ताज़ा खबर
 

परामर्श: हमेशा बेहतर प्रदर्शन करने के बारे में सोचें स्टूडेंट्स, इन बातों का रखें ध्यान

प्रतिस्पर्धा के इस दौर में कई बार पढ़ाई और नौकरी में मनचाहे अवसर नहीं मिल पाते। लेकिन अपनी योग्यता के अनुरूप विकल्प खोजने की कोशिश अवश्य करें। निराश न हों, बल्कि कहीं और भी नजर दौड़ाकर दूसरे अवसर ढूंढें।

Author April 26, 2018 5:28 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर।

हर व्यक्ति के चेहरे और रूप-रंग की तरह ही प्रत्येक व्यक्ति का दिमाग भी अलग-अलग रुचियों और क्षमताओं वाला होता है। स्कूल या कॉलेज में भी विभिन्न क्षमताओं वाले छात्र दाखिले लेते हैं। कुछ पढ़ने में बहुत तेज होते हैं, तो कुछ पढ़ाई में कम रुचि रखने वाले भी होते हैं। छात्रों के इन दो वर्गों के बीच भी कुछ विद्यार्थी ऐसे होते हैं, जो पढ़ाई के प्रति गंभीर होकर भी बेहतर प्रदर्शन नहीं कर पाते। ऐसे विद्यार्थी बेहतर प्रदर्शन करने और प्रशंसा पाने के लिए पूरा प्रयत्न करते हैं लेकिन कई बार बहुत कोशिशों के बावजूद वे मनचाही उपलब्धि हासिल नहीं कर पाते। उन पर शिक्षकों की नजर तो होती है लेकिन उनसे बहुत अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद नहीं होती। नतीजा ऐसे छात्रों में निराशा और भविष्य को लेकर चिंता घर करने लगती है। इन सब परिस्थितियों के बीच दिक्कत होना स्वाभाविक है लेकिन औसत विद्यार्थी होने का मतलब यह बिल्कुल नहीं है कि आपका भविष्य उज्ज्वल नहीं होगा। ऐसे विद्यार्थियों को कल की चिंता छोड़कर अपनी कोशिशों पर ध्यान केंद्रित करते हुए कुछ अहम बातों पर ध्यान देना चाहिए।

सकारात्मकता पर रखें ध्यान
हमारी कमियां कहां रहीं, सिर्फ यह देखने के बजाए कहां अच्छा प्रदर्शन किया इस पर भी गौर करें। औसत विद्यार्थी पढ़ाई के लिए गंभीरता रखते हैं और आगे बढ़ने के मौके तलाशते हैं। यही सकारात्मकता उन्हें कामयाब बनाती है।

विफलता के लिए खुद को जिम्मेदार न ठहराएं
कड़ी मेहनत करने पर भी अपेक्षित परिणाम न मिलने से निराशा होना स्वाभाविक है, लेकिन कई बार अन्य परिस्थितिजन्य कारणों से भी सफलता हाथ नहीं लगती। इसके लिए खुद को जिम्मेदार न ठहराएं और स्थिति का आकलन करें। अगर मेहनत करना छोड़ देंगे, तो सफलता की संभावना शून्य रह जाएगी।

क्षमताओं को बढ़ाएं
अपने प्रदर्शन से सकारात्मक असंतुष्टि दिखाते हुए अपनी क्षमताओं को बढ़ाने का प्रयास भी करते रहना चाहिए। कहां खामी रह गई है, इस बात का पता लगाते हुए उन्हें दूर करने पर काम करें।

गतिविधियों में लें भाग
विद्यार्थियों की स्कूल या कॉलेज में होने वाली गतिविधियों में भाग लेने का मन होता है लेकिन कुछ छात्र शर्म और हार के डर से पीछे हट जाते हैं। अगर आप में भी यह आदत है तो उसे पीछे छोड़कर अच्छा प्रदर्शन करने वाले छात्रों के साथ मेलजोल बढ़ाएं। इससे आप अपनी कमियों को जान पाएंगे और खुद को बेहतर बना पाएंगे।

दूसरे अवसर खोजें
प्रतिस्पर्धा के इस दौर में कई बार पढ़ाई और नौकरी में मनचाहे अवसर नहीं मिल पाते। लेकिन अपनी योग्यता के अनुरूप विकल्प खोजने की कोशिश अवश्य करें। निराश न हों, बल्कि कहीं और भी नजर दौड़ाकर दूसरे अवसर ढूंढें।

अपनी रुचि पर दें ध्यान
कुछ छात्र किसी खास विषय में बहुत अच्छा प्रदर्शन करते हैं और कुछ में थोड़ा पीछे रह जाते हैं। ऐसा होने पर परेशान न हों। अपनी रुचि को छोड़कर हर विषय के पीछे भागना न शुरू कर दें।

प्रस्तुति : युवा शक्ति डेस्क

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App