ताज़ा खबर
 

बिहार में इसी महीने होनी थी 11,865 पोस्ट पर कॉन्स्टेबल की बहाली, चयन बोर्ड ने रद्द कर दी भर्ती

लगभग 11 लाख उम्मीदवारों ने पदों के लिए आवेदन किया था, जिनमें से 8.6 लाख उम्मीदवारों के आवेदन पत्रों को एरर लैस पाया गया था और आगामी परीक्षा में भाग लेने के लिए निर्धारित किया गया था।

इन खाली पड़े पदों के लिए आवेदन करने की आखरी तारीख 30 जून थी।

सेंट्रल सिलेक्शन बोर्ड कॉन्सटेबल (CSBC) ने बिहार पुलिस और बिहार फायर सर्विस में 11,865 पदों की रिक्तियों को भरने के होने वाली परीक्षा और पूरी भर्ती प्रक्रिया को रद्द कर दिया है। सूत्रों ने कहा कि राज्य पुलिस मुख्यालयों के निर्देशों पर परीक्षा और भर्ती प्रक्रिया को रद्द कर दिया गया है। इससे 25 नवम्बर और 2 दिसम्बर को होने वाली लिखित परीक्षा अब नहीं होगी। सूत्रों के मुताबिक पटना पुलिस लाइन में हुए बवाल को देखते हुए सरकार ने सिपाही और फायरमैन की परीक्षा को रद्द करने का निर्णय लिया है। बताया जाता है कि वर्तमान में सिपाही बहाली का जो मापदंड है उसमें बदलाव किया जाएगा। यह बदलाव क्या होगा यह अभी तय नहीं है, पर प्रक्रियात्मक बदलाव के बाद ही दोबारा से बहाली का विज्ञापन निकाला जाएगा।

सीएसबीसी के सूत्रों के मुताबिक, लगभग 11 लाख उम्मीदवारों ने पदों के लिए आवेदन किया था, जिनमें से 8.6 लाख उम्मीदवारों के आवेदन पत्रों को एरर लैस पाया गया था और आगामी परीक्षा में भाग लेने के लिए निर्धारित किया गया था। एक लाख 96 हजार 856 आवेदनों को फीस जमा नहीं करने के कारण रद्द कर दिया गया था। वहीं तकनीकी खामियों की वजह से भी 13 हजार 785 आवेदनों को रद्द कर दिया गया था। सीएसबीसी द्वारा राज्य पुलिस और बीएफएस के लिए कुल मिलाकर 9,900 कांस्टेबल और 1965 फायरमैन भर्ती करने थे, जिसके लिए उन्होंने इस साल 29 अक्टूबर को प्रवेश पत्र भी जारी किए थे।

इन खाली पड़े पदों के लिए आवेदन करने की आखरी तारीख 30 जून थी। इस परीक्षा में आवेदन के लिए जनरल और ओबीसी कैटोगरी के कैंडिडेट्स को 450 रुपये और एससी/एसटी कैंडिडेट्स को 112 रुपए की फीस देनी थी। कॉन्स्टेबल भर्ती बोर्ड ने इस साल 25 मई को भर्ती के लिए विज्ञापन प्रकाशित किया था जिसके बाद भर्ती के लिए सभी प्रक्रियाओं का पालन किया गया था। सूत्रों के मुताबिक मुख्यालय से खाली पदों के लिए एक नई मांग भेजने के बाद पूरी भर्ती प्रक्रिया के लिए अगला कार्यक्रम शुरू किया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App