ताज़ा खबर
 

आसान था CBSE 10th का इंग्लिश का पेपर, लेकिन इस सेक्शन को लेकर रहा असमंजस, टीचर बोले…

तीन घंटे की परीक्षा सुबह 10:30 बजे शुरू हुई। इसमें तीन सेक्शन रीडिंग, राइटिंग और लिटरेचर शामिल थे। यह एग्जाम 80 नंबर का था।

अधिकांश छात्रों द्वारा ग्रामर पार्ट को आसान पाया गया।

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने कक्षा 10 के छात्रों के लिए शनिवार, 23 मार्च, 2019 को अंग्रेजी की परीक्षा का आयोजन किया। अंग्रेजी की परीक्षा में छात्रों और शिक्षकों दोनों से समान प्रतिक्रिया मिली है। जबकि कुछ ने परीक्षा को पिछले साल की तुलना में आसान बताया है, जबकि कई ने साहित्य के हिस्से को कठिन बताया है। अधिकांश छात्रों द्वारा ग्रामर पार्ट को आसान पाया गया। स्टूडेंट्स से मिली प्रतिक्रियाओं के आधार पर, साहित्य का पार्ट कई स्टूडेंट्स को परेशान करने वाला था।

द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक अमेटी इंटरनेशनल स्कूल, पुष्प विहार के एक अंग्रेजी के टीचर ने बताया कि लिटरेचर में ऐप्लीकेशन-आधारित प्रश्न पूछे गए थे। “ग्रामर सीधा सीधा था और यहां तक कि राइटिंग सेक्शन में भी आसान प्रश्न पूछे गए थे। उपन्यास पर आधारित आठ अंकों का प्रश्न ऐप्लीकेशन आधारित था और छात्रों को कुछ समय उत्तर देने में लगाना पड़ सकता था। कुल मिलाकर, परीक्षा को आसान कहा जा सकता है और ज्यादा नंबर लाने वाले स्टूडेंट्स की संख्या बढ़ सकती है, लेकिन आसान पेपर को देखते हुए मार्किंग में सख्ती बरती जा सकती है।

नीलू जावला, कॉर्डिनेटर अंग्रेजी, विद्याज्ञान, बुलंदशहर ने कहा, “लिटरेचर सेक्शन में लगभग सभी चेप्टर शामिल थे। पिछले सालों की तुलना में जहां अधिकांश प्रश्न सीधे तौर पर चरित्र रेखाचित्र आदि पर आधारित थे। इस साल के प्रश्नपत्र में प्रश्न राय आधारित थे और कुछ छात्रों को यह समझने में समय लग सकता है कि वास्तव में प्रश्न क्या है।” वह आगे कहती हैं, “अगर एक छात्रा ने एनसीईआरटी को अच्छी तरह से पढ़ा है और बुनियादी समझ सही है, तो उन्हें कोई दिक्कत नहीं हुई होगी।”

तीन घंटे की परीक्षा सुबह 10:30 बजे शुरू हुई। इसमें तीन सेक्शन रीडिंग, राइटिंग और लिटरेचर शामिल थे। यह एग्जाम 80 नंबर का था। 10वीं क्लास के लिए कुल 31,14,831  स्टूडेंट्स ने रजिस्ट्रेशन कराया था इसमें 1819077 लड़के और 1295754 लड़कियां हैं। इस साल 28 ट्रांसजेंडर स्टूडेंट्स भी एग्जाम दे रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App