ताज़ा खबर
 

दिल्ली यूनिवर्सिटी के टीचर्स क्यों लिख रहे हैं छात्रों और उनके पैरेंट्स को पत्र? जानिये पूरा मामला

अंतिम उपाय के रूप में, हमने 11.03.2021 से हड़ताल शुरू की। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारे सही वेतन बकाया के लिए हमारी लड़ाई में हमारा समर्थन करें।

इस पत्र में उन्होंने लिखा कि दिल्ली विश्वविद्यालय के 12 कॉलेजों के शिक्षकों पूरी तरह से दिल्ली सरकार द्वारा वित्त पोषित हैं। (प्रतीकात्मक फोटो)

दिल्ली विश्वविद्यालय के हजारों शिक्षक पिछले छह महीनों से वेतन का भुगतान नहीं करने के विरोध में गुरुवार को हड़ताल पर चले गए। दिल्ली विश्वविद्यालय शिक्षक संघ (DUTA) द्वारा मंगलवार को दिल्ली डीयू के 12 कॉलेजों के 100 कर्मचारियों, जो कि दिल्ली सरकार द्वारा 100 प्रतिशत वित्त पोषित हैं, उनका आरोप है कि उन्होंने छह महीने से अधिक समय से सैलरी नहीं मिली है।

इसको लेकर दिल्ली यूनिवर्सिटी के टीचर्स ने छात्रों और पैंरेंट्स को एक पत्र भी लिखा। इस पत्र में उन्होंने लिखा कि दिल्ली विश्वविद्यालय के 12 कॉलेजों के शिक्षकों पूरी तरह से दिल्ली सरकार द्वारा वित्त पोषित हैं, पिछले एक साल से उन्हें परेशान किया जा रहा है।

जब बाकी दुनिया नागरिकों की अतिरिक्त देखभाल कर रही थी, हम 2500 कर्मचारियों और उनके परिवारों को हमारे उचित हक का भुगतान किए बिना काम करने के लिए मजबूर होना पड़ा। अंतिम उपाय के रूप में, हमने 11.03.2021 से हड़ताल शुरू की। हम आपसे अपील करते हैं कि हमारे सही वेतन बकाया के लिए हमारी लड़ाई में हमारा समर्थन करें। ताकि हमारा परिवार इस महामारी के दौर में संभल सके और हम अपने छात्रों और कर्मचारियों को कॉलेज में उनके नियमित काम पर ध्यान केंद्रित कर सकें।

इसके अलावा उन्होंने कई तरह की परेशानियों से इस पत्र के द्वारा अवगत कराया। DUTA द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है, “DUTA 15 मार्च को VC ऑफिस से CM आवास तक ‘अधिकार रैली’ और 18 मार्च को VC ऑफिस से LG ऑफिस के लिए एक रैली निकालेगा।

Next Stories
1 पिता लगाते हैं चाट का ठेला, बेटे ने जेईई मेंस में रचा कीर्तिमान
2 NEET 2021: NTA के डीजी ने किया साफ साल में कितनी बार होगा नीट
3 BTE UP Admit Card 2021: बीटीई यूपी एडमिट कार्ड 2021 जारी, ऐसे करें डाउनलोड
ये पढ़ा क्या?
X