श्रीमद्भगवत कथा के लिए प्रसिद्ध जया किशोरी, जानिए कितनी पढ़ी लिखी हैं

जया किशोरी अपने 7 दिन लंबे श्रीमद्भगवत कथा और 3 दिन लंबी नानी बाई का मायरा की कथा के लिए जानी जाती हैं, जो आध्यात्मिक प्रवचन हैं।

jaya kishori,jaya kishoriEducation,Jaya Kishori Early Life
जया जब सिर्फ 7 साल की थीं, तब उन्होंने कोलकाता में अपने इलाके में बसंत महोत्सव के दौरान आयोजित सत्संग में पहली बार गाया था।

जया किशोरी भारत के प्रसिद्ध कथाकरों में से एक हैं, जो अपनी मोटिवेशनल स्पीच और भजनों के लिए जानी जाती हैं। वह ‘किशोरी जी’ और ‘आधुनिक युग की मीरा’ के नाम से भी प्रसिद्ध हैं। हाल ही में वे अपने नए भजन की वजह से चर्चा में हैं। आईये जानते हैं कितनी पढ़ी हैं जया किशोरी। जया किशोरी का जन्म 13 जुलाई, 1995 को कोलकाता में हुआ था, उनके बचपन का नाम जया शर्मा है। जया एक गौड़ ब्राह्मण परिवार से आती हैं उनके पिता का नाम शिव शंकर शर्मा और उनकी मां का नाम सोनिया शर्मा है। उनकी एक बहन है जिनका नाम चेतना शर्मा है।

उन्होंने अपनी शिक्षा श्री शिक्षणाटन कॉलेज और कोलकाता में महादेवी बिड़ला विश्व अकादमी से की है। उन्होंने ओपन स्कूलिंग के माध्यम से बी.कॉम किया है। स्वामी रामसुखदास और पंडित विनोद कुमार जी सहल के संरक्षण उनकी शिक्षा दीक्षा हुई। जया जब सिर्फ 7 साल की थीं, तब उन्होंने कोलकाता में अपने इलाके में बसंत महोत्सव के दौरान आयोजित सत्संग में पहली बार गाया था। उसके बाद जब वे 10 साल की थीं, उन्होंने अकेले “सुंदर कांड” गाया, जिसे जनता ने पसंद किया और इसके बाद जया किशोरी आगे बढ़ गईं। उन्होंने 20 से अधिक एल्बमों को अपनी आवाज दी है। उनके कुछ एल्बम हैं- शिव स्तोत्र, ‘सुंदरकांड, ‘ श्याम थारो खाटू प्यारो,  दीवानी हैं श्याम के।

वे अपने 7 दिन लंबे श्रीमद्भगवत कथा और 3 दिन लंबी नानी बाई का मायरा की कथा के लिए जानी जाती हैं, जो आध्यात्मिक प्रवचन हैं। उन्होंने 350 से अधिक ऐसे प्रवचन आयोजित किए हैं। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार वे अपनी फीस का ज्यादातर हिस्सा नरायण सेवा संस्थान को में दान कर देती हैं। जया किशोरी ने 19 सितंबर 2018 को एंड्रॉइड और आईओएस डिवाइसों के लिए “जया किशोरी जी ऑफिशियल ऐप” नाम से अपना ऑफिशियल ऐप जारी किया। इस ऐप में उनके भजनों और कथा सहित सभी जानकारी शामिल है।

पढें एजुकेशन समाचार (Education News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
BARC:OCES DGFS 2016 के परिणाम घोषित, barconlineexam.in पर देखें नतीजेbarc result, barc result 2016, barc, barc oces result, barc oces result 2016, barc oces dgfs exam result, BARC OCES DGFS Result
अपडेट