ताज़ा खबर
 

JNU Election 2019 Result: वोटों की गिनती हुई, लेफ्ट के जीतने का अनुमान, लेकिन 17 को घोषित होंगे नतीजे

जेएनयू में मतों की गिनती पूरी हो चुकी है। नतीजों की आधिकारिक घोषणा पर 17 सितंबर को कोर्ट में होने वाली सुनवाई के बाद ही कोई फैसला लिया जा सकता है।

Author नई दिल्ली | Updated: September 9, 2019 3:26 PM
जेएनयू प्रतीकात्मक तस्वीर फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

JNU Election 2019 Result: जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्र संघ की चुनाव समिति ने रविवार ( 8 सितंबर) रात नौ बजे मत पत्रों की गिनती पूरी कर ली है। दिल्ली उच्च न्यायालय ने शुक्रवार ( 6 सितंबर) को विश्वविद्यालय को मंगलवार (17 सितंबर) तक परिणाम जारी करने से रोक लगा दी है। चुनाव समिति ने मतपत्रों की गिनती करने का निर्णय लिया लेकिन यह तय किया कि केंद्रीय पैनल के अंतिम 150 मतों के रूझान और काउंसलर पद के अंतिम 50 मतों के रूझान सार्वजनिक नहीं किए जाएंगे।

पिछले सात सालों में हुआ सबसे ज्यादा मतदानः समिति ने कहा, ‘‘ जेएनयूएसयू चुनाव समिति ने केंद्रीय पैनल के सभी पदों और स्कूलों के काउंसलर पदों के लिए मतपत्रों की गिनती आठ सितंबर को रात नौ बजे तक पूरी कर ली ।’’समिति ने बताया कि दिल्ली उच्च न्यायालय द्वारा 6 सितंबर को दिए आदेश के मुताबिक अंतिम परिणाम रोका जा रहा है। शुक्रवार को आयोजित छात्र संघ के चुनाव में कुल 67.9 फीसदी मतदान हुआ जो पिछले सात वर्षों में सबसे ज्यादा है।

National Hindi News, 9 September 2019 LIVE News Updates: देश-दुनिया की तमाम अहम खबरों के लिए क्लिक करें
गठबंधन में लड़ा गया चुनावः ऑल इंडिया स्टूडेंट्स एसोसिएशन (आइसा), स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एसएफआई), डेमोक्रेटिक स्टूडेंट्स फेडरेशन (डीएसएफ) और ऑल इंडिया स्टूडेंट्स फेडरेशन (एआईएसएफ) ने गठबंधन में यह चुनाव लड़ा है। इसके अलावा राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) से संबद्ध अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) ने भी केंद्रीय पैनल के सभी चार पदों पर अपने उम्मीदवार खड़े किए थे। वहीं कांग्रेस से संबद्ध नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (एनएसयूआई) ने सिर्फ अध्यक्ष पद ही उम्मीदवार खड़े किए थे। बिरसा आंबेडकर फुले स्टूडेंट्स एसोसिएशन (बापसा) ने अध्यक्ष और महासचिव पद पर उम्मीदवार खड़े किए हैं।
Weather Forecast Today Live Latest News Updates: पढ़ें देशभर के मौसम का हाल

अपडेट के मुताबिक जेएनयूएसयू बैलेट में 5762 में से 5050 मतों की गिनती की गई है। चूंकि दिल्ली उच्च न्यायालय ने 17 सितंबर तक जेएनयूएसयू चुनाव परिणामों पर रोक लगा दी है, इसलिए अंतिम छात्र चुनाव परिणाम अभी तक घोषित नहीं किए जा सकते हैं। यहां व्यक्तिगत पार्टी के सदस्यों से प्राप्त जेएनयू बैलेट के मतों का डाटा इस प्रकार हैः

अध्यक्ष पद के उम्मीदवार
आयशा घोष ( लेफ्ट)- 2069
जितेंद्र सूना ( बापसा)- 985
मनीष जागिंड़ ( एबीवीपी)- 981
प्रशांत कुमार- 665
प्रियंका भारती ( सीआरजेडी)- 137
रघुवेंद्र मिश्रा ( निर्दलीय)- 47
नोटा – 75
ब्लैंक-37
अवैध- 51
उपाध्यक्ष पद के उम्मीदवार
ऋषिराज यादव ( सीएजेडी)- 216
साकेत मून (लेफ्ट)- 3028
श्रुति अग्निहोत्री ( एबीवीपी)- 1165
नोटा- 484
ब्लैंक- 147
अवैध- 10

महासचिव पद के उम्मीदवार
सबरीना पीए ( एबीवीपी)- 1182
सतीश चंद्र यादव ( लेफ्ट)- 2228
वसीम आरएस (बापसा)- 1070
नोटा- 459
ब्लैंक- 77
अवैध- 10
संयुक्त सचिव पद के उम्मीदवार
मोहम्मद दानिश (लेफ्ट)- 2938
सुमंता कुमार साहू (एबीवीपी)- 1310
नोटा- 634
ब्लैंक – 156
अवैध- 9

रुझानों आने पर लगे नारेः जैसे ही रूझान आने शुरू हुए वैसे ही विश्वविद्यालय में छात्र संगठनों ने डफली बजाना और अपने उम्मीदवारों के लिए नारे लगाना शुरू कर दिया। पिछले साल की अपेक्षा इस साल ज्यादा मत पाने वाले छात्र संगठनों ने भी इसे नैतिक जीत बताते हुए जश्न मनाना शुरू कर दिया। इसके अलावा कुछ संगठन ऐसे भी हैं जिन्होंने इस बात में ही संतुष्टि तलाशी कि उन्होंने वामपंथी छात्र संगठनों को उनके गढ़ में चुनौती दी। बता दें समिति ने कहा कि 6 सितंबर को जारी हुए दिल्ली उच्च न्यायालय के आदेश के अनुसार अंतिम परिणाम की घोषणा पर रोक लगा दी गई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जेएनयूएसयू चुनाव समिति ने डीन ऑफ स्टूडेंट्स से तत्काल मुलाकात का वक्त मांगा है ताकि लिफाफे में परिणाम औपचारिक रूप से जमा किए जाएं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Rajasthan Board RBSE 10th, 12th Supplementary Result 2019: रिजल्‍ट जारी, वेबसाइट पर ऐसे कर सकते हैं चेक
2 BSEB STET 2019: शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए आवेदन शुरू, जानें कैसे करें अप्लाई
3 NTA UGC NET, CSIR-UGC NET Dec 2019 Application Form: यूजीसी नेट के लिए करें आवेदन, जानिए आप कर सकते हैं या नहीं