ताज़ा खबर
 

CBSE Class 9th to 12th Syllabus 2020-21: COVID-19 के चलते कम होगा CBSE क्लास 9वीं से 12वीं तक का सिलेबस? जानें वायरल खबर का सच

CBSE Class 9th to 12th Syllabus 2020-21: केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने लॉकडाउन के दौरान छात्रों को व्यस्त रखने, डिप्रेशन से बचाने और शिक्षा देने के लिए वैकल्पिक शैक्षणिक कैलेंडर को लॉन्च किया है।

Author Updated: April 19, 2020 6:57 PM
cbse syllabus, cbse syllabus 2020 21, cbse exam date 2020, cbse exam date 2020 class 10, cbse exam date 2020 class 12बोर्ड 01 जुलाई से परीक्षा आयोजित करने की तैयारी पूरी कर चुका है।(प्रतीकात्मक तस्वीर)

CBSE Class 9th to 12th Syllabus 2020-21: वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के कारण देश में 03 मई तक लॉकडाउन लागू है। लगभग सभी राज्य सरकारों ने कक्षा 1 से 8वीं तक के छात्रों अगली कक्षा में प्रमोट कर दिया है, कुछ राज्यों में 9वीं और 11वीं के छात्रों को मूल्यांकन प्रक्रिया के बाद अगली क्लास में प्रमोट किया जा रहा है। सीबीएसई बोर्ड, यूपी बोर्ड, बिहार बोर्ड समेत अन्य राज्यों के बोर्ड एग्जाम स्थगित कर दिए गए हैं। फिलहाल एक ओर बोर्ड के री-एग्जाम की तारीखों का ऐलान होना बाकी है वहीं दूसरी ओर अगले शैक्षणित सत्र 2020-21 की भी तैयारी की जानी है। लेकिन ऐसे में सीबीएसई बोर्ड द्वारा कक्षा 9वीं, 10वीं, 11वीं और 12वीं के सिलेबस को कम करने की खबर इंटरनेट पर वायरल हो रही है। वायरल हो रही खबरों के मुताबिक, कक्षा 1 से 8वीं तक के लिए एक शैक्षणिक कैलेंडर जारी किया गया है और 9वीं से 12वीं तक का सिलेबस कम कर दिया गया है। आइए जानते हैं इस खबर में कितनी सच्चाई है।

दरअसल, कोरोनोवायरस COVID-19 महामारी के कारण लॉकडाउन के चलते महीनों से कक्षाएं निलंबित थीं, जिसके बाद राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (NCERT) ने लॉकडाउन के दौरान छात्रों को व्यस्त रखने, डिप्रेशन से बचाने और शिक्षा देने के लिए वैकल्पिक शैक्षणिक कैलेंडर तैयार किया है। इस कैलेंडर को केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) से चर्चा करने के बाद केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने लॉन्च किया है। यह कैलेंडर शिक्षकों को विभिन्न तकनीकी उपकरणों और सोशल मीडिया टूल्स का उपयोग करने के लिए दिशा-निर्देश प्रदान करता है, जो मज़ेदार, दिलचस्प तरीकों से शिक्षा प्रदान करने के लिए उपलब्ध हैं, जिनका उपयोग शिक्षार्थी घर बैठे भी कर सकते हैं। फिलहाल, कैलेंडर चार सप्ताह के लिए तैयार किया गया है और आगे हालात पर गौर करने के बाद इसे बढ़ाया जा सकता है।

इसके बाद, सीबीएसई बोर्ड द्वारा 9वीं से 12वीं तक के पाठ्यक्रम को कम किए जाने की खबरों ने इंटरनेट पर तूल पकड़ लिया है। लेकिन असल में फिलहाल ऐसा कोई फैसला नहीं लिया गया है और एचआरडी मिनिस्टर द्वारा लॉन्च शैक्षणित कैलेंडर में भी इस बात का जिक्र नहीं किया गया है। हालांकि, सरकार को शिक्षा में गुणात्मक सुधार की सलाह देने वाले स्वायत्त संगठन एनसीआरटी ने सीबीएसई के सामने कक्षा 9 से 12वीं के पाठ्यक्रम को ‘युक्तिसंगत’ बनाने का विकल्प रखा है लेकिन इसे लेकर अभी कोई फैसला नहीं लिया गया है। सीबीएसई के एक अधिकारी के मुताबिक ‘एनसीईआरटी 1-8 के लिए संशोधित गतिविधियों के कैलेंडर के साथ सामने आया है, सीबीएसई 9-12 की कक्षाओं के लिए पाठ्यक्रम को युक्तिसंगत बनाने के लिए स्थिति और समय की हानि का आकलन कर रहा है और इसके बारे में जल्द सूचित किया जाएगा।’ बता दें कि, भारत में नॉवेल कोरोनावायरस महामारी का प्रकोप जारी है, इसे फैलने से रोकने के लिए देश में दूसरी बार लॉकडाउन लागू है। 14 अप्रैल को लॉकडाउन की समय सीमा बढ़ाकर 03 तक कर दी गई है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Bihar Board 10th Result 2020: 10वीं के बिहार बोर्ड के रिजल्ट का है इंतजार, घर बैठे बिना इंटरनेट भी कर सकेंगे चेक
2 RRB NTPC: आरआरबी एनटीपीसी के एडमिट कार्ड, इन स्टेप्स के बाद मिल जाएगी रेलवे में नौकरी
3 HRD मिनिस्टर रमेश पोखरियाल ने बताया कब हो सकती है JEE-Main, NEET के लिए कही ये बात
IPL 2020 LIVE
X