ताज़ा खबर
 

Kejriwal का नया प्लान: स्किल यूनिवर्सिटी खोलेगी दिल्ली सरकार, जॉब के हिसाब से होगा कोर्स

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि विदेशों में इस तरह के विश्वविद्यालय चल रहे हैं। दिल्ली सरकार ने वैश्विक मॉडल्स का अध्ययन किया था। फिनलैंड, ब्राजील, सिंगापुर जाकर उनके कैंपस को देखा गया।

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरिवाल एवं डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

देश- विदेश में उद्योगों और नौकरियों की वर्तमान जरूरतों के हिसाब से दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार ने स्किल एंड आंत्रप्रन्योरशिप यूनिवर्सिटी खोलने की घोषणा की है। इस यूनिवर्सिटी में डिप्लोमा और सर्टिफिकेट प्रोग्राम से लेकर डिग्री और रिसर्च तक की पढ़ाई की सुविधा दी जाएगी। इस यूनिवर्सिटी में 6 महिने से लेकर दो साल तक के कोर्स होंगे। इन कोर्स को पूरा करने के बाद छात्र नौकरी के अलावा आगे रिसर्च भी कर सकते है। इस यूनिवर्सिटी के लिए दिल्ली कैबिनेट से सोमवार (14 अक्टूबर) को औपचारिक रूप से मंजूरी प्राप्त हो गई । इस प्रस्ताव को अब उपराज्यपाल के पास भेजा जाएगा। उनकी मंजूरी के बाद इस यूनिवर्सिटी की स्थापना से जुड़े बिल को विधानसभा के शीतकालीन सत्र में पास कर सरकार को भेजा जाएगा। यदि सब कुछ ठीक रहा तो यह यूनिवर्सिटी एक साल में अपने अस्तित्व में आ जाएगी।

दिल्ली के छात्रों को लिए 85 प्रतिशत सीटें होगी आरक्षित: दरअसल सोमवार ( 14 अक्टूबर) को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने प्रेस कॉफ्रेस कर इस फैसले की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि यूनिवर्सिटी में 85 प्रतिशत सीटें दिल्ली के रहनेवाले लोगों के बच्चों के लिए आरक्षित रहेंगी। देश में इस तरह की पहली यूनिवर्सिटी होगी, जिसमें समय के साथ-साथ होने वाले बदलावों को भी ध्यान में रखकर कोर्स और कैरिकुलम में भी बदलाव किया जाता रहेगा। साथ ही इस बात पर यूनिवर्सिटी ज्यादा जोर देगी की इसमें पढ़ने वाले हर छात्र को अच्छी से अच्छी नौकरी प्राप्त हो सके।

National Hindi News, 15 October 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

आईटीआई, पॉलटेक्निक कॉलेज को इसके साथ जोड़ा जाएगा:   इस यूनिवर्सिटी के शुरू होने के बाद दिल्ली के सभी आईटीआई, पॉलटेक्निक कॉलेज और स्किल डिवेलपमेंट सेंटर इस यूनिवर्सिटी के साथ मर्ज किया जाएगा। इससे फायदा यह होगा कि 10वीं – 12वीं करने वाले स्कूली बच्चे भी स्किल आधारित कोर्स यहां से करके नौकरी के लिए तैयार हो सकेंगे। इसके साथ ही उनके पास आगे चलकर डिग्री लेने का विकल्प भी मौजूद रहेगा।

विधानसभा चुनाव 2019 Live Updates: उद्धव ठाकरे की रैली के लिए तोड़ दी स्कूल की दीवार, परीक्षा की डेट भी बदल दी

अन्य देशों की यूनिवर्सिटीज के साथ जोड़ा जाएगा:  बता दें कि इस यूनिवर्सिटी का मुख्यालय ओखला स्थित टेली टूल इंजीनियरिंग कॉलेज में स्थापित किया जाएगा। इसके कोर्स को डिजाइन करने और फैकल्टी मेंबर्स की नियुक्ति व फीस आदि के नियमों को निर्धारण करने के लिए एक विशेषज्ञों की टीम बनाई जाएगी। सीएम अरविंद केजरीवाल ने बताया कि इस यूनिवर्सिटी का कई अन्य देशों की यूनिवर्सिटीज, उच्च शिक्षण संस्थानों और सरकारो के साथ टाईअप रहेगा। ट्रेड और इंडस्ट्रीज से जुड़े संस्थाओं और संगठनो को उसके साथ जोड़ा जाएगा। ताकि उनके जरूरतों के हिसाब से युवाओं को यहां तैयार किया जा सके। सिसोदिया ने बताया कि मार्केट रिसर्च कर लगातार कोर्स को जरूरत के हिसाब से बदला जाएगा।

कई देशों में चल रही ऐसी यूनिवर्सिटी: दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि विदेशों में इस तरह के विश्वविद्यालय चल रहे हैं। दिल्ली सरकार ने वैश्विक मॉडल्स का अध्ययन किया था। फिनलैंड, ब्राजील, सिंगापुर जाकर उनके कैंपस को देखा गया। उद्योग की आवश्यकता के अनुसार वह प्रशिक्षित युवा तैयार करते हैं। दिल्ली सरकार वैश्विक विश्वविद्यालयों से भी गठजोड़ करेगी।

Next Stories
1 RRB NTPC: परीक्षा से इतने दिन पहले जारी होंगे एडमिट कार्ड, देखें पूरी जानकारी
2 RRB: आरआरबी ने एक्टिवेट किया था लिंक, आपने चेक किया या नहीं अपना एप्लिकेशन स्टेटस
3 Sarkari Naukri-Result 2019 Notification: केंद्र और राज्य सरकार के इन विभागों में चल रही भर्ती, जानिए कैसे करें अप्लाई
ये पढ़ा क्या?
X