019
    National Education Day 2019: मौलाना अबुल कलाम आजाद के कोट्स

    इस बात का एहसास होना बेहद जरूरी है कि आत्मविश्वास के साथ ही आत्म सम्मान आता है। - मौलाना अबुल कलाम आजादगुलामी अत्यंत बुरा होता है भले ही इसका नाम कितना भी खुबसूरत क्यों न हो। मौलाना अबुल कलाम आजाद

    13:14 (IST)11 Nov 2019
    National Education Day 2019: लक्ष्य के प्रति होना होगा समर्पित

    अगर आप अपने मिशन में सफलता हासिल करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको अपने लक्ष्य के प्रति पूरी तरह से समर्पित होना जरूरी है। - मौलाना अबुल कलाम आजाद

    12:49 (IST)11 Nov 2019
    National Education Day 2019: बुनियादी शिक्षा सभी का जन्मसिद्ध अधिकार

    हमें एक पल के लिए भी यह नहीं भूलना चाहिए कि हरेक व्यक्ति का यह जन्मसिद्ध अधिकार है कि उसे बुनियादी शिक्षा मिले, बिना इसके वह पूर्ण रूप से एक नागरिक के अधिकार का निर्वहन नहीं कर सकता।

    12:26 (IST)11 Nov 2019
    National Education Day 2019: मातृभाषा में हो प्राथमिक शिक्षा

    उन्होंने शैक्षणिक लाभों के लिए अंग्रेजी की भी वकालत की हालांकि उनका मानना था कि प्राथमिक शिक्षा मातृभाषा में दी जानी चाहिए।

    12:04 (IST)11 Nov 2019
    National Education Day 2019: आधुनिक विज्ञान पर दिया था जोर

    1949 में केंद्रीय असेंबली में उन्होंने आधुनिक विज्ञान के महत्व पर बल दिया। उन्होंने यह भी कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा का कोई भी कार्यक्रम तब तक सफल नहीं हो सकता जब तक समाज की आधी से ज्यादा आबादी यानी महिलाओं तक नहीं पहुंचता। 

    11:42 (IST)11 Nov 2019
    National Education Day 2019: शिक्षा ला सकती है क्रांति

    बहुत सारे लोग पेड़ लगाते हैं, लेकिन उनमें से कुछ को ही उसका फल मिलता है। -मौलाना अबुल कलाम आजाददिल से दी गयी शिक्षा समाज में क्रांति ला सकता है। -मौलाना अबुल कलाम आजाद

    11:21 (IST)11 Nov 2019
    National Education Day 2019: 1992 में मिला था भारत रत्न

    1992 में उन्हें भारत रत्न से भी नवाजा गया था। भारत की आजादी के बाद मौलाना अबुल कलाम ने विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC की स्थापना की थी।

    10:59 (IST)11 Nov 2019
    National Education Day 2019: सर्व शिक्षा के चल रहे हैं कई अभियान

    भारत में शिक्षा हेतु कई अभियान चलाये जा रहे हैं जिसमें सर्व शिक्षा अभियान शामिल है। सरकार अब प्राथमिक या माध्यमिक स्कलों के बच्चों को मुफ्त शिक्षा प्रदान कर रही है।

    10:37 (IST)11 Nov 2019
    National Education Day 2019: हिन्दू-मुस्लिम एकता के सबसे बड़े पैरोकार

    वह हिन्दू-मुस्लिम एकता के सबसे बड़े पैरोकार थे। मौलाना आजाद ने उर्दू, फारसी, हिन्दी, अरबी और अंग्रेजी़ भाषाओं में महारथ हासिल की। मौलाना अबुल कलाम आजाद ने 1912 में उर्दू में सप्ताकि पत्रिका अल-हिलाल निकालनी शुरू की जिससे युवाओं को क्रांति के लिए जोड़ा जा सके।

    10:12 (IST)11 Nov 2019
    National Education Day 2019: भारत के बंटवारे का किया था विरोध

    मौलाना अबुल कलाम का जन्म 11 नवम्बर 1888 में हुआ था। मौलाना अबुल कलाम आजाद महात्मा गांधी से प्रभावित होकर भारत के स्वतंत्रा संग्राम में बढ़चर कर हिस्सा लिया और भारत के बंटवारे का घोर विरोध किया।

    09:51 (IST)11 Nov 2019
    National Education Day 2019: ये भी इन्हीं के कार्यकाल में हुआ था

    पहला IIT, IISc, स्कूल ऑफ प्लानिंग एंड आर्किटेक्चर और विश्वविद्यालय अनुदान आयोग उनके कार्यकाल में स्थापित किया गया था।

    09:30 (IST)11 Nov 2019
    National Education Day 2019: इनकी की थी स्थापना

    संगीत नाटक अकादमी, ललित कला अकादमी, साहित्य अकादमी के साथ-साथ भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद सहित अधिकांश सांस्कृतिक संस्थानों की स्थापना का श्रेय आजाद को ही जाता है।

    09:18 (IST)11 Nov 2019
    National Education Day 2019: शुरू की थी अल-हिलाल नामक पत्रिका

    उन्होंने ब्रिटिश राज की आलोचना करने के लिए उर्दू में अल-हिलाल नामक एक साप्ताहिक पत्रिका शुरू की। उन्हें एक शिक्षाविद और एक स्वतंत्रता सेनानी के रूप में उनके योगदान के लिए 1992 में भारत रत्न से सम्मानित किया गया था।

    Next Stories
    1 Sarkari Naukri: BSF, पोस्ट ऑफिस, टीचर, दिल्ली पुलिस समेत इन विभागों में निकली हैं सरकारी नौकरी
    2 Sarkari Naukri: बिजली विभाग, टेक्‍नीशियन, लाइब्रेरियन, पुलिस और क्लर्क समेत इन पदों पर करें सरकारी नौकरी के लिए अप्लाई
    3 RRB NTPC: एक साथ दो जगह मिलेगी एडमिट कार्ड जारी होने की जानकारी
    ये पढ़ा क्या?
    X