ताज़ा खबर
 

CBSE Class 12th Chemistry Paper 2019 Analysis: जानें प्रश्नपत्र पर छात्रों और शिक्षकों की पहली राय

CBSE Class 12th Chemistry Paper 2019 Analysis: विशेषज्ञों ने प्रश्नपत्र का बारीकी से अध्ययन किया और पेपर के लिए अपनी समीक्षा और विश्लेषण साझा किया। शिक्षकों और विशेषज्ञों ने बताया मिलकर प्रश्नपत्र सामान्य से थोड़ा ज्यादा मुश्किल था।

12वीं की बोर्ड परीक्षाएं 15 फरवरी से शुरू हो चुकी हैं।

CBSE Class 12th Chemistry Paper 2019 Analysis: CBSE बोर्ड कक्षा 12वीं की रसायन विज्ञान बोर्ड परीक्षा आज थी। परीक्षा दोपहर 1:30 बजे समाप्त हो गयी। विशेषज्ञों ने प्रश्नपत्र का बारीकी से अध्ययन किया और पेपर के लिए अपनी समीक्षा और विश्लेषण साझा किया। शिक्षकों और विशेषज्ञों ने बताया मिलकर प्रश्नपत्र सामान्य से थोड़ा ज्यादा मुश्किल था। उन्होंने बताया कि कुछ सेटों का कठिनाई स्तर दूसरे की तुलना में अधिक था।

परीक्षा की शुरुआत में छात्रों में एक घबराहट थी क्योंकि बोर्ड द्वारा लॉग टेबल्स की अनुमति नहीं थी। हालांकि, बोर्ड ने तेजी से कार्रवाई की और स्कूलों को एक अधिसूचना भेजी, जिसमें उन्हें छात्रों को लॉग टेबल उपलब्ध कराने के लिए कहा गया । कुछ रिपोर्टों से पता चलता है कि कुछ छात्रों को लॉग टेबल नहीं मिला, जिसके कारण उन्हें परीक्षा के दौरान परेशानी उठानी पड़ी।

पेपर के लिए पहली प्रतिक्रिया यह थी कि यह आसान था लेकिन थोड़ा लंबा था। हालांकि अधिकांश छात्रों ने बताया कि वे अपनी परीक्षा पूरी करने में सक्षम थे। छात्रों ने दो सेटों के बीच कठिनाई स्तर में फर्क होने की बात कही। भौतिकी के पेपर की तुलना में, पेपर आसान था। अधिकांश छात्रों को अच्छे मार्क्स स्कोर करने का भरोसा था।

खुद प्रश्न पत्र हल करने वाले शिक्षकों और विशेषज्ञों ने भी इसे अपेक्षाकृत आसान कहा। कुछ सवाल थे जिनमें लंबी कैलकुलेशन की आवश्यकता थी, लेकिन ऐसे प्रश्न ज्यादा नहीं थे। कुछ विशेषज्ञों ने बताया कि दिल्ली में सेट 1, सेट 2 की तुलना में कठिन था। पंचकूला क्षेत्र में, सेट 3 को अन्य दो सेटों की तुलना में कठिन कहा गया।

यहां ध्यान देने लायक बात है, कि यदि प्रश्न पत्र के सेटों का कठिनाई स्तर अलग अलग होता है, तो बोर्ड सभी छात्रों के स्कोर को सामान्य करने के लिए उचित उपाय करता है। शिक्षकों ने टिप्पणी की है कि फीडबैक में वे प्रश्न पत्रों के कठिनाई स्तर को सूचीबद्ध करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App