ताज़ा खबर
 

कटऑफ गिरी तो आरक्षित विद्यार्थी आएंगे अनारक्षित वर्ग में

डीयू की स्थायी समिति की हाल ही में हुई बैठक में फैसला लिया गया है कि अनारक्षित वर्ग यानी सामान्य वर्ग की कटऑफ के नीचे जाते ही आरक्षित वर्ग के विद्यार्थी स्वत: ही अनारक्षित वर्ग में चले जाएंगे।

Author Published on: May 15, 2019 5:47 AM
नए NEET 2019 के क्वालिफाइंग कटऑफ के प्रभावी होने के साथ, मंत्रालय ने सभी राज्य / केंद्रशासित प्रदेशों को संशोधित योग्यता अंकों के आधार पर संशोधित मेरिट सूची तैयार करने को कहा है।

दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) में भले ही पिछले साल के मुकाबले दाखिला प्रक्रिया में देरी हो रही है लेकिन इस साल विश्वविद्यालय प्रवेश प्रक्रिया में कई महत्त्वपूर्ण बदलाव कर रहा है। एक प्रमुख बदलाव के मुताबिक इस साल कटआॅफ नीचे जाने पर आरक्षित वर्ग के तहत दाखिला लेने वाले विद्यार्थी स्वत: ही अनारक्षित वर्ग में चले जाएंगे। दाखिले के लिए बनी स्थायी समिति में इस निर्णय पर मुहर लग चुकी है।

स्थायी समिति के सदस्य डॉक्टर रसाल सिंह ने बताया कि डीयू की स्थायी समिति की हाल ही में हुई बैठक में फैसला लिया गया है कि अनारक्षित वर्ग यानी सामान्य वर्ग की कटआॅफ के नीचे जाते ही आरक्षित वर्ग के विद्यार्थी स्वत: ही अनारक्षित वर्ग में चले जाएंगे। यह नया नियम सभी आरक्षित वर्गों यानी एससी, एसटी, ओबीसी (क्रीमीलेयर) और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (ईडब्लूएस) पर लागू होगा।

डॉक्टर सिंह ने एक उदाहरण देकर बताया कि मान लीजिए किसी कॉलेज की हिंदी ऑनर्स की पहली कटऑफ सामान्य वर्ग के लिए 82 फीसद है जबकि एससी वर्ग के लिए 80 फीसद है। दूसरी कटआॅफ सामान्य वर्ग के लिए 80 फीसद और एससी के लिए 78 फीसद जारी की जाती है। ऐसे में पहली कटआॅफ के आधार पर एससी वर्ग में दाखिला लेने वाला विद्यार्थी अपने आप सामान्य वर्ग में चला जाएगा क्योंकि सामान्य वर्ग की कटआॅफ अब उसी कटआॅफ के बराबर हो गई है। हालांकि जो छात्र अपनी श्रेणी नहीं बदलना चाहेंगे, उनकी श्रेणी नहीं बदली जाएगी।

डॉक्टर सिंह ने कहा कि इससे आरक्षित वर्ग की कटआॅफ तेजी से नीचे आएगी और अधिक आरक्षित वर्गों के विद्यार्थियों का दाखिला हो सकेगा। इससे सामाजिक न्याय सुनिश्चित होगा और आरक्षित वर्गों की न्याय संगत हिस्सेदारी हो सकेगी। सामान्य वर्ग की सीटों पर आरक्षित वर्ग के छात्रों का दाखिला होने के बाद भी उन्हें आरक्षित वर्ग के तहत मिलने वालीं सभी सुविधाएं पहले की तरह मिलती रहेंगी।

ईडब्लूएस के लिए आएंगी अलग कटआॅफ
डीयू में दाखिले के लिए इस साल ईडब्लूएस श्रेणी के लिए अलग कटआॅफ जारी की जाएंगी। केंद्र सरकार की ओर से लागू 10 फीसद ईडब्लूएस कोटे के तहत सभी शिक्षण संस्थानों में कुल 25 फीसद सीटें बढ़ेंगी। डीयू इस साल इसमें से सिर्फ 10 फीसद सीटें ही बढ़ाएगा जबकि 15 फीसद सीटें अगले साल बढ़ाई जाएंगी। डॉक्टर सिंह ने बताया किर ईडब्लूएस कोटे के तहत इस साल डीयू में दाखिले होंगे। इसी के तहत इस साल स्नातक पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए ईडब्लूएस वर्ग के लिए अलग कटआॅफ निकाली जाएंगी।

Next Stories
1 NTA JEE Main Paper 2 Result 2019 @jeemain.nic.in: जईई मेन पेपर 2 रिजल्ट देखने का ये रहा डायरेक्ट लिंक
2 JEE Main Paper 2 Result 2019: आधिकारिक वेबसाइट पर रिजल्‍ट जारी, ये रहा डायरेक्‍ट लिंक
3 RBSE 12th Result 2019 @rajresults.nic.in: कुछ घंटों में आ सकता है रिजल्ट, चेक करने के ये दो ही तरीके
ये खबर पढ़ी क्या?
X